चेहरे पर एलर्जी और रैशेज के पीछे कहीं आपका इम्यून सिस्टम तो नहीं? जानें स्किन एलर्जी के 2 प्रकार और 5 उपाय

स्किन एलर्जी को कभी भी नजरअंदाज न करें। इसके लक्षण भले ही आपको हल्के नजर आते हों, पर ये गंभीर परेशानियां भी पैदा कर सकता है।

Pallavi Kumari
Written by: Pallavi KumariPublished at: Dec 07, 2020
चेहरे पर एलर्जी और रैशेज  के पीछे कहीं आपका इम्यून सिस्टम तो नहीं? जानें स्किन एलर्जी के 2 प्रकार और 5 उपाय

चेहरे पर एलर्ज अक्सर धूल, मिट्टी, प्रदूषण और स्किन डिसऑर्डर  के कारण होती है। पर ये सभी इसके गंभीर कारणों में से एक नहीं है। दरअसल, स्किन एलर्जी के पीछे कुछ एलर्जेन तत्वों के अलावा हमारे इम्यून सिस्टम और  इम्यून सेंसिटिविटी की भी एक बड़ी भूमिका होती है। जैसे कि किसी चीज के खाने के बाद शरीर का रिएक्शन,  घर में रहने वाले पालतू जानवर और पेड़ पौधे से निकलने वाले एलर्जेन के प्रति इम्यून सिस्टम का रिएक्शन और स्किन से जुड़ी विभिन्न स्थितियां। स्किन एलर्जी के इन तमाम कारणों के बारे में विस्तार से जानने के लिए  हमने डर्मेटोलॉजिस्ट और सौंदर्य चिकित्सा चिकित्सक डॉ. अजय राणा से बात की, जो कि  ILAMED के संस्थापक और निदेशक भी हैं।

insideskinallergyonface

स्किन एलर्जी क्या है?

डॉ. अजय राणा बताते हैं कि सरल शब्दों में अगर स्किन एलर्जी को समझें, तो एलर्जी शरीर का बिलकुल वैसा ही रिएक्शन है, जो कि शरीर में तब भी देखी जाती है जब व्यक्ति को किसी चीज के खाने, सूंघने और छूने से सेंसिटिविटी महसूस होती है। दरअसल, ऐसी कोई भी चीज को शरीर में सेंसिटिविटी को ट्रिगर करती है और हम असहज होने लगते हैं, उसे एलर्जेन (allergen) कहा जाता है। हमारा शरीर किसी भी एलर्जेन को बाहरी या हानिकारक चीज के रूप में देखता है। फिर इसके खिलाफ शरीर प्रतिक्रिया देता है, जिसे हम एलर्जी के लक्षणों के रूप में देखते हैं। डॉ. अजय राणा  कहते हैं कि शरीर के किसी भी हिस्से पर एलर्जी की प्रतिक्रिया हो सकती है। आपकी त्वचा से जुड़ी एलर्जी के लिए चेहरा एक बहुत ही सामान्य साइट है। क्योंकि चेहरे की त्वचा अन्य जगहों की तुलना में अधिक संवेदनशील होती है। इसके अलावा चेहरे पर विभिन्न प्रकार के क्रीम और अन्य उत्पादों का इस्तेमाल भी रैशेज, खुजली और एलर्जी को ट्रिगर करता है।

स्किन एलर्जी के प्रकार (types of skin allergy)

डॉ. अजय राणा के अनुसार स्किन एलर्जी के मुख्य रूप से दो प्रकार होते हैं।

1.इरिटेंट कॉन्टैक्ट डर्मेटाइटिस  (irritant contact dermatitis) 

पहला जो त्वचा पर किसी प्रोडक्ट से होने वाली एलर्जी के कारण होती है। इसमें त्वचा कुछ चीजों के संपर्क में आकर एलर्जी की प्रतिक्रिया देती है। इसमें किसी भी प्रकार के  एलर्जेन के कॉन्टैक्ट में आकर त्वचा में सूजन, रैशज और रेडनेस आ जाती है। इसके कुछ गंभीर लक्षणों को देखें, तो इसमें 

  • -हमारी त्वचा जल सकती है या त्वचा में जलन
  • -खुजली हो सकती है 
  • -त्वचा लाल हो सकती है, खास कर वहां जहां हमने उत्पाद का उपयोग किया है।
  • -कुछ लोगों को इसे होने पर फफोले आदि भी पड़ सकते हैं और उनमें जलन महसूस हो सकती है

2.एलर्जिक कॉन्टैक्ट डर्मेटाइटिस (allergic contact dermatitis)

चेहरे पर अन्य प्रकार की त्वचा की एलर्जी में वास्तव में आपकी प्रतिरक्षा प्रणाली शामिल होती है। इसे एलर्जिक कॉन्टैक्ट डर्मेटाइटिस कहा जाता है। इसमें एलर्जी की प्रतिक्रिया देने में इम्यून सिस्टम की बड़ी भूमिका होती है।  एलर्जिक कॉन्टैक्ट डर्मेटाइटिस के लक्षणों की बात करें, 

  • - इसके कारण चेहरे में सूजन हो जाती है
  • -चेहरे में रेडनेस यानी कि लालिमा
  • -खुजली
  • -पित्ती की परेशानी
  • -कई बार इसमें चेहरे की त्वचा कच्ची और लाल हो जाती है।

इसे भी पढ़ें : तापसी पन्नू के 5 ब्यूटी सीक्रेट्स जिन्हें अपना कर आप भी पा सकती हैं फ्लॉलेस त्वचा

स्किन एलर्जी के कारण (causes of skin allergy)

एलर्जी की प्रतिक्रिया आम तौर पर तब होती है जब, हमारा इम्यून सिस्टम किसी खतरनाक पदार्थ जैसे कि भोजन या किसी पोलन (pollen) के खिलाफ लड़ने की कोशिश करता है।  दरअसल, जब हमारा इम्यून सिस्टम किसी एलर्जेन का पता लगाती है, तो यह इम्युनोग्लोबुलिन नामक एक एंटीबॉडी का उत्पादन करती है। यह त्वचा को शरीर में हिस्टामाइन नामक एक रसायन बनाने का कारण बनता है। यह एक एलर्जी प्रतिक्रिया के प्रमुख लक्षणों में अधिकांश का कारण बनता है। चेहरे पर सभी एलर्जी की प्रतिक्रियाएं मुख्य रूप से किसी ऐसी चीज से होती हैं, जिसे खाया, सांस लिया गया हो या रगड़ दिया गया हो। जब यह किसी पदार्थ के सीधे संपर्क के बाद प्रतिक्रिया करता है, तो इसे  इरिटेंट कॉन्टैक्ट डर्मेटाइटिस  की सूजन कहा जाता है और यह हाथों और चेहरे पर बहुत आम है। साथ ही स्किन एलर्जी के कई और कारण भी होते हैं। जैसे कि

  • - साबुन
  • - डिटर्जेंट
  • -टॉयलेटरीज़ (toiletries)
  • - मेकअप 
  • - सौंदर्य उत्पादों
  • - मेटल के गहने
  • -लेटेक्स और रबर से
  • - सॉल्वैंट्स या रसायनों से
  • -धूल और मिट्टी से
  • - पौधों के संपर्क में आने के बाद भी चेहरे पर एलर्जी की प्रतिक्रिया दिखाई दे सकती है।

इन सबके अलावा कई गैर-मौसमी एलर्जी धूल के कण (डस्ट एलर्जी) के कारण भी स्किन एलर्जी होती है। जैसे कि कुछ सूक्ष्म कीड़े हैं जो बेड, कालीन और नरम चीजों में रहते हैं, मोल्ड और फंगस, मूत्र, लार और जानवरों के मृत त्वचा के गुच्छे द्वारा भी ये स्किन एलर्जी हो सकती है। कई फूड एलर्जी प्रतिरक्षा प्रणाली द्वारा किसी विशेष भोजन या घटक के गलत तरीके से प्रतिक्रिया करने के कारण होती है।

insideskinallergytypes

स्किन एलर्जी कैसे दूर करें? (ways to treat skin allergies)

स्किन एलर्जी प्रतिक्रियाओं का इलाज करने के लिए कई चीजें हैं जिनका आप उपयोग कर सकते हैं। डॉ. अजय राणा कहते हैं कि त्वचा पर इन एलर्जी प्रतिक्रियाओं का उपचार एलर्जी के प्रकार और उस क्षेत्र पर निर्भर करता है जिस पर यह दिखाई दिया है। साथ ही लक्षणों की गंभीरता पर भी स्किन एलर्जी के उपाय निर्भर करते हैं

1.एंटीथिस्टेमाइंस का उपयोग

कोई भी एलर्जी के संपर्क में आने से पहले या एलर्जी से बचने के लिए एंटीथिस्टेमाइंस लेने से इन प्रतिक्रियाओं को रोक सकता है। एंटीथिस्टेमाइंस सूजन, लालिमा, चकत्ते, पित्ती और चेहरे पर किसी भी तरह की एलर्जी प्रतिक्रियाओं की इंरिटेशन को कम कर सकता है। साथ ये आंख में पानी आने, भरी हुई नाक और सांस लेने में कठिनाई आदि की परेशानियों से भी लड़ने में मदद करता है। तो अगर आपको स्किन एलर्जी हुई हो, तो डॉक्टर की मदद से एंटीथिस्टेमाइंस लें।

2. ठंडे कपड़े का इस्तेमाल

एलर्जी वाली जगह पर ठंडे कपड़े का इस्तेमाल एलर्जी को शांत करता है और खुजली से राहत दिला सकता है। साथ ही ये चेहरे में सूजन को भी कम करने का काम करता है। इसके लिए किसी साफ कपड़े में बर्फ के कुछ क्यूब्स भर लें और रेडनेस व एलर्जी वाली जगह पर लगाएं। आज इसे तब तक लगाए रह सकते हैं, जब कि आपके जलन की प्रतिक्रिया में कमी न आए।

इसे भी पढ़ें : स्किन के दाग-धब्बों को दूर करने में बहुत फायदेमंद होती हैं तुलसी की पत्तियां, इन 5 तरीकों से करें इस्तेमाल

3. त्वचा को मॉइस्चराइज रखें

त्वचा के लिए मॉइस्चराइजेशन बहुत जरूरी है। इसके लिए त्वचा विशेषज्ञ के परामर्श के बाद उपयोगकर्ता मॉइस्चराइजर जो, शुष्क त्वचा को मॉइस्चराइज करने और खुजली को कम करने में मदद कर सकते है, उसका इस्तेमाल कर सकते हैं। ये प्रभावित क्षेत्र पर एक कवरिंग भी बनाते हैं जो आपको एलर्जी से बचाता है।

4. पालतू जानवरों को घर में हर जगह न आने दें

डॉ. अजय राणा के अनुसार कई बार आपके घरों में ही ऐसे कारण मौजूद होते हैं, जो कि स्किन इंफेक्शन को ट्रिगर करते हैं। इसलिए पालतू जानवरों को घर के किसी एक क्षेत्र में सीमित करें या उन्हें बाहर रखने की कोशिश करें। उन्हें और उनके बिस्तर को नियमित रूप से धोएं और घर को अक्सर खाली करें और साफ करें। इससे उनके कारण घर में डस्ट और एलर्जी पार्टिकल्स में कमी आएगी और आप स्किन इंफेक्शन से बचे रहेंगे।

5. कॉर्टिकोस्टेरॉन (corticosterone) का इस्तेमाल

क्रीम, स्प्रे और आई ड्रॉप्स जिसमें कॉर्टिकोस्टेरॉन होता है, उसे आप डर्मेटोलॉजिस्ट के सुझाव पर इस्तेमाल कर सकते हैं। ये किसी भी तरह की त्वचा प्रतिक्रियाओं या सूजन को कम करने में मदद कर सकता है। साथ ही ये सांस लेने में कठिनाई के साथ नाक में वायुमार्ग को खोल सकते हैं।

इसी तरह आप समझ सकते हैं कि स्किन एलर्जी क्या है और ये क्यों होती है। तो, स्किन एलर्जी के इन तमाम कारणों से बचें। इसके अलावा कभी भी एलर्जी के गंभीर लक्षणों को अनदेखा न करें, घरेलू नुस्खों का इस्तेमाल न करें और तुरंत डर्मेटोलॉजिस्ट की मदद लें।

Read more articles on Skin-Care in Hindi

Disclaimer