धोने के बाद भी बाल रहते हैं चिपचिपे तो हो सकते हैं ये 4 कारण, जानें बालों का चिपचिपापन दूर करने के उपाय

अगर आपको लगता है की आपके बाल धोने के बाद भी चिपचिपे लग रहे हैं तो इसके पीछे बहुत से कारण हो सकते हैं। जानें कैसे दूर कर सकते हैं आप बालों का चिपचिपापन

Monika Agarwal
बालों की देखभालWritten by: Monika AgarwalPublished at: Jul 21, 2021Updated at: Jul 21, 2021
धोने के बाद भी बाल रहते हैं चिपचिपे तो हो सकते हैं ये 4 कारण, जानें बालों का चिपचिपापन दूर करने के उपाय

अगर आपके बाल बहुत अधिक चिपचिपे यानी ग्रीसी (Greasy Hairs) रहते हैं और धोने के बाद भी आपको कोई फर्क महसूस नहीं होता है तो इसका कारण अधिक सीबम का उत्पादन होता है। पहले तो यह जानिए कि सीबम होता क्या है? दरअसल हमारा शरीर एक प्रकार का तेल त्वचा और बालों में छोड़ता रहता है, जिससे त्वचा रूखी न हो जाए और मॉइश्चराइज रहे। इसे तत्व को सीबम कहते हैं। यह त्वचा को वैक्सी या ऑइली प्रकृति का रखने के लिए जिम्मेदार होता है। इसका अधिक या कम होने का असर सीधा हमारी स्किन और बालों पर पड़ता है। इसके अलावा भी आपके बालों के प्रकार, आपका बाल धोने का तरीका और जिन हेयर केयर उत्पादों का आप प्रयोग कर रहे हैं, ये सब भी एक वजह हो सकते हैं बालों के अधिक ग्रीसी (Greasy Hairs) होने की। तो आइए सबसे पहले जान लेते है की सिर धोने के बाद भी बाल ग्रीसी (Greasy Hairs) होने के क्या कारण होते हैं।

बाल धोने के बाद चिपचिपे होने के कारण (Causes)

अगर आपके बाल हद से अधिक ग्रीसी (Greasy Hairs) हैं तो इसका सबसे पहला कारण सेबोरहिया हो सकता है। जोकि एक आम स्किन कंडीशन होती है। यह स्थिति तब होती है जब सिबेशियस ग्लैंड अधिक ऑयल बनाने लगती है। इसके कारण आपके सिर और बाल अधिक ऑयली रहने लगता है।

इसे भी पढ़ें - बालों पर ऑलिव ऑयल (जैतून का तेल) लगाने के 5 फायदे और लगाने का सही तरीका

1. हार्मोन्स के कारण (Hormonal Cause)

बहुत से इस अवस्था के मरीजों को कोई हेल्थ से जुड़े कारण नहीं होते। हालांकि कुछ लोगों के हार्मोन्स असंतुलित हो सकते हैं। आपके बालों का प्रकार भी इस बात को प्रभावित कर सकता है की आपके बाल कितने ग्रीसी (Greasy Hairs) हैं। सीधे और थोड़े हल्के बाल कर्ली बालों के मुकाबले अधिक ग्रीसी होते हैं। ऐसा इसलिए होता है क्योंकि सीधे बालों में सिबम अधिक आसानी से आपके पूरे बाल को कवर कर सकता है।

2. अधिक तैलीय चीज़ों का प्रयोग (Oily Products)

अगर आप ज्यादा ऑयली उत्पादों का प्रयोग करते हैं और बालों को अच्छे से नहीं धोते हैं तो यह भी बालों के अधिक ऑयली होने का कारण हो सकता है। इसकी वजह से आपके बालों में ऑयल और डेड स्किन सेल्स इक्ट्ठी हो जाती हैं और बाल धुलने के बाद भी ऑयली या ग्रीसी (Greasy Hairs) ही नजर आते हैं।

अगर आप निम्न चीजों को अपने सिर पर अधिक प्रयोग करते हैं, तो भी आप के बाल अधिक ऑयली या ग्रीसी हो सकते हैं।

  • हेयर टॉवेल्स
  • हेयर ब्रश और कोंब
  • टोपी या स्कार्फ।

जब आप इन चीजों का सिर पर नियमित रूप से प्रयोग करते हैं तो यह भी अधिक सिबम प्रोड्यूस होने का एक कारण बन जाते हैं। अगर आप इन्हें एक बार प्रयोग करके धोते नहीं हैं तो भी यह आपके बालों को ग्रीसी (Greasy Hairs) बना सकते हैं।

इसे भी पढ़ें - सिल्‍की, शाइनी और मजबूत बालों के लिए नारियल पानी से घर पर बनाएं शैंपू, जानें तरीका

3. अन्य कारण (Other Causes)

बालों के ग्रीसी होने का एक अन्य कारण है बाहर का वातावरण। अगर आपके यहां अधिक एयर पॉल्यूशन होता है तो आप या तो अपने बालों को उससे बचा लीजिए या फिर आपको अधिक ग्रीसी (Greasy Hairs) बालों का सामना करना पड़ सकता है।

4. आपकी डाइट (Diet)

आपकी डाइट भी आपके बालों को प्रभावित करती है। अगर आप एक डेयरी से भरपूर डाइट लेते हैं या आपकी डाइट में अधिक ग्लाइसेमिक इंडेक्स वाली चीजें शामिल होती हैं। तो यह एंड्रोजन हार्मोन्स को प्रभावित करते हैं और इसकी वजह से आपकी स्किन अधिक सीबम का उत्पादन करने लगती है। जिसके कारण आपके बाल ग्रीसी (Greasy Hairs) हो जाते हैं।

बालों का चिपचिपापन दूर करने के तरीके

  • अगर आपके बाल सीधे हैं तो आपको सिर धोने की आवश्यकता अधिक होती है। इसलिए आप हर दो या एक दिन के बाद अपने सिर को धो लें ताकि सारा तेल निकल सके।
  • एक स्टडी के अनुसार ग्रीन टी से युक्त चीजों का प्रयोग करने से भी आपके बालों में तेल से छुटकारा मिलता है। आप ग्रीन टी हेयर टॉनिक का प्रयोग कर सकती हैं। 
  • अपने हेयर केयर रूटीन में ऐसी चीजें शामिल करें जिनमें ऑयली चीजें ज्यादा न हो।
  • अपनी डाइट के बारे में भी किसी प्रोफेशनल से सलाह लें और अपने बालों की समस्या के बारे में उन्हें बताएं।

अगर बाहर जा रहे हैं तो हमेशा बालों को ढक कर जाएं। ताकि आपके बाल वायु प्रदूषण से अधिक प्रभावित न हो सकें। इन सभी टिप्स का प्रयोग ग्रीसी बालों से निजात पाने के लिए फायदेमंद है।

Read more articles on Hair-Care in Hindi

Disclaimer