रिश्ते में भी आ गई है इनसिक्योरिटी या जलन की भावना? जानें इसे दूर करने के आसान तरीके

कभी-कभी कुछ परिस्थितियां रिश्ते में इनसिक्योरिटी और जलन की भावना को पैदा कर देती हैं। ऐसे में इस भावना को दूर करने के तरीके इस प्रकार है।

Garima Garg
Written by: Garima GargUpdated at: Jan 09, 2022 15:30 IST
रिश्ते में भी आ गई है इनसिक्योरिटी या जलन की भावना? जानें इसे दूर करने के आसान तरीके

3rd Edition of HealthCare Heroes Awards 2023

जब हमारा मन किसी इंसान की तरफ आकर्षित होता है या हमारे दिल को कोई पसंद आ जाता है तो ऐसे में हम चाहते हैं कि उसका पूरा ध्यान और समय केवल हमारे लिए हो। वहीं अगर वह किसी से बात करे ले या उसके फोन पर किसी का मैसेज आ जाए तो ना केवल हमारे मन में सिक्योरिटी की भावना पैदा हो सकती है बल्कि जलन की भावना भी घर कर सकती है। ऐसे में रिश्ते में इनसिक्योरिटी की भावना को दूर करना जरूरी है। आज का हमारा लेख इसी विषय पर है। आज हम आपको अपने इस लेख के माध्यम से बताएंगे कि अपने रिश्ते से इनसिक्योरिटी और जलन की भावना को कैसे दूर किया जा सकता है। पढ़ते हैं आगे...

1 - अपनी भावनाओं को करें सांझा

यदि आपके अंदर आपके पार्टनर को लेकर इनसिक्योरिटी की या जलन की भावना पैदा हो गई है तो सबसे पहले आप उन भावनाओं का जिक्र अपने पार्टनर से करें और उसे बताएंगे आप ऐसा क्यों सोच रहे हैं। हो सकता है कि यह आपकी कोई गलतफहमी हो। ऐसे में आपका पार्टनर इस गलतफहमी को दूर कर सकता है।

2 - रिश्ते में ना लाएं कोई तीसरा

यदि आपके रिश्ते में इनसिक्योरिटी या जलन की भावना पैदा हो गई है तो ऐसे में किसी तीसरे को अपने रिश्ते के बीच में लाने की गलती ना करें। हो सकता है कि इसके कारण आपका रिश्ता और कमजोर हो जाएगा। आपके पार्टनर को आपकी यह हरकत पसंद ना आए। ऐसे में आप खुद अपने पार्टनर से बात करके इस परिस्थिति को समझाने की कोशिश करें।

इसे भी पढ़ें -ब्रेकअप के बाद एक्स से क्यों नहीं करना चाहिए कॉन्टैक्ट? जानें इसके नकारात्मक परिणाम

3 - अपने पार्टनर को दें पर्सनल टाइम

रिलेशनशिप का मतलब होता है प्यार, भरोसा और आजादी। हम अपने पार्टनर से प्यार और भरोसा तो कर लेते हैं लेकिन इन सबके बीच में उसकी आजादी कहीं छिन जाती है। ऐसे में आप अपने पार्टनर को पर्सनल स्पेस दें, जिससे वे ना केवल आपकी कमी को महसूस करें बल्कि उसे आप की कीमत का भी एहसास हो। ऐसा करने से आपके रिश्ते में इनसिक्योरिटी और जलन की भावना भी दूर हो सकती है।

4 - परिवार वाले भी दे सकते हैं साथ

कभी-कभी अपने रिश्ते में आ रही उलझन या दरारे खुद को नजर नहीं आती। ऐसे में आप किसी परिवार वाले की मदद लेकर अपनी उन उलझनों को सुलझा सकते हैं। आप उन्हें अपनी परिस्थिति बता सकते हैं। हो सकता है कि आपको अपनी उलझन में परेशानी का कोई सटीक हल मिल जाए। बेशर्त किसी ऐसे इंसान को अपना हाल बताएं जो आपकी परिस्थिति को समझें।

इसे भी पढ़ें -  क्या आपका पार्टनर कर रहा है आपको इग्नोर? इन 5 तरीकों से जानें कारण

5 - खुद को समझाना भी जरूरी

अक्सर हम उन चीजों पर यकीन कर लेते हैं जो हमारी आंखों के सामने होती हैं। ऐसे में यदि आपको लग रहा है कि आपका पार्टनर कुछ बदल रहा है या आपको किसी चीज से या उसकी किसी हरकत से परेशानी हो रही है। ऐसे में थोड़ा सा धैर्य रखने की जरूरत है और परिस्थिति को समझना भी जरूरी है। वरना हो सकता है कि जल्दबाजी में अपने रिश्ते को खराब कर लें। ऐसी परिस्थिति में ओवरथिंकिंग रिश्ते को कमजोर बना सकती है।

नोट - ऊपर बताए गए बिंदुओं से पता चलता है कि रिश्ते में इनसिक्योरिटी और जलन की भावना कुछ परिस्थितियों के कारण पैदा हो सकती है। ऐसे में कुछ आसान से तरीके इस परिस्थिति से बाहर निकलने में आपके बेहद काम आ सकते हैं। वहीं अगर रिश्ता और ज्यादा उलझ रहा है तो ऐसे में आप किसी मैरिज काउंसलर की भी मदद ले सकते हैं इस परिस्थिति से बाहर आने के लिए।

Disclaimer