World Health Day 2021: ध्यान (मेडिटेशन) करने के हैं ये 5 तरीके, जानें आपके लिए कौन सा तरीका है सही

Morning Meditation: ध्‍यान आपके तन और मन को स्‍वस्‍थ रखने का एक माध्‍यम है। विश्‍व स्‍वास्‍थ्‍य दिवस के मौके पर जानिए ध्‍यान के प्रकार के बारे में।   

Anurag Anubhav
Written by: Anurag AnubhavPublished at: Apr 06, 2020Updated at: Apr 06, 2021
World Health Day 2021: ध्यान (मेडिटेशन) करने के हैं ये 5 तरीके, जानें आपके लिए कौन सा तरीका है सही

ध्यान या मेडिटेशन (Meditation) को अक्सर लोग विचार की एक वस्तु के तौर पर देखा जाता है। ध्यान का अभ्यास करना शायद आपके शरीर और दिमाग को आराम देने का सबसे अच्छा माध्‍यम तरीका है। लेकिन क्या आप जानते हैं कि ध्‍यान कई प्रकार के होते हैं। प्रत्येक प्रकार शरीर के विभिन्न हिस्सों के अनुरूप होता है। ध्‍यान, सिर्फ ऋषि-मुनियों के लिए नहीं है। इसे हर कोई कर सकता है। लेकिन इसे करने से पहले ये जानना जरूरी है कि यह कितने प्रकार के होते हैं और कौन सा आपके लिए बेहतर हो सकता है। 

मेडिटेशन की मदद से खुद को स्‍वस्‍थ्‍य कैसे रखने के लिए, आज विश्‍व स्‍वास्‍थ्‍य दिवस (7 April, World Health Day) के मौके पर हम आपको ध्‍यान के प्रकार के बारे में बता रहे हैं।

Meditation: ध्‍यान 5 प्रकार के होते हैं:

meditation

1. ब्रीदिंग मेडिटेशन (सांसों पर ध्‍यान केंद्रित करना) 

यह आपके भावनात्मक समस्‍याओं में सुधार करता है। चिंता को कम करने और आपको बेहतर ध्यान केंद्रित करने में यह आपकी मदद करता है। यह सभी उम्र के लोगों द्वारा अभ्यास किया जा सकता है और बस आपको अपनी श्वास पर ध्यान केंद्रित करने की आवश्यकता है। बस एक शांत कमरे में बैठें और श्‍वसन पर ध्‍यान केंद्रित करें। हर सांस के साथ अपने पेट और छाती को उठते और गिरते हुए महसूस करें। सांसों पर ध्‍यान केंद्रित करने से यह आपके दिमाग को शांत करने में मदद करता है।

स्‍वास्‍थ्‍य के बारे में अपना ज्ञान बढ़ाने के लिए खेलें क्विज: 

Loading...

2. झेन ध्यान पद्धति

ये ध्‍यान पद्धति बौद्ध परंपरा का एक हिस्सा है। इसे हमेशा एक प्रशिक्षित पेशेवर के मार्गदर्शन में अभ्यास करना चाहिए। इसमें झेन ध्यान का अभ्यास करते हुए विशिष्ट कदम और आसन करना शामिल है। यह आपके दिमाग को तेज करने में मदद करता है और आपको विश्राम की गहराई प्रदान करता है। झेन ध्यान आपके अवचेतन मन को बहुत अच्‍छी तरीके मैनेज कर सकता है।

इसे भी पढ़ें: घर पर मेडिटेशन से मिलेगी तनाव से मुक्ति, जानें इसे करने का बिल्कुल सही तरीका

3. आध्यात्मिक ध्यान

हिंदू धर्म और ईसाई धर्म में लोकप्रिय, आध्यात्मिक ध्यान आपको अपने ईश्वर के साथ गहरा संबंध बनाने का एक माध्‍यम है। यह आपके आस-पास की शांति को प्रतिबिंबित करता है। इस ध्यान के लिए आपको बस इतना करना है कि आप मौन में बैठें और अपनी सांस पर ध्यान केंद्रित करें। आपको अपनी सांसों पर ध्यान केंद्रित करना चाहिए और सांसों को बाहर निकालना चाहिए। आप अपना ध्यान अपने भगवान पर केंद्रित कर सकते हैं और अपने मन को डगमगाने न दें। यह ध्यान एकाग्रता में सुधार के साथ-साथ याददाश्त को बढ़ाने में मदद करता है।

4. मंत्र ध्यान

मंत्र ध्यान हिंदू और बौद्ध दोनों परंपराओं का एक महत्वपूर्ण हिस्सा रहा है। इसके लिए अभ्यास करते समय अभ्यासकर्ता को एक मंत्र या एक विशिष्ट शब्द का उच्चारण करना पड़ता है। मंत्र की दोहराई जाने वाली ध्वनि को मन को साफ करने और इसे शांत करने के लिए कहा जाता है। जप आपके मन को एक्टिव रखता है। यह आपको जागरूकता के गहरे स्तर तक ले जाता है। यह ध्यान उन लोगों के लिए है जो ध्यान करते समय पूर्ण मौन पसंद नहीं करते हैं।

इसे भी पढ़ें: रोजाना आधे घंटे का मेडिटेशन आपके तन, मन को थकान और आलस्‍य से रखता है दूर

5. ट्रान्सेंडैंटल ध्यान 

यह ध्यान का सबसे लोकप्रिय प्रकार है और इस ध्‍यान को आध्यात्मिक मंत्र के साथ किया जा सकता है। आप अपने लिए एक मंत्र चुन सकते हैं और उसका पाठ करते हुए लगभग 20 मिनट तक मौन में बैठ सकते हैं। ट्रान्सेंडैंटल मेडिटेशन को निम्न रक्तचाप, नींद में सुधार और नियमित रूप से इसका अभ्यास करने वाले लोगों में चिंता को कम करने के लिए जाना जाता है।  

Read More Articles On Mind Body In Hindi

Disclaimer