गर्भवती होने पर महिलाओं के लिए हर क्षण होता है बेहद खास, जानें हर क्षण से जुड़े खास टिप्स

गर्भावस्था के विशेष क्षणगर्भवती होने का आनंद सिर्फ एक गर्भवती महिला ही समझ सकती है। ऐसे बहुत से काम होते होंगे जो कि आप पहले भी करते होंगे। लेकिन अब इनका मतलब बिलकुल अलग होगा। गर्भावस्था का समय मौज मस्ती और आनंदपूर्ण होता है।

Jitendra Gupta
Written by: Jitendra GuptaPublished at: Jun 26, 2013
गर्भवती होने पर महिलाओं के लिए हर क्षण होता है बेहद खास, जानें हर क्षण से जुड़े खास टिप्स

मां बनना हर एक औरत के जीवन का सबसे महत्वपूर्ण और खूबसूरत पल होता है। लेकिन गर्भधारण करने और गर्भावस्था से प्रसव तक अपना खयाल किस तरह से रखना चाहिए, इसको लेकर वे अक्सर दुविधा में पड़ जाती हैं। जिस कारण वे अपना उचित ध्यान नहीं रख पाती हैं। गर्भवती को न सिर्फ खुद के लिए बल्की आने वाले शिशु के लिए भी सही जानकारी रखना बेहद जरूरी होता है। मां बनने का मतलब ये नहीं कि आर खुद को असहज महसूस कराएं बल्कि आपको मौज मस्ती और अपनी पसंद के काम को करने का सुकून दें और इन विशेष क्षणों का आनंद उठायें । इस समय आपको आनंद और उत्साह जैसे अनुभवों का मज़ा लेना चाहिए। गर्भावस्था के विशेष क्षणगर्भवती होने का आनंद सिर्फ एक गर्भवती महिला ही समझ सकती है। ऐसे बहुत से काम होते होंगे जो कि आप पहले भी करते होंगे। लेकिन अब इनका मतलब बिलकुल अलग होगा। गर्भावस्था का समय मौज मस्ती और आनंदपूर्ण होता है। आइए हम आपको इसके खूबसूरत लम्‍हों के बारे में बताते हैं।

आपकी हर इच्छा महत्वपूर्ण है

यह वो समय है जबकि आपके पति आपके किसी भी अनुरोध को ना नहीं कह सकते । सभी आपको आराम देने की कोशिश करेंगे। ऐसे में मौके का फायदा उठायें और उन्हें आलिंगन कर होने वाले बच्चे के बारे में बातें करें। अपने अधिकतर कामों में परिवार के सभी सदस्यों की मदद लें और उनका प्यार और ध्यान जीतने की कोशिश करें। ऐसे में आप स्वंयं को शो के किसी स्टार जैसा अनुभव कर सकते हैं।

थोड़ा क्वालिटी टाइम दें

किसी भी प्रकार का काम करने से पहले अपनी सुविधा का ख्याल रखें । अपनी कोई हाबी बनायें, शापिंग के लिए जायें या फिर दोस्तों के साथ चैट करें । अपनी पसंद का काम करें और अपने कमरे के बाहर डू नाट डिस्टर्ब का बोर्ड लगा दें।

इसे भी पढ़ेंः महिलाओं के शरीर में ये 3 बदलाव देते हैं गर्भ ठहरने का संकेत, तुरंत ले डॉक्टर की सलाह

महसूस करें अपने अनुभवों को

बहुत सी महिलाएं गर्भावस्था के अनुभव पर केंद्रित नहीं हो पातीं । याद रखें यह वो समय है जबकि आप अपने अंदर एक नये जीव को अनुभव कर सकती हैं । चिकित्सा विशेषज्ञों का ऐसा मानना है कि बहुत सी महिलाएं इस समय यह सोचती रहती हैं कि वह काम करने में असमर्थ हैं या उनके शरीर का आकार बदल रहा है। ऐसे में वो स्वास्थ्‍य आहार लें जो आपके और होने वाले बच्चे दोनों के लिए अच्छे हों । किसी भी प्रकार का विलासी आहार लेने से पहले अपने चिकित्सक से सम्पर्क करें । मां के लिए पोषक आहार लेना बहुत ही आवश्यक होता है क्योंकि इससे गर्भ में रह रहा बच्चा स्वस्थ होता है और गर्भ के दौरान होने वाली समस्याएं भी कम होती हैं ।

सकारात्‍मक सोचें

गर्भावस्था के दौरान वज़न का बढ़ना बहुत ही आम है । व्यक्ति को गर्भावस्था के हर एक क्षण का आनन्द उठाने की कोशिश करनी चाहिए और स्वयं पर गर्व महसूस करना चाहिए । फोनिक्स अस्पताल की इन्फर्टिलिटी एक्सपर्ट और गायनाकालाजिस्ट डा शिवानी सचदेवा गौर के अनुसार आपको सिर्फ यह बात ध्यान में रखनी है कि गर्भवती महिला को प्रतिदिन लगभग 2,500 कैलोरीज़ लेनी चाहिए । इस चिंता को भूल जायें कि आप पुराने कपड़ों में कैसे दिखेंगी । गर्भावस्था उत्साह मनाने का वो समय है जबकि आपके लिए हर एक क्षण महत्वपूर्ण है ।

इसे भी पढ़ेंः गर्भवती महिलाओं को कैसे रखना चाहिए अपना और अपने होने वालों बच्चा का ख्याल, जानें कुछ विशेष टिप्स

बनें अप टू डेट मां

बाहर जायें और अपने होने वाले बच्चे के लिए तरह तरह के ट्रेंडी और फैशनेबल कपड़े ले आयें ।

बच्चे के लिए स्थान

होने वाले बच्चे का कमरा सजाने का विषय अपने आपमें एक दिलचस्प काम है । अगर आप बच्चे के लिए एक अलग कमरा नहीं बना सकते तो अपने ही कमरे में उसकी जगह स्टफ खिलौनों और कुशन से सजा दें ।

स्नेही देखभाल

यह वो समय है जब अंतरंगता और समझ में बहुत समय लग जाता है । ऐसे में आपकी सेक्स लाइफ पर भी गर्भावस्‍‍था के कारण हो रहे परिवर्तन का प्रभाव पड़ता है । इस बदलाव के साथ स्वायं को बदलना भी कोई मुश्किल काम नहीं । इस रोमांचक यात्रा के दौरान यह जताएं कि आप कितना प्यार करते हैं एक दूसरे को ।

खाने की इच्छा पर नियंत्रण

पोषण विशेषज्ञ ऐसी सलाह देते हैं कि गर्भावस्था के दौरान ऐसी इच्छा का होना बहुत ही आम है । अपनी पसंद का आहा्र लेकर आप अच्छा महसूस कर सकते हैं । लेकिन ऐसे आहार लेने से पहले पोषण विशेषज्ञ की सलाह लेना ना भूलें ।

सोने का समय

सोना सभी को अच्छा लगता है और ऐसे समय में आपके लिए सोना बहुत ज़रूरी है । गर्भवती होने का सबसे अच्छा बहाना है आप अच्छी  नींद ले सकती हैं । यह आपके और होने वाले बच्चे दोनों के ही स्वास्‍थ्‍य के लिए अच्छा  होगा । गर्भावस्था के पहले तीन महीनों में मूड का बदलना बहुत आम है । मैक्स‍ हैल्थ्केयर कन्सेल्टैंट साइकैट्रिस्ट डा समीर पारेख के अनुसार अच्‍छी नींद लेने से मूड से सम्बन्धी समस्याएं नहीं होतीं । डा पारेख ने मुस्कराते हुए कहा कि यह कोई आश्चर्य की बात नहीं कि अगर आप गर्भवती हैं तो इस समय का उपयोग आराम करने के लिए करें ।

Read More Articles On Women Health In Hindi

Disclaimer