आयुर्वेद के अनुसार ऐसा होना चाहिए आपका स्किन केयर रूटीन, बिना ब्यूटी प्रोडक्ट्स के मिलेगी खूबसूरत त्वचा

Skin Care Routine in Hindi: खूबसूरत दिखने के लिए त्वचा की देखभाल करना जरूरी होता है। जानें आयुर्वेद के अनुसार एक बेहतरीन स्किन केयर रूटीन-

Anju Rawat
Written by: Anju RawatPublished at: Mar 15, 2022Updated at: Mar 15, 2022
आयुर्वेद के अनुसार ऐसा होना चाहिए आपका स्किन केयर रूटीन, बिना ब्यूटी प्रोडक्ट्स के मिलेगी खूबसूरत त्वचा

Skin Care Routine in Hindi: महिला हो या पुरूष, हर कोई बेदाग, निखरी और चमकदार त्वचा की चाहत रखता है। लेकिन कई लोगों को त्वचा से जुड़ी समस्याओं का सामना करना पड़ता है। कैमिकल युक्त स्किन केयर प्रोडक्ट्स और त्वचा की देखभाल (Skin Care Routine in Hindi) न करने की वजह से अक्सर ऐसा होता है। अगर आप भी खूबसूरत त्वचा पाना चाहते हैं, तो अपनी त्वचा की अच्छे से देखभाल करना शुरू कर दें। इसके लिए त्वचा को समय-समय पर मॉयश्चराइज, एक्सफोलिएट करते रहें। साथ ही त्वचा की सफाई का भी पूरा ध्यान रखें। आज हम आपको आयुर्वेद में फॉलो किए जाने वाले स्किन केयर रूटीन (Skin Care Routine in Ayurveda) के बारे में बताने जा रहे हैं। इस रूटीन को फॉलो करके आप दाग-धब्बों (How to Get Glowing Skin in Ayurved) से मुक्त निखरी और चमकदार त्वचा पा सकते हैं। 

आयुर्वेद में स्किन केयर रूटीन (Skin Care Routine in Ayurveda)

आयुर्वेद में त्वचा की देखभाल करने के लिए सबसे पहले अपनी प्रकृति (Skin Care Routine in Ayurveda) को ध्यान में रखना जरूरी होता है। आयुर्वेद में वात, पित्त और कफ प्रकृति (Ayurvedic Prakriti ) के लोग होते हैं। वात वाले लोगों की त्वचा ड्राय, नाजुक और झुर्रिदार होती है। पित्त प्रकृति (Pitta Dosha) वाले लोगों की स्किन पर अक्सर चकत्ते, ब्रेकआउट्स, रोजेसिया और लालिमा नजर आती है। वही जिन लोगों की प्रकृति कफ (Kapha Dosha) होती है, उनकी त्वचा अधिक ऑयली होती है। इनकी त्वचा पर ब्लैकहेड्स, एक्जिमा और ओपन पोर्स अधिक देखने को मिलते हैं। चलिए जानते हैं सभी प्रकृति के लोगों के लिए एक बेहतरीन आयुर्वेदिक स्किन केयर रूटीन (Ayurvedic Daily Skin Care Routine)-

beautiful skin

1. त्वचा को साफ करें  (Clean Face Tips)

त्वचा की देखभाल का पहला स्टेप इसकी सफाई करना होता है। आयुर्वेद के अनुसार (How to Get Glowing Skin in Ayurveda) आप अपने चेहरे या त्वचा को साफ करने के लिए कच्चे दूध का इस्तेमाल कर सकते हैं। कच्चा दूध (Raw Milk for Face) चेहरे की सारी गंदगी आसानी से निकल जाती है, साथ ही त्वचा मॉयश्चराइज भी होती है। कच्चा दूध त्वचा की जलन को भी शांत करता है। इसके लिए सुबह एक कटोरी में कच्चा दूध लें, कॉटन बॉल की मदद से चेहरे (Skin Care Routine in the Morning) को अच्छी तरह से पोंछ लें।

2. टोनर का यूज करें (Toner for Skin)

त्वचा की सफाई के बाद दूसरा काम उसे टोन करने का होता है। इसके लिए आप एक हाइड्रेटिंग टोनर का इस्तेमाल कर सकते हैं। आयुर्वेद में गुलाब जल (Rose Water Benefits for Skin) को एक बेहतरीन टोनर माना जाता है। आप चेहरे की सफाई करके गुबाल जल से चेहरे पर स्प्रे कर सकते हैं। इससे त्वचा मुलायम बनेगी, हाइड्रेटेड रहेगी।

इसे भी पढ़ें - 40 की उम्र के बाद चेहरे पर लगाएं ये 5 फेस पैक, एजिंग के लक्षण होंगे कम और बना रहेगा नैचुरल ग्लो

3. चेहरे को मॉयश्चराइज करें  (Moisturize Skin Naturally)

स्किन टाइप कोई भी हो, सभी को मॉयश्चराइज करना जरूरी होता है। आयुर्वेद में त्वचा को नमी प्रदान करने के लिए नारियल के तेल को सबसे बेहतरीन मॉयश्चराइजर माना गया है। नारियल का तेल त्वचा को मॉयश्चराइज (Coconut Oil Benefits for Skin) करता है, त्वचा के दाग-धब्बे दूर होते हैं। साथ ही सभी स्किन टाइप (Skin Care Routine in Ayurveda) के लोगों के लिए भी सही रहता है। इसके लिए आप हाथ पर थोड़ा सा नारियल का तेल लें, इसे अपने चेहरे और गर्दन पर अच्छी तरह से लगा लें। 

त्वचा की देखभाल कैसे करें (Skin Care Tips in Hindi)

  • त्वचा को समय-समय पर एक्सफोलिएट करना भी जरूरी होता है। इसके लिए आप चीनी या शुगर का इस्तेमाल कर सकते हैं। चीनी से चेहरे को हल्के हाथों से स्क्रब करें।
  • मुहांसों, सूजन और दाग-धब्बों को दूर करने के लिए आप नीम के तेल (Neem Oil for Skin) का भी इस्तेमाल कर सकते हैं। इससे त्वचा से जुड़ी समस्याएं दूर होती हैं। आप रात को त्वचा पर नीम का तेल लगाकर सो सकते हैं।
  • आयुर्वेद में एलोवेरा (Aloe Vera for Skin) को काफी अहम माना गया है। आप एलोवेरा को अपने रेगुलर डाइट में शामिल कर सकते हैं। साथ ही चेहरे पर लगा (Ayurvedic Daily Skin Care Routine in Hindi) भी सकते हैं। इससे स्किन मुलायम और चमकदार बनती है।

आप भी बेदाग, निखरी और चमकदार त्वचा पाने के लिए इस आयुर्वेदिक स्किन केयर रूटीन Skin Care Routine Tips in Hindi) को फॉलो कर सकते हैं। लेकिन अगर कोई गंभीर त्वचा रोग है, तो पहले डॉक्टर से कंसल्ट जरूर करें।

Disclaimer