Doctor Verified

साइनस का सिरदर्द बढ़ा सकते हैं ये 3 कारण, जानें अन्य लक्षण और घरेलू उपचार

साइनस के कारण व्यक्ति को तेज सिरदर्द की समस्या हो सकती है। ऐसे में जानते हैं इसके कारण, लक्षण और तेज सिर दर्द को रोकने के घरेलू उपचार...

Garima Garg
Written by: Garima GargPublished at: Oct 20, 2021Updated at: Oct 20, 2021
साइनस का सिरदर्द बढ़ा सकते हैं ये 3 कारण, जानें अन्य लक्षण और घरेलू उपचार

साइनस नाक से संबंधित समस्या है, जिसमें व्यक्ति को काफी परेशानी का सामना उठाना पड़ता है। इस समस्या में व्यक्ति को आधे सिर में दर्द, नाक बंद की समस्या, सिर में दर्द की समस्या, नाक से पानी आना, चेहरे में सूजन, आंखों के साथ पलकों के ऊपर दर्द महसूस करना आदि लक्षण दिखाई दे सकते हैं। वहीं सर्दी में ये लक्षण और गंभीर हो सकते हैं। ऐसे में सतर्कता बरतने की जरूर है। लेकिन हम बात कर रहे हैं साइनस के सिरदर्द की। यह सिरदर्द आम सिरदर्द जैसा नहीं होता है। बल्कि यह स्थिति काफी दर्दनाक हो सकती है। बता दें कि जब कोई व्यक्ति संक्रमित साइनस का शिकार हो जाता है तो उसे साइनस के सिरदर्द का सामना करना पड़ सकता है। ऐसे में इसके लक्षण और कारण दोनों ही अलग होते हैं। आज हमारा लेख इसी विषय पर है। आज हम आपको अपनी इस लेख के माध्यम से बताएंगे कि किसी व्यक्ति को साइनस के सिरदर्द होने पर कौन-कौन से लक्षण दिखाई देते हैं। साथ ही कारण और बचाव के बारे में भी जानेंगे। बता दें कि इसके लेख के लिए हमने हीलिंग केयर ईएनटी क्लीनिक नोएडा के ईएनटी स्पेशलिस्ट (एमबीबीएस एमएस) डॉ अंकुर गुप्ता (Dr. Ankur Gupta) से इनपुट्स मांगे हैं। पढ़ते हैं आगे...

साइनस के सिरदर्द के लक्षण

1 - चेहरे पर दर्द महसूस करना।

2 - आंखों का लाल होना या आंखों में दर्द महूसस करना।

3 - छींके आना।

4 - सिर हिलाने पर सिर का दर्द बढ़ना।

5 - चेहरे पर सूजन आना।

6 - दांतों के ऊपर दर्द महसूस करना।

7 - चेहरा छूने पर नरम महसूस करना।

8 - माइग्रेन होना। (ध्यान दें कि साइनस की समस्या होने पर व्यक्ति को जो सिर दर्द होता है वो माइग्रेन जैसा हो सकता है। लेकिन इस दौरान व्यक्ति को तेज आवाज से या तेज रोशनी से दिक्कत नहीं होती है। जबकि माइग्रेन के दर्द में व्यक्ति को तेज रोशनी या आवाज से दिक्कत महसूस हो सकती है।  

इसे भी पढ़ें- क्या नाक के अंदर लहसुन डालने से साइनस ठीक हो सकता है? जानें एक्सपर्ट से

गंभीर लक्षणों के होने पर

1 - बुखार होना।

2 - आंखों से पानी आना।

इससे अलग कुछ और भी गंभीर लक्षण नजर आ सकते हैं। 

साइनस के सिरदर्द के कारण

जैसा कि हमने पहले भी बताया कि साइनस के सिरदर्द का मुख्य लक्षण साइनस इंफेक्शन होता है। लेकिन ये साइनस इंफेक्शन कई वजहों से हो सकता है। ये कारण निम्न प्रकार हैं-

1 - सर्दी के कारण

2 - सीजनल एलर्जी के कारण बलगन के उत्पादन पर प्रभाव पड़ता है, जिससे साइनस संक्रमित हो सकता है।

3 - जब नाक की निचली हड्डी की संरचना पर प्रभाव पड़ता है तो बलगम के निकलने के मार्ग में रुकावट आ सकती है, इसके कारण भी व्यक्ति को साइसन के सिरदर्द की समस्या हो सकती है। 

बता दें कि ज्यादा बलगम के कारण कीटाणु पैदा हो जाते हैं, जिसके कारण उत्पन्न हुए रोगाणु साइनस को टिगर कर सकते हैं। परिणाम स्वरूप साइनस से संबंधित ऊतक सूज जाते हैं और बलगम के मार्ग की रूकावट बन सकते हैं। यही कारण होता है कि साइनस के कारण व्यक्ति को तेज सिर में दर्द हो सकता है। साथी ही चेहरे पर सूजन और दर्द महसूस हो सकता है।

साइनस का सिरदर्द कब होता है?

  • ठंड या एलर्जी के कारण व्यक्ति साइनस के कारण सिरदर्द महसूस कर सकता है।
  • साइनस के कारण उठने वाला सिरदर्द ज्यादातर सुबह के समय ज्यादा हो सकता है, जिसके कारण व्यक्ति को काफी दर्द का सामना करना पड़ता है। बता दें कि रात के वक्त नाक में मौजूद द्रव साइनस में इक्ठ्ठा हो जाता है, जिससे सुबह के कारण व्यक्ति को साइनस के कारण सिर दर्द हो सकता है। 
  • पर्यावरण में अचानक हुए परिवर्तन के कारण या तापमान के उतार-चढ़ाव के कारण व्यक्ति को साइनस का सिरदर्द हो सकता है।

इसे भी पढ़ें- साइनस के दर्द को दूर करता है अदरक, जानें प्रयोग का तरीका

साइनस के कारण उठने वाले सिरदर्द को दूर करने के उपचार

1 - टी ट्री ऑयल के माध्यम से सिर दर्द को दूर किया जा सकता है। बता दें कि टी ट्री ऑयल के अंदर एंटीसेप्‍टिक, एंटी इंफिलेमेट्री और एंटी माइक्रोबियल गुण मौजूद होते हैं जो साइनस के कारण उठने वाले सिर दर्द में फायदा पहुंचा सकते हैं। 

2 - नींबू पानी के इस्तेमाल से भी साइनस के कारण उठने वाले सिर दर्द से राहत मिल सकती है। ऐसा इसलिए क्योंकि नींबू के सेवन से नाक की नली को साफ किया जा सकता है। ऐसे में आप नींबू पानी में शहद मिलाकर सेवन करें। ऐसा करने से साइनस से आराम मिलेगा। 

3 - मेथी दाने के इस्तेमाल से भी साइनस को दूर किया जा सकता है। बता दें कि मेथी दाने का इस्तेमाल करने के लिए आप मेथी के दानों को एक गिलास पानी में उबालें और जब तक पानी आधा ना रह जाए तब तक पानी को उबालते रहें। ऐसा करने से साइसन की समस्या के कारण उठने वाले दर्द से राहत मिल सकती है। 

4 - आदरक के इस्तेमाल से भी साइनस की समस्या को दूर किया जा सकता है। ऐसे में आप अदरक की चाय तैयार करें और उसका सेवन करें। बता दें कि अदरक के अंदर भरपूर मात्रा में एटी माइक्रोबियम मौजूद होते हैं जो साइनस के लिए एंटी बायोटिक्स के रूप में काम कर सकता है। ऐसे में आप साइनस के कारण उठने वाले सिर दर्द को दूर करने के लिए अदरक का इस्तेमाल कर सकते हैं। 

5 - काली मिर्च के उपचार से भी सिर दर्द को दूर किया जा सकता है। ऐसे मे आप काली मिर्च का सेवन चाय के रूप में कर सकते हैं। बता दें कि साइनस के कारण होने वाली सूजन और साइनस के कारण उठने वाले सिरदर्द को दूर करने में काली मिर्च बेहद जरूरी तत्वों में से एक है।  

नोट - ऊपर बताए गए बिंदुओं से पता चलता है कि साइनस के कारण होने वाला सिरदर्द काफी दर्दनाक हो सकता है। ऐसे में व्यक्ति को लक्षणों और कारणों के बारे में पता होना जरूरी है। बता दें कि कुछ घरेलू उपचार समस्या को दूर करने में आपके बेहद काम आ सकते है। लेकिन अगर समस्या ज्यादा गंभीर है या सिरदर्द बंद ही नहीं हो रहा है तो व्यक्ति को तुंरत डॉक्टर से संपर्क करना चाहिए। ध्यान रहे कि साइनस के सिरदर्द के दौरान व्यक्ति को अपनी डाइट का खास ख्याल भी रखना चाहिए। ठंडी तासीर के भोजन से व्यक्ति के सिर का दर्द और बढ़ सकता है।  

इस लेख में फोटोज़ Freepik से ली गई हैं।

Disclaimer