रात को देर से सोने की आदत शरीर को पहुंचाती हैं नुकसान, हो सकती हैं ये 5 बीमारियां

Side effects of sleeping late: आजकल लोग मोबाइल चलाने, चैटिंग करने, फिल्में देखने की वजह से अक्सर देर रात तक जगते रहते हैं। 

Ashu Kumar Das
Written by: Ashu Kumar DasPublished at: Sep 09, 2022Updated at: Sep 09, 2022
रात को देर से सोने की आदत शरीर को पहुंचाती हैं नुकसान, हो सकती हैं ये 5 बीमारियां

Side effects of sleeping late: हमारे शरीर को जिस तरह पानी, हवा और खाने की जरूरत होती है। ठीक वैसे ही शरीर सही तरीके से काम कर सके इसके लिए अच्छी नींद की जरूरत होती है। शरीर को अगर पर्याप्त नींद न मिले तो कई तरह की शारीरिक और मानसिक समस्याएं हो सकती हैं। पर्याप्त नींद न लेने की वजह से आपको अन्य लोगों के मुकाबले बीमारियों का खतरा ज्यादा रहता है। 2010 में हुई एक रिसर्च में ये बात सामने आई है कि रात को देर से सोने वालों को जल्दी सोने वालों की तुलना में मानसिक बीमारियों का खतरा ज्यादा रहता है। अगर आप भी देर रात मोबाइल देखने, लैपटॉप चलाने और किसी कारण से रात को देर तक जागते हैं, तो आपको ये आदत बदलने की जरूरत है। आइए जानते हैं रात को देर से सोने से शरीर को होने वाली बीमारियों के बारे में।

हार्ट प्रॉब्लम का खतरा

सीडीसी के मुताबिक रात को देर से सोने के कारण हार्ट प्रॉब्लम का खतरा कई गुना बढ़ जाता है। रात को देर से सोने के कारण ब्लड प्रेशर हाई होता है, जिससे स्ट्रोक और हार्ट प्रॉब्लम जैसी खतरनाक बीमारी हो सकती है।

इसे भी पढ़ेंः वजन घटा सकता है फिश ऑयल (मछली का तेल), जानें सेवन का तरीका और फायदे

इम्यूनिटी होती है कमजोर

कम नींद लेने की समस्या हमारी रोग प्रतिरोधक क्षमता को कमजोर बनाने का काम करती है। सीडीसी के मुताबिक यदि कोई व्यक्ति पर्याप्त मात्रा में नींद नहीं लेता है तो उसके अंदर इंफेक्शन का खतरा तेजी से बढ़ता है। ऐसे लोग बीमारियों की चपेट में भी जल्दी आते हैं। 

Heart-Probelm-due-to-lack-of-sleep

यौन क्षमता होती है प्रभावित

महिलाओं की नींद को यौन इच्छा और उत्तेजना से जोड़ा गया है। अगर कोई महिला रात को देर तक जागती है, तो उसकी यौन क्षमता कम हो जाती है। वहीं, पर्याप्त नींद लेने वाली महिलाओं की यौन क्षमता अच्छी होती है। 

डायबिटीज का कारण

भारत में डायबिटीज के मरीज लगातार बढ़ रहे हैं। डायबिटीज का एक मुख्य कारण पर्याप्त नींद न लेना है। दरअसल, रात को 7 से 8 घंटों की नींद लेने से ब्लड शुगर के नियंत्रण में सुधार करने में मदद मिल सकती है। जिससे डायबिटीज होने का खतरा कम होता है। 

इसे भी पढ़ेंः बच्चों में विटामिन डी की कमी के क्या कारण हो सकते हैं? जानें इसे पूरा करने के 5 उपाय

कैंसर का खतरा

इन दिनों देश में कैंसर के मरीजों में लगातार इजाफा हो रहा है। कैंसर का एक मुख्य कारण पर्याप्त नींद न लेना है। एक रिसर्च के मुताबिक रात को देर तक जागने वाले लोग अक्सर जंक फूड्स, चाय और सिगरेट आम लोगों के मुकाबले में ज्यादा लेते हैं, जिसके कारण कैंसर का खतरा कई गुणा तक बढ़ जाता है। 

अगर आप किसी भी तरह की स्वास्थ्य समस्या से जूझ रहे हैं या आपको रात को सोने में किसी तरह की समस्या होती है तो डॉक्टर से संपर्क करें। ध्यान रखें कि नींद न आने की समस्या का कनेक्शन सीधे आपके दिल, दिमाग और शरीर से है।

 
Disclaimer