Doctor Verified

कोलेस्ट्रॉल कम होना भी हो सकता है खतरनाक, जानें इससे होने वाले नुकसान

कोलेस्ट्रॉल का बढ़ना ही नही, घटना भी खतरनाक हो सकता है। जानें लो-कोलेस्ट्रॉल लेवल से होने वाले नुकसान।

Written by: Updated at: Oct 22, 2022 11:00 IST
कोलेस्ट्रॉल कम होना भी हो सकता है खतरनाक, जानें इससे होने वाले नुकसान

कोलेस्ट्रॉल का नाम आते ही लोगों के मन में एक ही बात आती है कि कोलेस्ट्रॉल लेवल हाई होना सेहत के लिए नुकसानदायक होता है। लेकिन क्या ये बात आप जानते हैं कि कोलेस्ट्रॉल लेवल का लो हो जाना भी उतना ही खतरनाक होता है, जितना हाई कोलेस्ट्रॉल होता है? आपको बताते चलें कि कोलेस्ट्रॉल सेल्स और हार्मोन्स के निर्माण में महत्वपूर्ण भूमिका निभाता है। इसी के साथ विटामिन डी के अवशोषण में भी शरीर की मदद करता है।  हाई कोलेस्ट्रॉल लेवल बढ़ने के कारण जहां हार्ट अटैक, स्ट्रोक और हार्ट डिजीज का रिस्क बढ़ सकता है, वहीं कोलेस्ट्रॉल लेवल लो होने से कैंसर, याददाश्त खोने और अधिक गुस्सा आने जैसी समस्याएं हो सकती हैं। आइए उजाला सिग्नस ग्रुप ऑफ हॉस्पिटल्स के कंसल्टेंट और इंटरनल मेडिसिन विभाग के डॉ. शुचिन बजाज से जानते हैं कि कोलेस्ट्रॉल लेवल लो होने से क्या समस्याएं हो सकती हैं और इसके संकेत क्या हैं?

कोलेस्ट्रॉल क्या होता है?

शरीर की हर कोशिका में कोलेस्ट्रॉल पाया जाता है, जो एक वसा जैसा पदार्थ होता है। कोलेस्ट्रॉल खून में लिपोप्रोटीन के रूप में काम करता है। लिपोप्रोटीन फैट (वसा) के छोटे अणु होते हैं। व्यक्ति के शरीर में कुछ प्रकार के हार्मोन को बनाने के लिए कोलेस्ट्रॉल का होना जरूरी होता है। कोलेस्ट्रॉल से ही विटामिन डी बनता है। विटामिन डी शरीर के कैल्शियम को अवशोषित करने में मदद करता है। इसके साथ ही भोजन को पचाने के लिए कुछ पदार्थों को बनाने में भी कोलेस्ट्रॉल अहम भूमिका निभाता है।

इसे भी पढ़ें: हेल्दी कोलेस्‍ट्रॉल लेवल कैसे मेनटेन करें? जानें 5 ट‍िप्‍स

लो कोलेस्ट्रॉल लेवल के नुकसान क्या हैं?

कोलेस्ट्रॉल का स्तर बहुत ज्यादा हाई होने से कोरोनरी आर्टरी डिजीज होने का खतरा बढ़ जाता है। कई मामलों में लो कोलेस्ट्रॉल के कारण लिपोप्रोटीन का कम हो जाता है, जिससे कुछ स्वास्थ्य समस्याएं पैदा होने लगती हैं। रोज के खाने में शामिल फैट्स और उनसे प्राप्त होने वाले कोलेस्ट्रॉल के आधार पर शरीर में कोलेस्ट्रॉल का स्तर बढ़ता या घटता रहता है। लेकिन हाई कोलेस्ट्रॉल की तरह लो कोलेस्ट्रॉल भी हेल्थ के लिए नुकसानदायक होता है। इसलिए कोलेस्ट्रॉल के लेवल को मेनटेन रखने के लिए शरीर में होने वाले कुछ बदलावों पर ध्यान देना बेहद जरूरी है।

कोलेस्ट्रॉल कम होने से हो सकती हैं ये समस्याएं

1) कैंसर

कई मामलों में कोलेस्ट्रॉल लेवल के कम हो जाने से कैंसर की बीमारी हो सकती है। बता दें कि लो ब्लड लिपिड्स कई तरह के कैंसर का खतरा बढ़ा सकते हैं।

2) गुस्सा

कई बार कोलेस्ट्रॉल लेवल लो होने से हार्मोन्स असंतुलन होता है, जिससे व्यक्ति का गुस्सा बढ़ सकता है।

low-cholesterol-side-effects-in-hindi

3) गर्भावस्था

गर्भावस्था के दौरान अगर आपका कोलेस्ट्रॉल कम है, तो समय से पहले बच्चे का जन्म हो सकता है या जन्म के समय बच्चे का वजन कम हो सकता है।

4) याददाश्त कम होना

कोलेस्ट्रॉल लेवल कम होने से याददाश्त भी कम हो सकती है। बता दें कि कोलेस्ट्रॉल लेवल कम करने वाली दवाएं दिमाग की क्षमता को कम  करती हैं, जिस कारण व्यक्ति की याददाश्त कमजोर हो जाती है।

कोलेस्ट्रॉल लेवल कम होने के हैं ये संकेत

  • घबराहट होना
  • मूड स्विंग होना
  • नींद में बदलाव होना
  • खाने पीने में बदलाव होना

नोट: कोलेस्ट्रॉल का स्तर बहुत कम होने पर सेहत पर पड़ने वाले इसके खतरे को लेकर अभी कोई वैज्ञानिक पुष्टि नहीं हुई है। इसके कुछ स्वास्थ्य खतरों के संबंध पर अभी भी चर्चा चल रही है और शोध चल रहे हैं।

इसे भी पढ़ें: कोलेस्ट्रॉल में कौन सा तेल खाना चाहिए?

लो कोलेस्ट्रॉल को बैलेंस करने के लिए खाएं ये फूड्स

  • देसी घी
  • नट्स और ड्राई फ्रूट
  • सीड्स
  • फैटी फिश

इस तरह आपके लिए कोलेस्ट्रॉल का लेवल कम होना भी खतरनाक हो सकता है। अगर आप सेहतमंद रहना चाहते हैं तो अपने कोलेस्ट्रॉल लेवल पर नजर रखें।

Disclaimer