बच्चों को जबरदस्ती खाना खिलाने के क्या नुकसान होते हैं?

Effects Of Force Feeding Children: बच्चों को जबरदस्ती खाना खिलाना उनके स्वास्थ्य को कई तरह से प्रभावित कर सकता है, जानें जबरदस्ती खिलाने के नुकसान।

Vineet Kumar
Written by: Vineet KumarPublished at: Jul 07, 2022Updated at: Jul 07, 2022
बच्चों को जबरदस्ती खाना खिलाने के क्या नुकसान होते हैं?

छोटे बच्चों को खाना खिलाना कोई आसान काम नहीं है। बहुत बार ऐसा होता है कि पेरेंट्स बच्चों को खाना खिलाने की कोशिश करते ,हैं लेकिन बच्चे एक जगह ठीक से बैठकर खाना नहीं खाते हैं या खाना खाने में आनाकानी करते हैं। बच्चों की इस आदत से परेशान होकर कई बार पेरेंट्स उन्हें जबरदस्ती खाना खिलाने की कोशिश करते हैं। वे बच्चों को खाना खाने के लिए डांटते हैं या कई बार उन्हें डराने की कोशिश करते हैं।  लेकिन क्या आपने कभी सोचा है बच्चे को जबरदस्ती खाना खिलाने से उसकी सेहत पर क्या प्रभाव पड़ सकते हैं? बच्चों को जबरदस्ती खिलाना उनके लिए काफी नुकसानदायक हो सकता है। आइए जानते हैं बच्चों को जबरदस्ती खाना खिलाने से सेहत पर पड़ने वाले प्रभाव।

बच्चों को जबरदस्ती खाना खिलाने के नुकसान- Side Effects Of Force Feeding Children

1. बच्चे की प्राकृतिक भूख प्रभावित होती है

भूख लगना शरीर की स्वाभाविक इच्छा होती है। बच्चे को डांट-फटकार कर भोजन कराने से बच्चे में भोजन के प्रति दिलचस्पी कम होने लगती है और उसकी प्राकृतिक भोजन की इच्छा बाधित होती है। यही कारण है कि जब आप बच्चे को जबरदस्ती चीजें खिलाते हैं, तो वह उल्टी कर देता है और सबकुछ बाहर निकाल देता है।

Force Feeding Children

इसे भी पढें: बच्चों के लिए बहुत फायदेमंद है स्विमिंग, जानें इससे सेहत को मिलने वाले 5 फायदे

2. ईटिंग डिसऑर्डर का जोखिम बढ़ता है

आपका बच्चा अगर भोजन नहीं कर रहा है, तो इसका सीधा सा मतलब है कि उसे भूख नहीं है या अगर उसने खाना कम खाया ,है तो उसका पेट उतने में ही भर गया है। लेकिन अगर आप बच्चों को जबरदस्ती खाना खिलाते हैं, तो वे जैसे-जैसे बड़े होते हैं उनमें ज्यादा भोजन करने की आदत विकसित हो सकती है। यह आगे चलकर बच्चों में मोटापा, एनोरेक्सिया, बुलिमिया जैसे ईटिंग डिसऑर्डर का कारण भी बन सकता है।

ये भी देखें:

3. पाचन संबंधी समस्याएं होती हैं

हर किसी व्यक्ति का पाचन तंत्र और मेटाबॉलिज्म अलग-अलग होता है। बहुत बार ऐसा होता है कि बच्चे अपना सारा भोजन खत्म नहीं करते हैं और प्लेट में भोजन छोड़ देते हैं। ऐसी स्थिति में पेरेंट्स उनपर जबरदस्ती सारा भोजन खत्म करने के लिए दबाव डालते हैं। अगर आप बच्चे को उसकी भूख से अधिक खिलाते हैं, तो उसे पचा पाना बच्चों के लिए मुश्किल होता है। इससे उनका पाचन प्रभावित होता है और पेट संबंधी समस्याएं होती हैं।

इसे भी पढें: बच्चों का पेट खराब होने पर दिखाई देते हैं ये 5 संकेत, जानें- बचाव के तरीके

बच्चों को सेहतमंद रखने के लिए कैसे खिलाएं खाना

बच्चा पेरेंट्स को देखकर काफी चीजें सीखता है। कोशिश करें कि आप जब भी बच्चे को खाना खिलाएं तो उसके साथ में बैठकर खुद भी खाना खाएं। उन्हें छोटी-छोटी मील खिलाएं, लेकिन उन्हें बार-बार भोजन कराएं। अगर बच्चा भोजन के लिए मना कर रहा है, तो उसके साथ जबरदस्ती न करें। जब उन्हें भूख लगेगी तो वे खुद आपसे कह सकते हैं। बच्चे के भोजन में अगर आप कोई नई चीज शामिल कर रहे हैं, तो हो सकता है कि आपका बच्चा उसे खाने में आनाकानी करे, ऐसे में धैर्य रखें। वह खुद धीरे-धीरे उन्हें खाना शुरू कर देगा।

All Image Source: Freepik.com

Disclaimer