गर्मियों में इस तरह बढ़ाए अपनी पाचन शक्ति और मेटाबॉलिज्म, रहेंगे दुरुस्त

गर्मियों में पाचन और मेटाबॉलिज्म को बढ़ाने (How to Improve Digestion and Metabolism) के लिए आप कई उपाय आजमा सकते हैं। ताकि पूरी गर्मी स्वस्थ रहें।

Anju Rawat
Written by: Anju RawatPublished at: May 05, 2022Updated at: May 05, 2022
गर्मियों में इस तरह बढ़ाए अपनी पाचन शक्ति और मेटाबॉलिज्म, रहेंगे दुरुस्त

How to Improve Digestion and Metabolism in Hindi: गर्मी का प्रकोप बढ़ता जा रहा है, यह हमारी त्वचा के साथ ही सेहत को भी नुकसान पहुंचाता है। गर्मियों में अकसर आपने लोगों को कहते सुना होगा कि मुझे भूख नहीं है। मेरा अब कुछ खाने का मन नहीं कर रहा है। आखिर ऐसा क्यों होता है? दरअसल, गर्मियों में हमारा पाचन कमजोर हो जाता है, ऐसे में हमें जल्दी से भूख नहीं लगती है। इसका असर हमारे संपूर्ण स्वास्थ्य पर भी पड़ता है। अगर आप गर्मियों में अपना पाचन और मेटाबॉलिज्म बढ़ाना चाहते हैं, तो कुछ उपायों को अपना सकते हैं। इससे आप गर्मी में हमेशा स्वस्थ और तंदुरुस्त रहेंगे। 

1. खूब पानी पिएं

गर्मियों में खुद को हाइड्रेटेड रहना बहुत जरूरी है। क्योंकि गर्मियों में पसीना आता है, इससे शरीर का पानी निकल जाता है। इसलिए गर्मी के मौसम में खूब पानी पीना चाहिए। गर्मियों के लिए लिक्विड डाइट सबसे बेहतर मानी जाती है। आप गर्मियों में आम पन्ना, नारियल पानी, जल जीरा, नींबू पानी, गन्ने का रस आदि पी सकते हैं। ये सभी पेय पदार्थ आपको हाइड्रेट रखते हैं, साथ ही आपके मेटाबॉलिज्म और पाचन शक्ति को भी बढ़ाते हैं। पानी पीने से पाचन क्रिया में सुधार होता है, मेटाबॉलिज्म भी बूस्ट होता है।

2. सीजनल फल और सब्जियां खाएं

मौसमी फल और सब्जियां खाने से हमें सभी जरूरी पोषक तत्व आसानी से मिल जाते हैं। गर्मियों में आप खरबूजा, तरबूज, लीची आदि फल खा सकते हैं। इसके अलावा आप लौकी, करेला, तोरी की सब्जी खा सकते हैं। इन फलों और सब्जियों में एंटीऑक्सीडेंट और फाइबर भरपूर होता है। इन फलों और सब्जियों को खाने से पाचन शक्ति बढ़ती है, वही मेटाबॉलिज्म भी बेहतर बनता है। खीरा गर्मियों के लिए काफी फायदेमंद होता है, इसमें लो कैलरी होती है। खीरे में अधिक मात्रा में पानी होता है, जो व्यक्ति को हाइड्रेट रखने में भी मदद करता है।

इसे भी पढ़ें - आपके पाचन पर बुरा असर डालती हैं ये 6 गलत आदतें, पेट को स्वस्थ रखना है तो बदलें इन्हें

3. छोटे-छोटे मील लें

गर्मियों में एक साथ हैवी मील लेने से अच्छा है, आप बार-बार खाएं लेकिन हल्का। एक बार में हैवी खाना खाने से पाचन तंत्र पर बोझ पड़ता है, इससे सूजन आदि की समस्या ही सकती है। शरीर को हैवी भोजन को पचाने में भी मुश्किल होती है। छोटे-छोटे मील मेटाबॉलिज्म को गति देते हैं। इससे आपका गैस, एसिडिटी और कब्ज की समस्या से भी बचाव होता है।

4. प्रोबायोटिक्स डाइट में शामिल करें

गर्मी के मौसम में पाचन में सुधार करने, मेटाबॉलिज्म को बढ़ाने के लिए प्रोबायोटिक्स डाइट भी जरूरी होती है। इसके लिए आप अपनी डाइट में दही और किमची शामिल कर सकते हैं। इसमें प्रोबायोटिक्स काफी होता है। दही और किमची पेट के लिए हल्के और अच्छे होते हैं। साथ ही आसानी से पच भी जाते हैं। इसके अलावा दही विटामिन डी, कैल्शियम और प्रोटीन का भी अच्छा सोर्स है। ऐसे में दही और किमची खाने से पाचन शक्ति को बढ़ाया जा सकता है। साथ ही मेटाबॉलिज्म भी बेहतर होता है।

5. कैफीन का सेवन कम करें

कैफीन पाचन तंत्र और मेटाबॉलिज्म को कमजोर बना सकता है। इसलिए गर्मियों में चाय और कॉफी जैसे गर्म पेय पदार्थों का सेवन करने से बचना चाहिए। यह शरीर में गर्मी भी बढ़ा सकते हैं। बहुत अधिक चाय या कॉफी पीने से पाचन तंत्र की परत को नुकसान पहुंच सकता है। पाचन को दुरुस्त रखने के लिए कैफीन युक्त आहार से परहेज करें। 

6. डिनर हल्का करें

रात को हमेशा हल्का या लाइट खाने की सलाह दी जाती है। दरअसल, रात को हमारा मेटाबॉलिज्म कम होता जाता है। साथ ही रात को खाने के बाद शारीरिक गतिविधि भी नहीं होती है, इसका असर पाचन तंत्र पर पड़ता है। ऐसे में रात को लाइट डिनर करना चाहिए। इससे पाचन और मेटाबॉलिज्म दोनों ही दुरुस्त बने रहेंगे।

इसे भी पढ़ें - हींग के तेल के फायदे: पाचन बढ़ाने, सिर दर्द और पेट दर्द दूर करने में फायदेमंद है हींग का तेल

7. तला हुआ भोजन से बचें

अधिक तला या फ्राइड खाना खाने से बचें। गर्मियों में तले या फ्राइड भोजन को पचाना बहुत मुश्किल हो जाता है, साथ ही इनमें अतिरिक्त कैलोरी भी होता है, जो फैट के रूप में जमा हो जाते हैं। इसके बजाय पाचन को बेहतर रखने के लिए आप उबले, ग्रिल्ड खाना खाएं। 

8. ठंडे पेय पदार्थों से बचें

गर्मियों में अकसर पेट की गर्मी को कम करने के लिए लोग सोडा, कोर्बोनेटेड पेय का सेवन करते हैं। लेकिन इनसे असल में गर्मी शांत नहीं होते हैं। इनसे एसिड रिफ्लक्स और अपच की समस्या हो सकती है। कमरे के तापमान पर सादा पानी पीना या घर का बना पेय पीना सबसे अच्छा है। लेकिन कैफीन, चीनी और सोडा पीने से बचें।

(All Images SOurce: Freepik)

Disclaimer