Doctor Verified

सहजन खाने से शरीर को हो सकते हैं ये नुकसान, इन सावधानियों का रखें ध्यान

Moringa Side Effects in Hindi: सहजन खाने से शरीर को कई नुकसान भी हो सकते हैं, जानें किन लोगों को नहीं खाना चाहिए सहजन।

Prins Bahadur Singh
Written by: Prins Bahadur SinghPublished at: Jul 11, 2022Updated at: Jul 11, 2022
सहजन खाने से शरीर को हो सकते हैं ये नुकसान, इन सावधानियों का रखें ध्यान

Drumstick or Moringa Side Effects: सहजन को आयुर्वेद में औषधि के रूप में इस्तेमाल किया जाता है। ऐसा कहा जाता है कि अकेला सहजन 300 से ज्यादा बीमारियों में औषधि के रूप में इस्तेमाल किया जा सकता है। सहजन की पत्तियां, इसके फल, बीज और सहजन के पेड़ की छाल का अलग-अलग तरीके से इस्तेमाल किया जा सकता है। सहजन की पत्तियों और इसके फल का इस्तेमाल सब्जी के रूप में बहुत ज्यादा किया जाता है। सहजन का सेवन करने से शरीर को कार्ब्स, प्रोटीन, कैल्शियम, पोटेशियम, आयरन, मैग्नीशियम, विटामिन ए, विटामिन सी और विटामिन बी आदि प्रचुर मात्रा में मिलते हैं। लेकिन गलत तरीके से या अधिक मात्रा में सहजन का सेवन करना सेहत के लिए नुकसानदायक होता है। सहजन खाने से शरीर को कई नुकसान भी हो सकते हैं।

सहजन खाने के नुकसान- Side Effects of Drumstick in Hindi

सहजन को अंग्रेजी में ड्रमस्टिक (Drumstick) या मोरिंगा (Moringa) के नाम से जाना जाता है। इसकी पत्तियों, फल और बीज का कई तरीके से सेवन किया जाता है। आरोग्यं हेल्थ सेंटर के आयुर्वेदिक डॉ एस के पांडेय कहते हैं कि सहजन खाने से कुछ लोगों की सेहत को नुकसान भी पहुंच सकता है। आइए जानते हैं इसके बारे में-

Side effects of drumstick

इसे भी पढ़ें: सहजन की पत्तियों का जूस पीने से शरीर की इन 5 समस्याओं में मिलता है फायदा, जानें इसे पीने का तरीका

1. लो ब्लड प्रेशर के मरीजों के लिए सहजन बहुत नुकसानदायक माना जाता है। ऐसे लोग जिन्हें लो ब्लड प्रेशर की समस्या है, उन्हें सहजन का सेवन बहुत कम मात्रा में करना चाहिए। सहजन के पत्तों का इस्तेमाल हाई ब्लड प्रेशर में किया जाता है। इसका लो ब्लड प्रेशर में अधिक सेवन आपकी परेशानी को और बढ़ा सकता है।

2. प्रेग्नेंसी औ मासिक धर्म के दौरान सहजन का सेवन करने से बचना चाहिए। प्रेग्नेंसी में सहजन खाने से गर्भपात का खतरा बढ़ जाता है। इसलिए गर्भवती महिलाओं को सहजन न खाने की सलाह दी जाती है। इसके अलावा सहजन का अधिक मात्रा में सेवन शरीर में पित्त दोष बढ़ा सकता है, इसलिए पीरियड्स के दौरान सहजन खाने से बचना चाहिए।

3. अधिक मात्रा में सहजन खाने से आपके मानसिक स्वास्थ्य पर असर पड़ता है। इसकी वजह से आपको तनाव और डिप्रेशन की समस्या हो सकती है। सहजन में इसोथियोसीयानेट (Isothiocyanate) और ग्लाइकोसाइड सायनाइड (Glycoside Cyanides) जैसे तत्व पाए जाते हैं। ये तत्व शरीर के लिए विषैले माने जाते हैं।

4. जिन लोगों को ब्लीडिंग डिसऑर्डर की समस्या है उन्हें सहजन का सेवन करने से बचना चाहिए। इस समस्या में बहुत ज्यादा सहजन खाने से आपको कई अन्य समस्याओं का सामना करना पड़ सकता है।

5. डिलीवरी (प्रसव) के ठीक बाद सहजन खाने से बचना चाहिए। डिलीवरी के ठीक बाद सहजन के बीज, सहजन की छाल आदि का इस्तेमाल नुकसानदायक होता है। इसलिए गर्भावस्था या डिलीवरी के बाद भी सहजन खाने से पहले अपने डॉक्टर की सलाह जरूर लें।

इसे भी पढ़ें: सहजन के बीज में होते हैं कई औषधीय गुण, इन 7 समस्याओं में माने जाते हैं बहुत फायदेमंद

ऊपर बताई गयी समस्याओं में सहजन खाना सेहत के लिए बहुत नुकसानदायक हो सकता है। अगर आपको भी ऊपर बताई गयी समस्या में से कोई समस्या है, तो सहजन खाने से पहले इन बातों का ध्यान रखें और डॉक्टर की सलाह जरूर लें।

(Image Courtesy: Freepik.com)

Disclaimer