दूसरों का नेल कटर इस्तेमाल करने से हो सकती है नाखूनों में इंफेक्शन की समस्या, जानें अन्य नुकसान

अगर आप किसी दूसरे व्यक्ति का नेल कटर इस्तेमाल करते हैं, तो इससे कई तरह की बीमारियां और इंफेक्शन होने का खतरा रहता है। 

Dipti Kumari
Written by: Dipti KumariPublished at: May 16, 2022Updated at: May 16, 2022
दूसरों का नेल कटर इस्तेमाल करने से हो सकती है नाखूनों में इंफेक्शन की समस्या, जानें अन्य नुकसान

हाइजीन बनाए रखने के लिए हमें कई बार सलाह दी जाती है कि दूसरे व्यक्ति की पर्सनल चीजों का इस्तेमाल नहीं करना चाहिए क्योंकि कई बार इंफेक्शन सिर्फ खांसने, छींकने या हाथ मिलाने से नहीं फैलता । पर्सनल चीजों का इस्तेमाल करने से भी फैल सकता है। इसलिए फिट और हेल्दी रहने के लिए आपको र्सनल यूज से जुड़ी चीज़ों का इस्तेमाल किसी दूसरे को नहीं करने देना चाहिए। ऐसी ही पर्सनल यूज से जुड़ी चीज है नेल कटर। कई बार आपने देखा होगा कि घर में एक ही नेल कटर से सभी लोग नाखून काटते हैं। इससे पूरे परिवार की सेहत पर असर पड़ सकता है। नाखून के इन्फेक्टेड होने से बीमारियां बढ़ने का खतरा बढ़ जाता है। अगर आप नाखून बढ़ाने के शौकीन है, तो उस दौरान भी आपको अपने नाखूनों की सफाई और नेल कटर के इस्तेमाल को लेकर सावधान रहना चाहिए। साथ ही हाथों और नाखूनों की सफाई बहुत जरूरी है। 

नेल कटर से फैल सकती है बीमारियां

नाखून की साफ-सफाई को नजरअंदाज करने से वायरल इंफेक्शन की समस्या बढ़ सकती है। अगर आपके नेल कटर का इस्तेमाल दूसरे लोग भी करते हैं, तो इससे आपको या दूसरे व्यक्ति को बैक्टीरिया और वायरल इंफेक्शन से संबंधित बीमारियां हो सकती है। इससे आपको फूड प्वाइजनिंग और एलर्जी की दिक्कत हो सकती है। इसके अलावा नाखून गंदे होने से पेट की कई बीमारियां हो सकती है। कभी-कभी ये समस्याएं और बीमारियां गंभीर रूर ले सकती है और हम इन चीजों का समझ नहीं पाते हैं। लेकिन अगर आप स्वस्थ रहना चाहते हैं, तो आपको अपने हाथों की साफ-सफाई के साथ-साथ पर्सनल यूज की चीजों का भी ध्यान रखना चाहिए कि दूसरे इसका इस्तेमाल न करें। 

nail-cutter-infection

Image Credit- Freepik

इन बातों का भी रखें ध्यान

1. नेलकटर को साफ रखें

नेल कटर को साफ रखना भी बेहद जरूरी है। अगर नेल कटर में नमी है, तो इसमें बैक्टीरिया और फंगल इंफेक्शन बढ़ने की आंशका रहती है। नाखून लंबं समय तक पानी के संपर्क में रहने से नाखून टूट सकते हैं और गंदगी जमा आसानी से हो सकती है। इसके अलावा केमिकल्स या बर्तन धोते समय आपको हमेशा कॉटन-लाइनेड रबर दस्ताने पहनने की सलाह दी जाती है।ग्रिम रिमूवर के साथ एक तेज स्टेनलेस-स्टील नेल क्लिपर का उपयोग जरूर करें ताकि नाखूनों के नीचे जमा कीटाणुओं और जमी हुई मैल को हटाया जा सके। नाखून काटने के बाद हाथों को अच्छे से साफ करें। 

2. नाखून में नमी बनाए रखें

क्यूटिकल्स बढ़ने से बचने के लिए हाथों और नाखूनों को नम बनाए रखें। नेल पेंट रिमूवर, हैंड सैनिटाइजर और हार्श साबुन का बार-बार इस्तेमाल करने से नाखूनों के साथ-साथ क्यूटिकल्स भी सूख सकते हैं। नाखून को हमेशा छोटा रखने की कोशिश करें ताकि इसे साफ करना आसान हो। हाथ और नाखून को मॉइस्चराइज करें। इससे वायरल बीमारियों की आंशका कम हो सकती है। 

nail-cutter-infection

Image Credit- Freepik

3. नाखून चबाने की कोशिश न करें

कई लोगों को नाखून चबाने की आदत होती है। अक्सर लोग परेशानी या तनाव में भी नाखून चबाते हैं और इससे आपके हाथों से इंफेक्शन मुंह तक पहुंच पाता है। इसके अलावा नाखून को दांतों से काटना भी नुकसानदायक हो सकता है। इसलिए नाखून को न चबाएं। 

इसे भी पढ़ें- कमजोर और खराब नाखूनों की कैसे करें देखभाल? एक्सपर्ट से जानें 7 टिप्स

4. नियमित रूप से नेल चेकअप करवाएं

अपने संपूर्ण स्वास्थ्य के लिए आपको अपने नेल चेकअप की भी जरूरत होती है। अगर आपके नाखून का रंग बदला हुआ नजर आ रहा है और हमेशा गंदे नजर आ रहे हैं, तो आपको डॉक्टर से सलाह जरूर लेनी चाहिए ताकि कोई बीमारी न हो।

Main Image Credit- Freepik

Disclaimer