अल्मोड़ा की 'बाल मिठाई' जिसके मुरीद हैं पीएम मोदी भी, जानें इसे खाने के फायदे और रेसिपी

उत्तराखंड के अल्मोड़ा की मशहूर बाल मिठाई पीएम मोदी को भी पसंद है, जानें इसे खाने के फायदे और आसान रेसिपी।

Prins Bahadur Singh
Written by: Prins Bahadur SinghPublished at: May 24, 2022Updated at: May 24, 2022
अल्मोड़ा की 'बाल मिठाई' जिसके मुरीद हैं पीएम मोदी भी, जानें इसे खाने के फायदे और रेसिपी

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी अपनी फिटनेस और खानपान को लेकर अक्सर चर्चा में रहते हैं। हाल ही में थॉमस कप जीतने के बाद भारत की बैडमिंटन टीम से बातचीत करते हुए शटलर लक्ष्य सेन से उन्होंने अल्मोड़ा की महशूर 'बाल मिठाई' को लेकर अपनी पसंद जाहिर की थी प्रधानमंत्री आवास पर आने का न्योता देकर उनसे अल्मोड़ा की प्रसिद्द बाल मिठाई लाने की इच्छा भी जाहिर की थी। जिसके बाद प्रधानमंत्री मोदी से मुलाकात के समय खिलाडी लक्ष्य सेन ने उन्हें अल्मोड़ा की मशहूर बाल मिठाई भेंट की है। वैसे तो देवनागरी उत्तराखंड के अल्मोड़ा शहर की महशूर मिठाई के बारे में चर्चा दूर-दूर तक होती है लेकिन पीएम मोदी द्वारा इस मिठाई की बात करने के बाद ही लोग यह जानना चाहते हैं कि आखिर यह ऐसी कौन सी मिठाई है जिसको लेकर प्रधानमंत्री इतने उत्साहित हैं। अल्मोड़ा की बाल मिठाई जिसे लोग 'उत्तराखंड की चॉकलेट' के नाम से भी जानते हैं एक बहुत ही पुरानी और मशहूर मिठाई है। इसके बारे में यह कहा जाता है कि अंग्रेज भी इस मिठाई के काफी मुरीद थे। आइये जानते हैं आखिर क्या है यह 'बाल मिठाई'? इसे खाने के फायदे और बनाने की रेसिपी के बारे में।

क्या है अल्मोड़ा की बाल मिठाई का इतिहास? (Almora Bal Mithai History in Hindi)

अल्मोड़ा की मशहूर बाल मिठाई दरअसल सिर्फ अपने स्वाद के लिए ही नहीं जानी जाती है बल्कि इसका सेवन सेहत के लिए भी फायदेमंद माना जाता है। ऐसा बताया जाता है कि अल्मोड़ा के ही एक प्रसिद्द हलवाई लाला जोगाराम ने इस मिठाई को साल 1865 में ईजाद किया था। उस समय से ही यह मिठाई सबकी फेवरेट बन चुकी है। इस मिठाई को तैयार करने के लिए दूध का खोया और खसखस के दानें का इस्तेमाल किया जाता है। पुराने लोग यह कहते हैं कि अंग्रेजों के जमाने में यह मिठाई उनकी भी सबसे पसंदीदा मिठाई हुआ करती थी। लोगों का मानना है कि आजादी के आंदोलन के समय जब राष्ट्रपिता महत्मा गांधी अल्मोड़ा आये थे तो उस समय उन्हें भी यह बाल मिठाई भेंट की गयी थी। 

इसे भी पढ़ें : पीएम मोदी को बहुत पसंद हैं सहजन (मोरिंगा) के पराठे, जानें मोरिंगा के पराठे के फायदे और रेसिपी

Almora-Bal-Mithai-Benefits-Recipe

अल्मोड़ा की बाल मिठाई खाने के फायदे (Almora Bal Mithai Health Benefits in Hindi)

अल्मोड़ा की बाल मिठाई का जिक्र तमाम लोककथाओं में भी किया गया है। इसका रंग चॉकलेट जैसा होने के कारण लोग इसे उत्तराखंड की चॉकलेट के नाम से भी जानते हैं। बाल मिठाई को बनाने में दूध से बने खोया और खसखस यानी गेंदे के दानों का इस्तेमाल किया जाता है जो बहुत ही स्वादिष्ट और सेहत के लिए फायदेमंद होता है। बाल मिठाई में प्रोटीन, ग्लूकोज और गेंदें में मौजूद गुण पाए जाते हैं। इसका सेवन करने से आपके शरीर को इंस्टेंट एनर्जी मिलती है और शुद्ध खोया से बनने के कारण इसमें कई ऐसे पोषक तत्व पाए जाते हैं जो सेहत के लिए बहुत फायदेमंद होते हैं। अल्मोड़ा की बाल मिठाई खाने के कुछ फायदे इस प्रकार से हैं।

  • बाल मिठाई में दूध के गुण मौजूद होते हैं जो सेहत के लिए बहुत फायदेमंद होते हैं।
  • इसमें मौजूद ग्लूकोज इंस्टेंट एनर्जी देने का काम करता है।
  • इसका सेवन शरीर में कई पोषक तत्वों की आपूर्ति में फायदेमंद है।

बाल मिठाई की रेसिपी (Almora Bal Mithai Recipe in Hindi)

उत्तराखंड की मशहूर बाल मिठाई घर पर बनाने के लिए आपको इन चीजों का आवश्यकता होती है।

1. शुद्ध खोया - 2 कप
2. चीनी पिसी हुई - 1 कप
3. दूध - आधा कप
4. नारियल पाउडर - आधा कप
5. चोको पाउडर - 1 चम्मच
6. गेंदे के दानें या मीठी गोली – 2 चम्मच

  • बाल मिठाई बनाने के लिए सबसे पहले आप शुद्ध खोया लें और उसे एक कड़ाही में हल्का भून लें।
  • खोया जबी चॉकलेट की तरह हो जाए तो इसे उतार कर इसमें चोको पाउडर मिलाएं।
  • अब इसमें चीनी का बूरा और नारियल पाउडर डालें।
  • इन सबको अच्छी तरह से मिलाकर अब इसमें थोड़ी मात्रा में दूध डालें और मिलाकर इसे हल्की आंच पर रखें।
  • इसके बाद इसे किसी बर्तन में फॉयल लगाकर निकाल लें।
  • अब इसके सेट हो जाने के बाद इसे टुकड़ों में काट लें और अपनी पसंदीदा साइज में काटें।
  • इसके बाद चाशनी बनाकर इस मिठाई को चाशनी में डुबोएं और अलग प्लेट में रख लें।
  • अब आखिर में इस मिठाई पर गेंदे के दानें या मीठी गोली लगाएं।
  • अब आपकी बाल मिठाई बनकर तैयार।

अल्मोड़ा की प्रसिद्द बाल मिठाई वैसे खाने में स्वादिष्ट होने के साथ सेहत के लिए भी बहुत फायदेमंद होती है। लेकिन अगर आप डायबिटीज के मरीज हैं या आपको खानपान से जुड़ी कोई समस्या है तो इसका सेवन करने से पहले अपने डॉक्टर की सलाह जरूर लें।

(All Image Source - TOI) 

Disclaimer