कामकाजी महिलाओं में अक्सर होती है इन 6 न्यूट्रिएंट्स की कमी, जानें पूरा करने के उपाय

Nutritional Deficiency in Working Women: कामकाजी महिलाओं में अक्सर देखने को मिलती है इन 6 न्यूट्रिएंट्स की कमी, जानें पूरा करने के टिप्स।

 
Prins Bahadur Singh
Written by: Prins Bahadur SinghPublished at: Sep 08, 2022Updated at: Sep 08, 2022
कामकाजी महिलाओं में अक्सर होती है इन 6 न्यूट्रिएंट्स की कमी, जानें पूरा करने के उपाय

Nutritional Deficiency in Working Women: बदलती जीवनशैली में महिलाओं का काम पुरुषों से कहीं भी कम नहीं है। आज के समय ‌में महिलाऐं पुरुषों के साथ हर काम में कंधे से कंधा मिलाकर चलती हैं। ऐसे में महिलाओं को अपने स्वास्थ्य और पोषण का सही ढंग से ध्यान जरूर रखना चाहिए। कामकाज के प्रेशर के चलते ज्यादातर महिलाओं को हेल्दी डाइट फॉलो करना मुश्किल होता जा रहा है। इसके अलावा महिलाओं को हर महीने पीरियड्स और शरीर में होने वाले हार्मोनल बदलावों का सामना करना पड़ता है। कामकाजी महिलाओं के शरीर में पोषक तत्वों की कमी के कारण उन्हें कई समस्याओं का सामना करना पड़ता है। शरीर में जरूरी पोषक तत्वों की कमी के कारण एनीमिया जैसी गंभीर बीमारी से लेकर शारीरिक कमजोरी जैसी समस्याओं का सामना करना पड़ सकता है। कई शोध और अध्ययन इस बात की पुष्टि करते हैं कि भागदौड़ भरी जीवनशैली के कारण कामकाजी महिलाओं के शरीर में कुछ पोषक तत्वों की कमी अक्सर देखी जाती है। आइए विस्तार से जानते हैं इसके बारे में।

कामकाजी महिलाओं में पोषक तत्वों की कमी- Nutritional Deficiency in Working Women in Hindi

ओनलीमायहेल्थ इस महीने "Focus Of The Month- Poshan Maah" के अंतर्गत अपने कैंपेन "कुपोषण कैसे मिटाएं" में आपको कुपोषण को मात देने और आपके साथ पोषण से जुड़ी जरूरी जानकारी साझा कर रहा है। आइए इस कैंपेन के तहत हम जानते हैं, कामकाजी महिलाओं के शरीर में होने वाले पोषक तत्वों की कमी के बारे में और इससे बचने के उपाय।

इसे भी पढ़ें: शरीर में पोटेशियम की कमी होने पर दिखते हैं ये 8 लक्षण, जानें इसके लिए क्या खाएं

1. विटामिन बी की कमी- Vitamin B Deficiency

कामकाजी महिलाओं के शरीर में अक्सर विटामिन बी की कमी देखने को मिलती है। खानपान में असंतुलन के कारण शरीर में विटामिन बी की कमी देखने को मिलती है। इसकी वजह से हड्डियों की परेशानियां, कम उम्र में बाल झड़ना, उल्टी और भ्रम, स्किन से जुड़ी परेशानियां और शारीरिक कमजोरी जैसी समस्याएं होती हैं। विटामिन बी शरीर के लिए बहुत जरूरी पोषक तत्वों में से एक है। शरीर में विटामिन विटामिन बी की कमी पूरा करने के लिए आपको डाइट में मशरूम, पालक, चुकंदर, आलू, मीट और मछली का सेवन करना चाहिए।

2. ओमेगा-3 फैटी एसिड- Omega 3 Fatty Acid Deficiency

शरीर में ओमेगा-3 फैटी एसिड की कमी के कारण कई गंभीर समस्याओं का सामना करना पड़ता है। कामकाजी महिलाओं के शरीर में यह समस्या अक्सर देखने को मिलती है। ओमेगा 3 फैटी एसिड दरअसल शरीर के जरूरी कामकाज को सही ढंग से करने में मदद करता है। इसका उपयोग आंखों को हेल्दी रखने, नर्वस और हार्ट के फंक्शन को सही से काम करने में मदद के लिए भी बहुत जरूरी होता है। शरीर में जरूरी हॉर्मोन के निर्माण में भी ओमेगा-3 फैटी एसिड बहुत जरूरी माना जाता है। शरीर में ओमेगा-3 फैटी एसिड की कमी को पूरा करने के लिए आपको डाइट में अलसी के बीज, अखरोट और बादाम जैसे ड्राई नट्स, राजमा, चिया सीड्स, बीन्स और मछली को जरूर शामिल करना चाहिए। 

Nutritional Deficiency in Working Women:

इसे भी पढ़ें: National Nutrition Week: नसों में दर्द किस विटामिन की कमी से होता है? जानें इसके स्रोत

3. विटामिन डी की कमी- Vitamin D Deficiency

कामकाजी महिलाओं के शरीर में विटामिन डी की कमी अक्सर देखने को मिलती है। विटामिन डी शरीर में हड्डियों और मांसपेशियों को मजबूती देने और शरीर की कार्यक्षमता में सुधार करने के लिए बहुत जरूरी होता है। हार्ट को हेल्दी रखने और डायबिटीज जैसी गंभीर समस्या से बचाने के लिए ओमेगा-3 फैटी एसिड की पर्याप्त मात्रा बहुत जरूरी होती है। शरीर में विटामिन डी की कमी का सबसे बड़ा कारण धूप में बहार न निकलना माना जाता है। विटामिन डी की कमी पूरा करने के लिए आपको डाइट में मिल्क और मिल्क प्रोडक्ट्स जैसे पनीर, दही और छाछ आदि को शामिल करना चाहिए। इसके अलावा मशरूम, ऑरेंज जूस और अंडा आदि को भी डाइट में शामिल करना चाहिए।

4. कैल्शियम की कमी- Calcium Deficiency

शरीर को स्वस्थ रखने और हड्डियों को मजबूत बनाए रखने के लिए कैल्शियम की पर्याप्त मात्रा बहुत जरूरी है। शरीर में कैल्शियम की कमी के कारण हड्डियों से जुड़ी परेशानियां जैसे ऑस्टियोपोरोसिस, बोन डेंसिटी कम होना और फ्रैक्चर आदि की समस्या हो सकती है। शरीर में कैल्शियम की कमी पूरा करने के लिए आपको डाइट में दूध, पनीर, मक्खन और सीफूड्स को शामिल करना चाहिए।

5. प्रोटीन की कमी- Protein Deficiency

शरीर में प्रोटीन की कमी होने से आपके सम्पूर्ण स्वास्थ्य पर गंभीर असर पड़ता है। प्रोटीन शरीर के लिए बेहद जरूरी मैक्रोन्यूट्रिएंट माना जाता है। शरीर में प्रोटीन की कमी होने पर मांसपेशियों का सही विकास नहीं होता है और स्किन, बॉडी टिश्यू व हड्डियां कमजोर होने लगती हैं। इसकी वजह से आपका वजन भी तेजी से कम होने लगता है। शरीर में प्रोटीन की कमी पूरा करने के लिए आपको मिल्क, अंडा, मीट, सोयाबीन, पनीर, ड्राई फ्रूट्स, राजमा, मूंगफली और ब्रोकली आदि को शामिल करना चाहिए।

6. आयरन की कमी- Iron Deficiecny

कामकाजी महिलाओं के शरीर में आयरन की कमी अक्सर देखने को मिलती है। आयरन की कमी के कारण शरीर कमजोर होने लगता है और शरीर में हीमोग्लोबिन की कमी देखने को मिलती है। आयरन की कमी पूरा करने के लिए आपको मांस, मछली, डेयरी प्रोडक्ट्स, पालक, आंवला जूस आदि का सेवन करना चाहिए।

इसे भी पढ़ें: Fiber Foods: डाइट में फाइबर बढ़ाने के लिए क्या खाएं? एक्सपर्ट से जानें 15 फूड्स

शरीर को स्वस्थ रखने और बीमारियों से बचाने के लिए आपको पर्याप्त और संतुलित मात्रा में सभी पोषक तत्वों का सेवन करना चाहिए। शरीर में पोषक तत्वों की कमी को नजरअंदाज करना काफी खतरनाक होता है और इसकी वजह से आपको कई गंभीर बीमारियों का शिकार हो सकते हैं।  

(Image Courtesy: Freepik.com)

Disclaimer