कोरोना से ठीक हो चुके लोगों और स्तनपान कराने वाली महिलाओं को कब लगेगी वैक्सीन? देखें वीडियो

वैक्सिनेशन नियमों में हुआ बदलवास जानें कोरोना से ठीक हो चुके लोगों, स्तनपान कराने वाली महिलाओं और गंभीर रोगों वाले कोविड मरीजों को कब लगेगी वैक्सीन।

Anurag Anubhav
Written by: Anurag AnubhavPublished at: May 19, 2021
कोरोना से ठीक हो चुके लोगों और स्तनपान कराने वाली महिलाओं को कब लगेगी वैक्सीन? देखें वीडियो

कोरोना वायरस (Coronavirus) के कारण पिछले दिनों जिस तरह के संकट का सामना लोगों को करना पड़ा, उससे बहुत सारे लोग चाहते हैं कि वे कोविड की वैक्सीन (COVID Vaccine) जल्द से जल्द लगवा लें। खासकर जो लोग कोविड (COVID-19) से ठीक हो चुके हैं, वो भी सशंकित हैं कि उन्हें वैक्सीन कब लगेगी और कितने दिनों में लगवानी चाहिए। इन स्थितियों को स्पष्ट करते हुए आज स्वास्थ्य मंत्रालय ने नए नियम जारी किए जिसके मुताबिक जिन लोगों को कोविड था, उन्हें ठीक होने के 3 महीने बाद ही कोरोना की वैक्सीन लगाई जा सकेगी। स्वास्थ्य मंत्रालय से वैक्सिनेशन के नियमों में इस बदलाव की (Latest Changes in Vaccination Rules) अनुशंसा NEGVAC यानी 'नेशनल एक्‍सपर्ट ग्रुप ऑन वैक्‍सीन एडमिनिस्‍ट्रेशन फॉर कोविड-19' (National Expert Group on Vaccine Administration for COVID-19) द्वारा की गई थी, जिसे मंत्रालय ने मंजूरी दे दी है।

covid vaccine rules

नए नियमों के अनुसार अगर कोई व्यक्ति कोविड वैक्सीन की पहली डोज लेने के बाद कोरोना वायरस संक्रमण का शिकार (COVID Positive After First Dose Vaccine) हुआ है, तो उसे भी दूसरी डोज रिकवरी के 3 महीने बाद ही लगाई जाएगी।

इसे भी पढ़ें: वैक्सीन लेने के बाद ये लक्षण दिखें तो तुरंत करें रिपोर्ट, ब्लड क्लॉटिंग और ब्लीडिंग के मामले बेहद कम: मंत्रालय

स्तनपान कराने वाली महिलाएं भी लगवा सकती हैं वैक्सीन (Vaccination Rules for Breastfeeding and Pregnant Women)

नए नियमों में यह भी कहा गया है कि स्तनपान कराने वाली महिलाएं भी अब कोरोना की वैक्सीन लगवा सकती हैं। हालांकि अभी गर्भवती महिलाओं को वैक्सीन लगवाने पर सरकार की तरफ से स्पष्ट गाइडलाइन नहीं आई है। ओनलीमायहेल्थ का सुझाव यह है कि जिन महिलाओं की हाल में ही डिलीवरी हुई है या जो कुछ समय पहले मां बनी हैं और शिशु को स्तनपान करा रही हैं, वो वैक्सीन लेने से पहले एक बार अपने चिकित्सक से बात करके टीकाकरण जरूर करवाएं।

प्लाज्मा थेरेपी से ठीक हुए लोगों को भी 3 महीने बाद टीका

सरकार ने वैक्सिनेशन की नई गाइडलाइन में यह भी स्पष्ट कर दिया है कि अगर किसी व्यक्ति ने कोविड संक्रमण के दौरान प्लाजमा थेरेपी ली है, तो उसे हॉस्पिटल से छुट्टी मिलने, यानी रिकवरी के 3 महीने बाद टीका लगाया जाएगा

इसे भी पढ़ें: महिलाओं में कोरोना की वैक्सीन लगवाने के बाद दिखने वाले हल्के दुष्प्रभाव, डॉक्टर से जानें जरूरी बातें

गंभीर बीमारी है तो कोविड रिकवरी के 4-8 हफ्तों में लगवाएं टीका

ऐसे व्यक्ति जो पहले से गंभीर बीमारियों का शिकार रहे हैं और उन्हें कोरोना संक्रमण हुआ है या जो लोग कोविड के अतिरिक्त किसी अन्य बीमारी के कारण ICU में भर्ती हुए हैं, उन्हें 4 से 8 हफ्तों के बीच टीका लगाया जा सकता है। इसके साथ ही कोरोना संक्रमित लोगों के रक्तदान करने की स्थिति को भी स्पष्ट करते हुए नई गाइडलाइन में ये कहा गया है कि जो लोग कोरोना संक्रमित हुए थे, वो रिजल्ट निगेटिव आने के 14 दिन बाद रक्तदान कर सकते हैं।

Read More Articles on Health News in Hindi

Disclaimer