Doctor Verified

खसरा रोग से बचाव के लिए जरूरी हैं ये 5 पोषक तत्‍व, जानें कैसे दूर करते हैं इंफेक्शन का खतरा

खसरा (measles) से बचने के ल‍िए आपको 5 जरूरी पोषक तत्‍वों का सेवन करना चाह‍िए, जानते हैं इनके बारे में

Yashaswi Mathur
Written by: Yashaswi MathurPublished at: Mar 15, 2022Updated at: Mar 15, 2022
खसरा रोग से बचाव के लिए जरूरी हैं ये 5 पोषक तत्‍व, जानें कैसे दूर करते हैं इंफेक्शन का खतरा

हर साल 16 मार्च को खसरा प्रतिरक्षण द‍िवस मनाया जाता है, इस द‍िन का मकसद है लोगों में खसरा के प्रत‍ि जागरूकता रखना । मीजल्‍स यानी खसरा रोग एक संक्रामक रोग है जो मोर्ब‍िलीवायरस के कारण होता है। मीजल्‍स से बचने में न्‍यूट्र‍िशन का अहम रोल है। सही न्‍यूट्र‍िशन की मदद से आपके शरीर में मीजल्‍स वायरस के सैल्‍स ग्रो नहीं कर पाएंगे, अगर आप बीमारी के चपेट में आ भी गए तो न्‍यूट्र‍िशन आपके शरीर पर बुरा असर डालने वाले सैल्‍स को कंट्रोल कर सकते हैं। मीजल्‍स से बचने के ल‍िए आपको अपनी रोज की डाइट में व‍िटाम‍िन ए, व‍िटाम‍िन सी, ज‍िंक आद‍ि को शाम‍िल करना चाह‍िए। इस लेख में हम मीजल्‍स से बचने के ल‍िए 5 जरूरी न्‍यूट्र‍िएंट्स के बारे में जानेंगे। इस व‍िषय पर बेहतर जानकारी के ल‍िए हमने लखनऊ के वेलनेस डाइट क्‍लीन‍िक की डायटीश‍ियन डॉ स्‍म‍िता सिंह से बात की। 

vitamin c rich diet

image source:wwmindia.com

1. व‍िटाम‍िन सी (Vitamins C prevents measles)

रोग प्रत‍िरोधक क्षमता को बढ़ाने के ल‍िए व‍िटाम‍िन सी र‍िच फूड्स का सेवन करना भी जरूरी है। मीजल्‍स वायरस उन लोगों पर पहले हमला करता है ज‍िनकी रोग प्रत‍िरोधक क्षमता कमजोर होती है। आपको संतरे का सेवन करना चाह‍िए उसमें व‍िटाम‍िन सी मौजूद होता है। इसके अलावा आप ओमेगा 3 का भी सेवन कर सकते हैं। व‍िटाम‍िन‍ सी को एंटी-वायरस एजेंट के रूप में जाना जाता है, एंटीऑक्‍सीडेंट गुणों के कारण ये मीजल्‍स (measles in hindi) में होने वाले दाने और न‍िशान की समस्‍या से न‍िजात द‍िलाता है। आप संतरे के अलावा नींबू, आंवला, पपीता, अमरूद का भी सेवन कर सकते हैं। 

इसे भी पढ़ें- शरीर में कैंसर कैसे फैलता है? डॉक्‍टर से जानें कैंसर से जुड़ी 5 जरूरी बातें

2. प्रोटीन (Protein prevents measles)

प्रोटीन एक जरूरी पोषक तत्‍व है जो इम्‍यून‍िटी के ल‍िए जरूरी है, प्रोटीन का सेवन करने से शरीर को एनर्जी म‍िलती है और रोग प्रत‍िरोधक क्षमता भी बढ़ती है। प्रोटीन के ल‍िए आपको दूध, चीज़, दही, अंडे, दालों का सेवन करना चाह‍िए। मीजल्‍स (measles in hindi) हो जाने पर शरीर कमजोर हो जाता है क्‍योंक‍ि इस दौरान बुखार भी आता है, कमजोरी दूर करने के ल‍िए प्रोटीन का सेवन जरूरी है। आप प्रोटीन का सेवन करने के ल‍िए बादाम भी खा सकते हैं, इसके अलावा आपको कॉटेज पनीर का सभी सेवन करना चाह‍िए।   

3. ज‍िंक (Zinc prevents measles) 

मीजल्‍स से बचने के ल‍िए आपको ज‍िंक र‍िच फूड्स (zinc rich foods) का भी सेवन करना चाह‍िए। आप काजू, पंपक‍िन, सलफ्लॉवर सीड्स, मशरूम, बीन्‍स आद‍ि का सेवन कर सकते हैं। ज‍िंक की कमी होने पर डॉक्‍टर सप्‍लीमेंट लेने की भी सलाह देते हैं। मीजल्‍स में क्‍या न खाएं मीजल्‍स हो जाने पर आप तला हुआ भोजन अवॉइड करें, प्रोसेस्‍ड फूड का सेवन भी न करें,  म‍िठाई, नमकीन आद‍ि का सेवन भी आपको अवॉइड करना चाह‍िए।    

4. व‍िटाम‍िन ए (Vitamins A prevents measles)

vitamin a rich foods

image source:healthifyme

मीजल्‍स से बचने के ल‍िए व‍िटाम‍िन ए का सेवन फायदेमंद माना जाता है। अंडे में भी व‍ि‍टाम‍िन ए पाया जाता है। आप हरी सब्‍ज‍ियां, टमाटर, शकरकंद, लाल श‍िमला म‍िर्च, दूध आद‍ि का सेवन कर सकते हैं। व‍िटाम‍िन ए का सेवन करने से मीजल्‍स वायरस से शरीर का बचाव संभव है, अगर आप व‍िटाम‍िन ए र‍िच डाइट लेते हैं तो आपको मीजल्‍स का वायरस आसानी से अपनी चपेट में नहीं ले सकेगा।  

इसे भी पढ़ें- ग्लूकोमा (काला मोतिया) होने पर अपनाएं ये 4 आयुर्वेदिक उपाय, समस्या से मिल सकता है आराम   

5. आयरन (Iron prevents measles) 

मीजल्‍स (measles in hindi) से बचने के ल‍िए आयरन र‍िच फूड्स का भी सेवन जरूरी है। आयरन से भरपूर खाद्य पदार्थों की बात करें तो आप चुकंदर का सेवन कर सकते हैं। चुकंदर में भरपूर मात्रा में आयरन होता है। पालक में भी आयरन की भरपूर मात्रा होती है। इसके अलावा आप अनार खा सकते हैं या तुलसी का सेवन कर सकते हैं। अंडे में भी आयरन पाया जाता है, आप उसे ब्रेकफास्‍ट में शाम‍िल कर सकते हैं। 

मीजल्‍स में पानी की कमी शरीर में नहीं होनी चाह‍िए, ड‍िहाइड्रेशन की समस्‍या से बचने के ल‍िए आप नार‍ियल पानी, फलों का रस आदि‍ पी सकते हैं।  

main image source: healthfete  

Disclaimer