मूसली पाउडर खाने के हो सकते हैं कुछ नुकसान, जानें इनके बारे में

Musli Powder ke Nuksan: मसूली पाउडर खाने से शरीर को कई लाभ मिलत हैं। लेकिन कुछ स्थितियों में मूसली पाउडर खाना सेहत के लिए नुकसानदायक भी हो सकता है।

Anju Rawat
Written by: Anju RawatUpdated at: Jan 19, 2023 14:17 IST
मूसली पाउडर खाने के हो सकते हैं कुछ नुकसान, जानें इनके बारे में

3rd Edition of HealthCare Heroes Awards 2023

Musli Powder Side Effects in Hindi: आयुर्वेद में कई ऐसी जड़ी-बूटियां हैं, जिनका उपयोग कई तरह की स्वास्थ्य समस्याओं का इलाज करने के लिए किया जाता है। इसमें मूसली पाउडर भी शामिल हैं। मूसली को कैप्सूल, गोली, पाउडर आदि के रूप में उपयोग किया जाता है। लेकिन अधिकतर लोग मूसली के जड़ को पीसकर इसके पाउडर का सेवन दूध या शहद के साथ करते हैं। क्योंकि मूसली में प्रोटीन, फाइबर, एल्कलॉइड, कार्बोहाइड्रेट, कैल्शियम और पोटेशियम भी पाए जाते हैं। यह पाउडर गठिया, डायबिटीज और यूटीआई के इलाज में मदद कर सकता है। साथ ही आयुर्वेद में मूसली (Musli in Hindi) का सेवन शारीरिक ताकत को बढ़ाने के लिए भी किया जाता है। लेकिन आपको मूसली का सेवन सीमित मात्रा में ही करना चाहिए। क्योंकि अधिक मात्रा में मूसली का सेवन करने से आपको कुछ नुकसान भी हो सकते हैं। तो चलिए, जानते हैं मूसली पाउडर के नुकसान (Musli Powder ke Nukasn)-

मूसली पाउडर के नुकसान- Musli Powder Side Effects in Hindi

1. ब्लड शुगर कम हो सकता है

जिन लोगों का ब्लड शुगर लेवल हाई होता है, उनके लिए मूसली पाउडर फायदेमंद हो सकता है। लेकिन अगर आपके ब्लड शुगर का स्तर कम रहता है, तो आपको मूसली पाउडर का सेवन करने से बचना चाहिए। क्योंकि मूसली पाउडर आपके ब्लड शुगर के स्तर को कम (Musli Powder Side Effects) कर सकता है। इससे शरीर में शुगर लेवल कम हो सकता है, आपको कई परेशानियों का सामना करना पड़ सकता है। जो लोग डायबिटीज की दवाइयां ले रहे हैं, उन्हें भी मूसली पाउडर का सेवन करने से बचना चाहिए।

इसे भी पढ़ें- पुरुषों की इन 6 समस्याओं को दूर करती है सफेद मूसली, जानें उपयोग का तरीका

2. पेट से संबंधित दिक्कत हो सकती हैं

मूसली का पाउडर खाने से आपको पेट से जुड़ी समस्याओं का सामना करना पड़ सकता है। अगर आप अधिक मात्रा में मूसली का सेवन करेंगे, तो इससे आपको कब्ज, एसिडिटी और गैस से जुड़ी समस्या हो सकती है। मूसली का अधिक सेवन करने से आपको गंभीर कब्ज बन सकती है, आपको पेट साफ करने में दिक्कत हो सकती है।

mulsi powder side effects or nuksan

3. आंतों से जुड़ी समस्याएं हो सकती हैं

अगर अधिक मात्रा में मूसली का सेवन किया जाता है, तो इससे आपको पेट के साथ ही आंतों से जुड़ी समस्याओं से भी परेशान होना पड़ सकता है। दरअसल, मूसली आंतों के स्वास्थ्य पर प्रतिकूल प्रभाव डालता है, इससे आपको इरिटेबल बाउल सिंड्रोम के लक्षणों का भी सामना करना पड़ सकता है। अगर आपको पहले से ही आंतों की कोई समस्या है, तो मूसली पाउडर का सेवन सिर्फ आयुर्वेदिक डॉक्टर की सलाह पर ही करें।

4. भूख में कमी कर सकता है

मूसली पाउडर (Musli Powder) आपके भूख को भी कम कर सकता है। अगर कोई व्यक्ति सफेद मूसली का अधिक मात्रा में सेवन करता है, तो इससे पाचन तंत्र प्रभावित हो सकता है। इससे भूख कम हो सकती है। इसलिए आपको सफेद मूसली पाउडर डॉक्टर के द्वारा बताई गई डोज के बराबर ही लेनी चाहिए। अगर सफेद मूसली लेने से आपको भूख में कमी महसूस होती है, तो आपको डॉक्टर से कंसल्ट करना चाहिए।

इसे भी पढ़ें- इन लोगों को नहीं करना चाहिए सफेद मूसली का सेवन, जानें सावधानियां

5. कफ बढ़ सकता है

आपको बता दें कि सफेद मूसली पाउडर की तासीर बेहद ठंडी होती है। ऐसे में अगर आप अधिक मात्रा में मूसली पाउडर लेंगे, तो इससे आपके शरीर में कफ बढ़ सकता है। इसलिए अगर आपको पहले से ही सर्दी, खांसी या जुकाम है, तो डॉक्टर की सलाह पर ही सफेद मूसली पाउडर का सेवन करें। 

सफेद मूसली पाउडर स्वास्थ्य के लिए काफी फायदेमंद होता है। यही वजह है कि आयुर्वेदिक डॉक्टर कई तरह की स्वास्थ्य समस्याओं का इलाज करने के लिए सफेद मूसली पाउडर का सेवन करने की सलाह देते हैं। लेकिन आपको बहुत अधिक मात्रा में सफेद मूसली पाउडर (Safed Musli Powder ke Nuksan) का सेवन करने से बचना चाहिए।

Disclaimer