खतरनाक है दिमागी बुखार यानि मेनिनजाइटिस, इन लक्षणों को जानना जरूरी है

मेनिनजाइटिस यानि दिमागी बुखार संक्रामक रोग है, जो सबसे ज्यादा छोटे बच्चों को होता है। ये वायरस, बैक्टीरिया और फंगी के माध्यम से फैलता है।

Anurag Anubhav
Written by: Anurag AnubhavPublished at: Jan 04, 2018
खतरनाक है दिमागी बुखार यानि मेनिनजाइटिस, इन लक्षणों को जानना जरूरी है

मेनिनजाइटिस यानि दिमागी बुखार संक्रामक रोग है, जो सबसे ज्यादा छोटे बच्चों को होता है। ये वायरस, बैक्टीरिया और फंगी के माध्यम से फैलता है। ये एक खतरनाक रोग माना जाता है क्योंकि कई बार मेनिनजाइटिस के इलाज में घंटे भर की देरी भी जानलेवा हो सकती है और कई बार ये ठीक तो हो जाता है लेकिन इसके दुष्प्रभाव जिंदगी भर रहते हैं। मेनिनजाइटिस एक तरह का इंफेक्शन है जो हमारे मस्तिष्क और रीढ़ की हड्डी की रक्षा करने वाले मेंब्रेन में सूजन पैदा कर देते हैं। इस मेंब्रेन को मेनिन्जेस कहते हैं। ये आसपास तरल पदार्थों से घिरा रहता है और इसी तरल पदार्थ में ये वायरस संक्रमण पैदा करते हैं, जिस वजह से इंसान को दिमागी बुखार आ जाता है। वायरल मेनिनजाइटिस का खतरा सबसे ज्यादा छोटे बच्चों को होता है जबकि बैक्टीरियल मेनिनजाइटिस का खतरा युवाओं को होता है।

छोटे बच्चों में लक्षण

नवजात शिशु से लेकर 5 साल तक के बच्चों को मेनिनजाइटिस से सबसे ज्यादा खतरा रहता है। छोटे बच्चों में इसके लक्षण पहचान पाना थोड़ा मुश्किल होता है क्योंकि बच्चे अपनी शारीरिक स्थिति बता नहीं पाते। बच्चे का लगातार रोना, अचानक तेज बुखार आना, अचानक से बहुत ज्यादा सोने लगना, चिड़चिड़ा हो जाना, मायूस रहने लगना, भूख न लगना या कम भूख लगना, बच्चे के सिर पर किसी तरह का उभार आ जाना और शरीर या गर्दन का अकड़ने लगना, ये सभी बच्चों में मेनिनजाइटिस के लक्षण हैं। इनमें से किसी भी लक्षण के दिखने पर डॉक्टर से तुरंत संपर्क करना चाहिए क्योंकि ये एक खतरनाक बीमारी है।

इसे भी पढ़ें:- खानपान से जुड़ा है एनोरेक्सिया रोग, जानें इसके 10 लक्षण

तेज सिरदर्द

मेनिनजाइटिस में व्यक्ति को अक्सर सिर में तेज दर्द की शिकायत रहती है। कई बार ये सिरदर्द असहनीय हो जाता है। इससे शरीर के अन्य अंगों पर भी प्रभाव पड़ सकता है लेकिन तेज सिर  दर्द की वजह से शरीर के किसी और अंग पर ध्यान नहीं जाता है।

अचानक बुखार आना

 

मेनिनजाइटिस में अचानक से तेज बुखार आता है और ठंड लगने लगती है। ऐसे में शरीर का तापमान तेजी से बढ़ने लगता है और ठंड से शरीर कांपने लगता है। ये लक्षण छोटे बच्चों में भी दिख सकते हैं।

इसे भी पढ़ें:- वायरल बुखार में खूब खायें

पेट और जोड़ों में दर्द और उल्टी

इस रोग का प्रभाव शरीर के किसी भी हिस्से पर पड़ सकता है। पेट और जोड़ों में अचानक से तेज दर्द होना भी मेनिनजाइटिस का लक्षण हो सकता है। तेज पेट दर्द के साथ कभी-कभी उल्टी और मतली होने लगती है।

रोशनी से डर और धुंधला दिखना

कई मामलों में मेनिनजाइटिस का आंखों पर गहरा प्रभाव पड़ता है। इसकी वजह से व्यक्ति को सभी चीजें दो-दो, या धुंधली दिखाई देने लगती हैं। छोटे बच्चों को कई बार रोशनी से डर लगने लगता है और तेज रोशनी से उनकी आंखों से पानी निकलने लगता है।

ऐसे अन्य स्टोरीज के लिए डाउनलोड करें: ओनलीमायहेल्थ ऐप

Read More Articles On Other Diseases In Hindi

Disclaimer