एसिडिटी होने पर नींबू-पानी पीना कितना सुरक्षित है? एक्सपर्ट से जानें कैसी गलती बढ़ा सकती है आपकी परेशानी

नींबू पानी पानी फायदेमंद है, लेकिन डायटीशिन की बताई बातों का ध्यान रखें तभी। कुछ गलतियों से बचाव करना भी जरूरी है। जानने के लिए पढ़ें ये आर्टिकल।

Satish Singh
Written by: Satish SinghPublished at: Sep 17, 2021
एसिडिटी होने पर नींबू-पानी पीना कितना सुरक्षित है? एक्सपर्ट से जानें कैसी गलती बढ़ा सकती है आपकी परेशानी

स्ट्रीट फूड और मसालेदार खाने का चलन आज के समय बहुत ज्यादा है। इसके कारण कोई न कोई  एसिडिटी की समस्या होते रहती है। एसिडिटी होने पर नींबू पानी कारगर उपाय है। अगर एसिडिटी होती है तो लोग घरेलू उपाय अपनाते हैं और नींबू पानी पीते हैं। लेकिन अगर नियमित रूप से नींबू पानी नहीं पीएं तो यह नुकसान पहुंचा सकती है। जमशेदपुर के बिष्टुपुर की डायटीशियन डॉक्टर एस गुहा से बात कर इस आर्टिकल के माध्यम से आपको बताएंगे एसिडिटी होने पर नींबू पानी कितना सुरक्षित है, गलती या असावधानी बरतने क्या परेशानी हो सकती है।

एसिडिटी है तो खाली पेट गुनगुने पानी में नींबू डालकर पीएं

एक्सपर्ट बताती हैं कि एसिडिटी होने पर बहुत से लोग दवा का सेवन करते हैं, लेकिन अगर नींबू पानी नियमित तौर पर पीएं तो हमें दवा से ज्यादा असर पहुंचाएगी। नींबू पानी पीने से कब्ज, पेट में जलन और खट्टी डकार इत्यादि से भी छुटकारा मिलता है। एसिडिटी से राहत पाने के लिए हमें गुनगुने पानी में नींबू डालकर पीना चाहिए। बहुत से लोग ठंडे पानी में नींबू पानी पीते हैं, लेकिन ठंडे पानी में नींबू पानी से इसका फायदा नहीं मिलता है व एसिडिटी नहीं जाती है। एसिडिटी की आपको समस्या है तो नींबू पानी हमेशा खाली पेट पीना चाहिए। इन सब बातों का अगर हम ध्यान देते हैं तो नींबू पानी पीने से पेट की सारी समस्या जा सकती है।

>Acidity

शरीर का पीएच लेवल कंट्रोल रहता है

एक्सपर्ट बताती हैं कि एसिडिटी होने पर नींबू पानी सबसे अच्छा उपाय है। नींबू पानी से शरीर का पीएच लेवल कंट्रोल होता है। इसमें पाए जाने वैले मैग्नीशियम, कैल्शियम, जिंक, आयरन शरीर को फायदा पहुंचाते हैं। नींबू पानी पीने से एस्कॉर्बिक एसिड बनता होता है, जिससे पेट ठीक रहता है, वहीं एंटी इन्फ्लेमेटरी तत्व पेट में पाए जाने वाले बैक्टीरिया से लड़ते हैं। इससे एसिडिटी की समस्या हमें नहीं होती है साथ ही सर्दी जुकाम से भी हमारे शरीर को बचाता है।

एसिडिटी होने पर नींबू पानी पीने के तरीके

  • सुबह खाली पेट गुनगुने पानी में नींबू पानी पीएंगे तो आपको एसिडिटी समेत पेट की बीमारियां कम होने की संभाना होंगी
  • नियमित रूप से नींबू पानी पीना चाहिए। अगर एक बार नींबू पानी पीकर छोड़ दें और सोचे एसिडिटी खत्म हो गई है तो ऐसा नहीं होता है। नियमित तौर से नींबू पानी पीने से एसिडिटी से राहत मिलती है।

नींबू पानी पीने के वक्त इन बातों का रखें ध्यान

नींबू पानी के कई नुकसान भी है। नींबू पानी पीने से आपका वजन कम हो सकता है। अगर आपका वजन बहुत ही ज्यादा कम है तो नींबू पानी न पीएं। नींबू पानी पीने से पहले हम अगर सावधानियां नहीं बरतेंगे तो दांत में दर्द, पेट में दर्द, सीने में जलन, पेट में जलन, बार-बार पेशाब लगने की समस्या आ सकती है। आइए हम जानते है नींबू पानी पीने से पहले क्या-क्या सावधानियां बरतें।

1. सुबह खाली पेट नींबू पानी पीने के बाद तुरंत ब्रश न करें

बकौल डायटीशियन सुबह-सुबह खाली पेट नींबू पानी पीने से एसिडिटी से राहत मिलती है। लेकिन सुबह नींबू पानी पीने के बाद कुछ लोग तुरंत ब्रश कर लेते हैं। ब्रश करने के कुछ देर बाद या ब्रश करने के कुछ देर पहले हम नींबू पानी पीते हैं तो इससे दांतों को नुकसान पहुंच सकता है। क्योंकि नींबू पानी का एसिड टूथ एनामेल को कमजोर करता है। ब्रश करने बाद यह एसिड प्रभावी ढंग से काम करता है। दांतों की सबसे पहले बाहरी परत को नुकसान पहुंचाता है।

2. अगर सीने में जलन है तो नींबू पानी का सेवन न करें

डायटीशियन के अनुसार अगर आपको सीने में जलन की समस्या है तो नींबू पानी का सेवन नहीं करना चाहिए। अगर सीने में जलन है और हम नींबू पानी पी रहे हैं तो पेट की समस्या घटने की बजाय बढ़ने लगेगी। दरअसल, नींबू में पाए जाने वाले एसिड के कारण ऐसा होता है। जब हमारा पेट सही ढंग से काम नहीं करता है तो पेट से निकलने वाला एसिड फिर एसोफेगस में चले जाता है। नींबू पानी के जरिए हम और एसिड अपने शरीर में डालते हैं तो यह नुकसान पहुंचाता है।

Heartburn

3. अगर बॉडी में आपके ज्यादा आयरन है तो डॉक्टरी सलाह के बाद नींबू पानी पीएं

एक्सपर्ट के अनुसार नींबू पानी पीने से पहले एक बार डॉक्टरी सलाह लें। अगर आपके बॉडी में आयरन ज्यादा है तो नींबू पानी का सेवन न करें। नींबू पानी में अधिक मात्रा में विटामिन सी होती है। यह आयरन का भी स्रोत है। अगर ज्यादा आयरन शरीर में हो जाए तो यह आपको हानि पहुंचा सकता है।

इसे भी पढ़ें : नींबू के साथ भूलकर भी न करें इन चीजों का सेवन, सेहत को हो सकता है गंभीर नुकसान

4. हड्डी को कमजोर बनाती है

ज्यादा नींबू पानी पीने से आपकी हड्डी कमजोर हो जाती है। नींबू में मौजूद एसिड इसे कमजोर करती है। इसलिए डॉक्टर से सलाह लेने के बाद ही नींबू पानी का सेवन करना चाहिए।

5. ज्यादा नींबू के रस को पानी में डालकर नहीं पीएं

पानी में हमेशा नियमित मात्रा में ही नींबू का रस डालें। बकौल डायटीशियन अगर ज्यादा नींबू का रस पानी में डालते हैं तो पेट दर्द की समस्या हो सकती है। क्योंकि नींबू में खाने को पचाने वाले एसिड ज्यादा मात्रा में होते हैं। ज्यादा नींबू का रस पीएंगे तो इससे यह समस्या होगी। पेट में दर्द और जलन की समस्या आएगी।

6. अगर आपको अल्सर है तो नींबू पानी से दूर रहें

अगर आपको अल्सर की बीमारी है तो नींबू पानी का सेवन नहीं करें नहीं तो यह आपको नुकसान पहुंचा सकती है।

इसे भी पढ़ें : वजन घटाने और ब्लोटिंग से राहत दिलाने में मददगार है नींबू और सरसों के बीज का ये नुस्खा, जानें तरीका और फायदे

ज्यादा गर्म पानी में नींबू मिलाकर पीएंगे तो वजन कम हो जाएगा

एक्सपर्ट के अनुसार नींबू को हमेशा हल्के गुनगुने पानी में मिलाकर पीना चाहिए। अगर ज्यादा गर्म पानी में इसे मिलाकर पीएंगे तो बार-बार पेशाब जाने की समस्या होगी। इससे आपका वजन भी कम हो सकता है। ज्यादा नींबू पानी पीने से शरीर में पोटेशियम की कमी आ सकती है।

डॉक्टरी सलाह के बाद ही करें नींबू पानी का सेवन

नींबू पानी अगर तरीके और नियमित रूप से पीएंगे तो यह फायदा पहुंचाएगी। लेकिन अगर आर्टिकल में बताई गई बातों ध्यान नहीं देंगे तो नुकसान हो सकता है। फिर भी आप नींबू पानी से पीने के तरीके आदि की जानकारी डॉक्टर और डायटीशियन से लें। डॉक्टरी सलाह के बाद ही नींबू पानी का सेवन करें।

Read More Articles On Remedies

Disclaimer