कोरोना वायरस की जांच के लिए कैसे लिया जा रहा है सैंपल? जांच के लिए जाएं तो इन बातों का रखें ध्यान

कोरोना वायरस या COVID-19 के टेस्‍ट करवाने से पहले इससे जुड़ी जरूरी बातें जान लें। ताकि आप खुद को तैयार कर सकें।  

Sheetal Bisht
Written by: Sheetal BishtUpdated at: Mar 23, 2020 13:54 IST
कोरोना वायरस की जांच के लिए कैसे लिया जा रहा है सैंपल? जांच के लिए जाएं तो इन बातों का रखें ध्यान

देश और दुनियाभर में कोरोना वायरस के बढ़ते प्रकोप के चलते कई देश के कई शहरों को लॉकडाउन कर दिया गया है। इसके साथ-साथ सरकार ने लोगों को  होम क्‍वारंटाइन की सलाह भी दी है। भारत में कोरोना वायरस के बढ़ते कहर की वजह से COVID-19 टेस्‍ट की सुविधाओं और आइसोलेशन बैड की संख्‍या को भी पहले से अधिक बढ़ा दिया गया है। लेकिन इस बीच लोगों के मन में बहुत से सवाल उठ रहे हैं, जिसमें से एक सवाल यह है कि COVID-19 जांच के लिए कैसे लिया जा रहा है? तो आइए यहां हम आपके इन सवालों के जवाब बता देते हैं। 

खून या यूरिन से नहीं, ऐसे होता है COVID-19 टेस्ट

COVID-19 TEST

कुछ लोगों को लग रहा है कि  COVID-19 या कोरोना वायरस टेस्‍ट के लिए आपको यूरीन या फिर ब्‍लड सैंपल देने की जरूरत होती है, जबकि यह गलत है।  COVID-19 टेस्‍ट के लिए आपको किसी भी यूरीन या ब्‍लड सैंपल देने की जरूरत नहीं है। इसका टेस्‍ट इन सबसे अलग थोड़ा आक्रामक और असुविधाजनक है लेकिन जल्‍दी और आसानी से होने वाला है। लेकिन इसके अलावा, सबसे जरूरी बात कि जब भी आप टेस्‍ट के लिए जांए, तो उससे पहले आपको कई बार अपने लक्षणों की समीक्षा करनी होगी।

इसे भी पढ़ें: कोरोना वायरस की वजह से घर पर हैं कैद (क्वारंटाइन) तो इन 7 तरीकों से रखें खुद को व्‍यस्‍त

नाक से किया जाता है Swabs इकट्ठा  

COVID-19 टेस्‍ट संक्रमित वयक्ति की नाक से swabs इकट्ठा किया जाता है। जिसके व्‍यक्ति के गले से नाक के माध्यम से एक लंबी क्यू-टिप डाली जाती है। टेस्‍ट के दौरान आपको बस अपने आप को शांत रखना होता है। COVID-19 टेस्‍ट में 10-15 सेकेंड या ज्‍यादा से ज्‍यादा 1 मिनट से अधिक का समय नहीं लगता। इसके बाद एकत्र किए गए सैंपल को फिर एक कंटेनर में रखा जाता है, जो सीधे प्रयोगशाला में जाता है।

टेस्‍ट के परिणाम तक इंतजार करना होगा? 

एक बार टेस्‍ट हो जाने के बाद, आपको अपने यात्रा इतिहास के आधार पर, मौके पर भर्ती होने के लिए कहा जा सकता है। यदि आपका टेस्‍ट पॉजिटिव होता है, तो घबराएं नहीं और इस संभावना को ध्यान में रखें और उसी के अनुसार खुद को तैयार करें। यदि आप चाहते हैं, तो एक बेडशीट, पानी या घर का बना भोजन भी साथ में लें। निश्चिंत रहें, सरकार इन जगहों की स्वच्छता को बरकरार रखने की पूरी कोशिश कर रही है और कई लोगों को इसके लिए वाउचर मिला है।

इसे भी पढ़ें: कोरोना वायरस में बुखार और दर्द के लिए न करें Ibuprofen दवा का प्रयोग, जानें किस दवा को बताया सही

corona virus test

आइसालेशन होने पर डरें नहीं 

हालांकि, टेस्‍ट के रिजल्‍ट को आने में एक या दो दिन लग सकते हैं, तब तक आपको धैर्यपूर्वक प्रतीक्षा करनी होगी। अगर आपको आइसोलेशन में रखा जाता है, तो डरने की कोई बात नहीं है। क्योंकि आपके पास आपका मोबाइल फोन होगा और आप अपने दोस्तों और परिवार के साथ संपर्क में रह सकते हैं। 

Read More Article On Other Diseases In Hindi

Disclaimer