कनेर के पत्ते के 5 फायदे और इन्हें इस्तेमाल करने के तरीके

कनेर के पत्ते खाने के फायदे : कनेर के पत्ते के इस्तेमाल से आप कई प्रकार के दर्द और घाव को ठीक कर सकते हैं। आइए जानते हैं कैसे। 

Pallavi Kumari
Written by: Pallavi KumariPublished at: Apr 24, 2022Updated at: Apr 24, 2022
कनेर के पत्ते के 5 फायदे और इन्हें इस्तेमाल करने के तरीके

कनेर के फूल के बारे में तो आपने सुना ही होगा। ये फूल कई औषधीय गुणों से भरपूर होते हैं।  इसमें कुछ एंटीबैक्टीरियल और एंटीसेप्टीक गुण होते हैं जिसकी वजह से कई लोग कनेर के फूलों का उपयोग घरेलू नुस्खों में करते हैं। लेकिन आज हम बात करने के पत्तियों के बारे में करेंगे। दरअसल, कनेर के पत्तों में भी इसके फूलों जैसे खास गुण होते हैं। इसके पत्तों से लेप बना कर लोग कई प्रकार से इस्तेमाल करते हैं। इससे लोग दर्द पर लगाते हैं, तो कई बार घाव व दाद-खुजली में इस्तेमाल करते हैं। इसके अलावा भी इन पत्तियों को इस्तेमाल करने के कई फायदे हैं। आइए जानते हैं सबके बार में विस्तार से। साथ ही हम ये भी जानेंगे कि कनेर के पत्तों का इस्तेमाल कैसे किया जा सकता है।

कनेर के पत्तों के फायदे-Kaner leaves uses benefits in hindi

1. दाद होने पर लगाएं कनेर के पत्ते

दाद होने पर आप कनेर के पत्तों का इस्तेमाल कर सकते हैं। इसका एंटीबैक्टीरियल गुण दाद के बैक्टीरिया को मारने और इसे ठीक करने में मदद करेगा। इसके अलावा इसका एंटीसेप्टीक गुण दाद के दाग और निशान को कम करने में मदद करता है। आप इसे लंबे समय के लिए इस्तेमाल करें तो ये दाद को पूरी तरह से ठीक करने में मदद करेगा। कनेर के पत्तों से लेप बनाने के लिए आपको ज्यादा कुछ नहीं करना है, बस आपको कनेर के पत्तों को नारियल तेल में पकाना है और इस तेल को अपने शरीर पर लगाना है। ये दाद को जड़ से खत्म करने में मदद करेगा।

इसे भी पढ़ें : बदाम रोगन तेल के इस्तेमाल से शरीर को मिलते हैं ये 7 फायदे, जानें इस्तेमाल का तरीका

2. जोड़ों के दर्द में फायदेमंद

जोड़ों के दर्द के लिए आप कनेर के पत्तों का लेप बना कर इस्तेमाल कर सकते हैं। दरअसल, इसमें एंटीइंफ्लेमेटरी गुण होता है जो कि जोड़ों के दर्द और सूजन को दूर कर सकता है। साथ ही ये लेप हड्डियों को अंदर से आराम भी पहुंचाता है। इसे बनाने के लिए आपको बस ये करना है कि कनेर की ताजी पत्तियों को लें और इसे पीस लें। आप इसमें थोड़ा जैतून का तेल मिला कर गर्म कर लें। अब इसे दर्द वाले जोड़ों पर लगाएं और हल्के हाथों से मालिश करें। फिर इसे ऐसे ही छोड़ दें। आप पाएंगे कि आपके जोड़ों का दर्द इससे धीमे-धीमे कम हो जाएगा।

kaner ke patte

3. पुराने घावों पर

अगर आपको कभी कोई चोट लग जाए और वो पुरानी होने लगे तो आपको कनेर के पत्तों का इस्तेमाल करना चाहिए। दरअसल, कनेर के पत्तों में पुराने घावों को ठीक करने की क्षमता होती है। आप इसे लगातार इस्तेमाल करके पुराने घावों को ठीक कर सकते हैं। साथ ही इसका एंटीसेप्टीक गुण घाव वाली त्वचा को भरने, नए त्वचा आने और घाव को पूरी तरह से ठीक होने में मदद करती है। आप इसके लिए कनेर के पत्तों को पीस लें और इसमें हल्का सा एलोवेरा मिला लें। अब इस लेप को अपने घाव पर लगाएं। ये घाव को तेजी से ठीक करने में मदद करेगा।

4. खुजली कम करने में मददगार

कनेर के पत्तों को आप खुजली कम करने के लिए इस्तेमाल कर सकते हैं। दरअसल, इसमें त्वचा को शांत करने और खुजली को कम करने वाले गुण है। इसे लगाने से आप कैसे भी खुजली को उसमें राहत पा सकते हैं। इसके लिए कनेर के पत्तों को लौंग या फिर पुदीने के तेल में पका कर रख लें। फिर इसे खुजली वाली जगह पर लगाएं। ये खुजली को तेजी से कम करने में आपकी मदद करेगा।

इसे भी पढ़ें : असली और नकली हींग की पहचान करें इन 5 तरीकों से, जानें नकली हींग खाने के नुकसान

5.  कीड़े-मकोड़े काटने पर

कीड़े-मकौड़े काटने पर कनेर के पत्ते बहुत फायदेमंद है। इसका एंटीबैक्टीरियल गुण इंफेक्शन को कम करने में मददगार है। ये कीड़े-मकौड़े के काटने पर होने वाले रैशेज और खुजली को कम कर सकता है और इससे राहत दिलाने में मदद कर सकता है। इसके लिए आप दो काम कर सकते हैं। पहले तो कनेर के पत्तों को नारियल तेल में पका लें और इसमें थोड़ा सा काली मिर्च पीस कर मिला लें। अब इसे आप अपनी स्किन पर लगा लें।

इस तरह इन पांच तरीकों से कनेर के पत्ते सेहत के लिए कई प्रकार से फायदेमंद हैं। आप चाहें तो, इसे दूध में मिला कर और इसका लेप बना कर अपने चेहरे पर लगा सकते हैं। ये चेहरे के दाग-धब्बों को कम करने में मददगार है।

all images credit: ayurvedaindia.in

Disclaimer