पीरियड्स के दौरान टैम्पोन इस्तेमाल करते हुए इन बातों का रखें ध्यान, नहीं तो हो सकती है परेशानी

टैम्पोन का इस्तेमाल वातावरण के लिए भी फायदेमंद है। इससे सेनेटरी नैपकिन से होने वाले पर्यावरण प्रदूषण को रोका जा सकता है।

Pallavi Kumari
Written by: Pallavi KumariPublished at: Jan 29, 2020Updated at: Jan 29, 2020
पीरियड्स के दौरान टैम्पोन इस्तेमाल करते हुए इन बातों का रखें ध्यान, नहीं तो हो सकती है परेशानी

पीरियड्स के दौरान बहुत सी लड़कियां सेनेटरी नैपकिन की जगह टैम्पोन का इस्तेमाल करती हैं। पर टैम्पोन के इस्तेमाल को लेकर बहुत सी लड़कियां श्योर नहीं होती हैं। उनके मन में इसके इस्तेमाल और इससे जुड़े कई प्रश्न आते रहते हैं। टैम्पोन को लेकर कई सारे मुख्य प्रश्नों में से एक है कि क्या टैम्पोन वजाइना के भीतर ही खो सकता है या फंस सकता है। इसके साथ ये भी कि क्या टैम्पोन वजाइना को नुकसान भी पहंचा सकता है। तो आइए आज हम आपको पहले इसके बारे में बताते हैं और फिर ये कि इसका इस्तेमाल कितना सेफ है।

inside_periodpain

टैम्पोन क्या है?

एक टैम्पन मूल रूप से एक प्लग जैसी संरचना है, जो कपास जैसी नरम सामग्री से बनाई जाती है। ये पीरिएड्स से ही निपटने का एक अन्य तरीका है। टैम्पन सेनेटरी नैपकिन की ही तरह स्राव को सोखता है। पर सेनेटरी नैपकिन से अलग इसे वजाइना के अंदर डाला जाता है। एक टैम्पून वजाइना के अंदर सुरक्षित तरीके से फिट होता है, वहीं ये वजाइना की दीवारों में मासिक स्राव को सोखते हुए फूल जाता है। फिर आप इसे निकाल कर साफ कर सकती हैं और फिर से लगा सकती हैं। हालांकि अगर आप एक बार टैम्पन के लिए अभ्यस्त हो जाते हैं, तो आपको सैनिटरी नैपकिन का उपयोग करने का मन नहीं होगाष ऐसा इसलिए क्योंकि बहुत से लोगों को ये फ्री महसूस नहीं करवा पाता है।

क्या टैम्पोन आपके वजाइना के अंदर खो सकता है?

नहीं, बिलकुल भी नहीं। ऐसा इसलिए क्योंककि वजाइना केवल तीन-चार इंच ही गहरी होती है। इस गहराई के दूसरे छोर पर खुलने वाला आपका गर्भाशय ग्रीवा है, जो मासिक धर्म के रक्त को बाहर करने और स्पर्म को अंदर जाने देने के लिए पर्याप्त साइज है। इसलिए, टैम्पोन आपके शरीर के अंदर हमेशा के लिए खो नहीं सकता है। इसलिए आप बिना डर के चिंतामुक्त हो कर इसका इस्तेमाल कर सकती हैं। पर एक टैम्पोन आपकी वजाइना में फंस जरूर सकता है। ऐसा तब होता है जब आप जल्दी में होते हैं या आपको इससे सही से नहीं लगाते या नहीं निकालते। वहीं रात में इसे निकालते वक्त ये फंस सकता है या अगर आप रात भर इसे लगाकर सो गए हैं, तब भी ये हो सकता है।

inside_tampon

इसे भी पढ़ें : पीरियड्स के दौरान क्रेविंग की समस्या से रहती हैं परेशान, जानें किन कारणों से बढ़ती है क्रेविंग

अगर टैम्पोन वजाइना में फंस जाए

अगर आपके शरीर में टैम्पोन फंस जाए तो आपको ये कुछ चीजें महसूस हो सकती हैं। जैसे-

  • वजाइनल ब्लीडिंग
  • गंदी महक आना
  • गुलाबी या भूरे रंग की ब्लीडिंग
  • वजाइना में खुजली और जलन
  • पेल्विक दर्द
  • वजाइना में रेडनेस 
  • वजाइनल इंफेक्शन

सावधानियां

अटके हुए टैम्पोन को हल्के में न लें और इसे निकालने की कोशिश करें। कभी न सोचे कि ये खुद ही बाहर आ जाएगा या शरीर में नष्ट हो जाएगा। ऐसा करने से कई तरह के अन्य खतरे पैदा हो सकते हैं। जैसे

बैक्टीरियल वेजिनोसिस: यह महिलाओं में सबसे आम वजाइनल इंफेक्शन में से एक है। बैक्टीरिया का एक अतिवृद्धि, जो स्वाभाविक रूप से वजाइना में पाया जाता है, वजाइनी की सूजन और पीएच संतुलन बिगाड़ सकता है। इस तरह ये दुर्गंधयुक्त ब्लीडिंग के साथ होता है।

इसे भी पढ़ें : Women's Health: पीरियड के दर्द से हैं परेशान तो खाने में शामिल करें ये 5 मिनरल, एक्सपर्ट से जानें फायदे

टॉक्सिक शॉक सिंड्रोम (टीएसएस): एक दुर्लभ, जीवन-धमकाने वाली स्थिति जब स्टैफिलोकोकस ऑरियस बैक्टीरिया रक्तप्रवाह में प्रवेश करती है और विषाक्त पदार्थों का उत्पादन करती है। दुर्भाग्य से अगर ऐसा हुआ तो पहले इसे खुद बाहर निकालने की कोशिश करें। लेकिन शुरू करने से पहले अपने हाथ धोना न भूलें। ऐसे में अपने टॉयलेट सीट पर बैठें और इसे बाहर निकालने की कोशिश करें। पहले पैरों को फैलाएं, फिर अंदर अपनी उंगलियों को डालें और फिर इसे निकालने की कोशिश करें। बस यह सुनिश्चित करें कि खुद को घायल न करें। अगर फिर भी टैम्पून वजाइना के बाहर न आए तो स्त्री रोग विशेषज्ञ को दिखाएं।

Read more articles on Womens in Hindi

Disclaimer