लैक्टोज इन्टॉलरेंस की समस्या है तो फॉलो करें ये खास डाइट प्लान, डायटीशियन से जानें क्या खाएं-क्या नहीं

लैक्टोज इंटॉलरेंस डाइट में आपको अपने खाने में दूध शामिल नहीं करना चाहिए। इससे आपकी परेशानी बढ़ सकती है।

Dipti Kumari
Written by: Dipti KumariPublished at: Apr 04, 2022Updated at: Apr 04, 2022
लैक्टोज इन्टॉलरेंस की समस्या है तो फॉलो करें ये खास डाइट प्लान, डायटीशियन से जानें क्या खाएं-क्या नहीं

बच्चों में जन्म से लेकर तीन साल तक की उम्र तक लैक्टोज के पाचन की क्षमता होती है क्योंकि बच्चे शुरूआत में केवल मां का दूध पीते हैं लेकिन थोड़ा बड़े होने के बाद या बड़ी उम्र के लोगों में भी लैक्टोज इंटॉलरेंस की परेशानी हो सकती है। कई बार तो लगातार दूध का सेवन करने वाले लोगों में भी लैक्टोज इंटॉलरेंस की दिक्कत हो सकती है। दरअसल यह तब होता है, जब आपका शरीर लैक्टेज को ठीक से पचा नहीं पाता है। इसका पाचन सही ढंग से न होने के पीछे कई कारण हो सकते हैं। बाजार में सिंथेटिक दूध की आपूर्ति और दूध में मिलावट के कारण हो सकता है। लैक्टोज इंटॉलरेंस के कारण आपको पेट के निचले हिस्से में दर्द, ऐंठन, गैस , सूजन, दस्त और अपच की परेशानी हो सकती है। ऐसे लक्षण दिखने पर इसे इग्नोर न करें और तुरंत डॉक्टर से संपर्क करें लेकिन ऐसे लोगों को अपने खानपान को लेकर भी बड़ी सतर्कता बरतनी पड़ती है। आपको अपने आहार में लैक्टोज रहित खाद्य पदार्थ लेने की आवश्यकता होती है। इसके लिए आपकी दिनभर की डाइट के बारे में विस्तार से बता रही हैं डाइट क्लीनिक और डॉक्टर हब क्लीनिक की डायटीशियन अर्चना बत्रा। 

ब्रेकफास्ट में इन चीजों को करें शामिल

1. ब्रेकफास्ट में आप दूध की जगह कई चीजों को शामिल कर सकते हैं। जैसे सोया मिल्क, केला, अंडा, भीगे हुए बादाम खा सकते हैं। 

2. इसके अलावा आप बादाम दूध में ओट्स बनाकर खा सकते हैं या फिर दही के साथ मूसली का सेवन कर सकते हैं। इससे भी आपको काफी फायदा मिलेगा। 

3. आप नाश्ते में पराठा, हरी सब्जी और दाल भी खा सकते हैं। आप रोटी पर घी का इस्तेमाल कर सकते हैं। इसके साथ आप छाछ पी सकते हैं। 

4. आप चाहे तो साउथ इंडियन डिश इजली, सांभर, पोहा भी खाने में ले सकते हैं। 

5.  साथ ही आप मूंग दाल का चिला, दाल और सलाद ले सकते हैं। 

Lactose-intolerance-diet

Image Credit- The Spurce Eat

मिड-मार्निंग में खाएं ये चीजें

1. मिड-मार्निंग में आप हल्की-फुलकी चीजें खाएं। जैसे नारियल पानी, छाछ, स्मूदी जिसमें दूध का इस्तेमाल न हो। 

2. साथ में आप सलाद, बेल का शरबत और आम पन्ना भी पी सकते हैं। 

3. इसके अलावा दिनभर भरपूर मात्रा में पानी पिएं। इससे भी आपको काफी फायदा होगा। 

लंच में इन चीजों को करें शामिल 

1. आप अपनी दिनचर्या के हिसाब से हल्का या भारी लंच खा सकते हैं। इसके लिए आप मौसमी सब्जियां, साबुत अनाज से बनी रोटियां और दाल खा सकती हैं। 

2. इसके अलावा आप दोपहर के खाने में 100 ग्राम चिकन, रोटी और पनीर सलाद खा सकते हैं। 

3. लंच में आपके समय अधिक नहीं है, तो आप चिकन या वेजिटेबल सूप भी पी सकते हैं। 

4. साथ में बिरयानी या फ्राई राइस के साथ रायता खाना भी एक अच्छा विकल्प हो सकता है। 

Lactose-intolerance-diet

Image Credit- Everyday Health

शाम का स्नैक्स 

1. बहुत से लोगों को शाम तक तेज भूख और प्यास लग आती है, तो इस समय आम पन्ना का रस, ग्रीन टी और चना चाट खा सकते हैं। 

2. इसके अलावा आप शाम के नाश्ते में ब्लैक टी या कॉफी ले सकते हैं और राजमा चाट बना सकते हैं। 

3. शाम के समय में दूध वाली चाय की जगह आप लैक्टोज फ्री दूध या नारियल दूध की चाय बना सकते हैं। 

इसे भी पढ़ें- दूध नहीं पचा पाते हैं 'लैक्टोज सेंसिटिव' लोग, जानें Lactose Intolerance का असली कारण और दूध के हेल्दी विकल्प

डिनर रखें लाइट

1. रात का खाना बिल्कुल हल्का और सादा रखने की कोशिश करें। 

2. इसके लिए आप खाने में दलिया खा सकती है। 

3. इसके अलावा टोफू और पनीर सलाद खा सकते हैं। 

4. रात के डिनर में आप एक रोटी, सब्जी और दाल ले सकते हैं। 

हो सकता है कि आपको दही या पनीर से भी परेशानी आ सकती है, तो आप इसकी जगह अन्य विकल्पों की भी तलाश कर सकते हैं, जो आपके लिए फायदेमंद हो।

Lactose-intolerance-diet

Image Credit- Southern Living

क्या नहीं खाना चाहिए

1. प्लेन दूध, मिल्कशेक और दूध आधारित पेय पदार्थ का सेवन न करें। 

2. दूध आधारित हलवा, मिठाई, दलिया, और कस्टर्ड को अपने आहार में शामिल न करें। 

3. आइसक्रीम, क्रीम, पेस्ट्री/केक में क्रीम, सॉस, सूप और कॉफी क्रीम बिल्कुल न लें। 

4. दही से अगर आपको परेशानी हो, तो इसका सेवन भी न करें। 

Main Image Credit- Iorganic

Disclaimer