Doctor Verified

मह‍िलाओं के ल‍िए क्‍यों जरूरी है वजाइनल हाईजीन? समझें डॉक्‍टर से

Feminine Hygiene: योन‍ि में संक्रमण और बीमार‍ियों से बचने के ल‍िए फेम‍िन‍िन हाईजीन को समझना जरूरी है। जानते हैं इसका महत्‍व और कुछ जरूरी ट‍िप्‍स।

Yashaswi Mathur
Written by: Yashaswi MathurPublished at: Aug 17, 2022Updated at: Aug 17, 2022
मह‍िलाओं के ल‍िए क्‍यों जरूरी है वजाइनल हाईजीन? समझें डॉक्‍टर से

वजाइनल हाईजीन को बनाए रखना जरूरी है। ऐसा न करने पर इंफेक्‍शन और गंभीर बीमार‍ियां हो सकती हैं। मह‍िलाओं के ल‍िए वजाइनल हाईजीन पर बात करना नॉर्मल नहीं है। ज्‍यादातर मह‍िलाएं इस बारे में बात नहीं करना चाहतीं। लेकिन आपको बता दें क‍ि सेहत को बेहतर रखने के ल‍िए मह‍िलाओं को फेमिनिन हाईजीन का महत्‍व और कुछ जरूरी ट‍िप्‍स की जानकारी होनी चाह‍िए। इस लेख में हम डॉक्‍टर से जानेंगे हेल्‍दी वजाइना के कुछ टि‍प्‍स और हाईजीन की जरूरत। इस व‍िषय पर बेहतर जानकारी के ल‍िए हमने लखनऊ के मां-सी केयर क्‍लीन‍िक की स्‍त्री रोग व‍िशेषज्ञ व लैक्‍टेशन एक्‍सपर्ट डॉ तन‍िमा स‍िंघल से बात की। 

female hygiene tips

क्‍यों जरूरी है वजाइनल हाईजीन? 

वजाइनल हाईजीन (vaginal hygiene) का ख्‍याल रखने से आप कई तरह की समस्‍याओं से बच सकती हैं, जैसे-

  • वजाइनल ड्राईनेस से छुटकारा।
  • वजाइनल बदबू से छुटकारा।
  • संक्रमण से बचाव।
  • हेल्‍दी वजाइना।
  • यूटीआई (UTI) से बचाव।
  • खुजली और जलन से छुटकारा।

इसे भी पढ़ें- वजाइना को रखना है स्वस्थ तो महिलाएं रखें इन 6 बातों का ध्यान, जानें हेल्दी वजाइना के लिए टिप्स

वजाइनल हाईजीन ट‍िप्‍स- Vaginal Hygiene Tips 

आपको रोजाना नहाना चाह‍िए। गर्मि‍यों में 2 बार नहाएं। हाथों को भी साफ रखें। इसके अलावा कुछ आसान ट‍िप्‍स पर गौर करें- 

प्‍यूब‍िक हेयर को साफ रखें 

प्‍यूब‍िक हेयर (pubic hair), वजाइना को इंफेक्‍शन से बचाने का काम करते हैं। लेक‍िन आपको प्‍यूब‍िक हेयर्स को साफ रखना चाह‍िए। जरूरी नहीं है क‍ि आप प्‍यूब‍िक हेयर्स को र‍िमूव करें लेक‍िन आप उसे ट्र‍िम कर सकते हैं। अगर प्‍यूब‍िक हेयर्स को शेव कर रहे हैं, तो हर बार नए रेजर का इस्‍तेमाल करें।   

पीएच लेवल बरकरार रखें 

वजाइनल एर‍िया को हेल्‍दी रखने के ल‍िए सही पीएच लेवल (PH level) को बरकरार रखें। तापमान में बदलाव और नमी के कारण इंफेक्‍शन का खतरा बढ़ जाता है। हेल्‍दी वजाइना का पीएच लेवल  3.8 से 4.5 के बीच होता है। आप वजाइनल एर‍िया में साबुन का इस्‍तेमाल न करें। माइल्‍ड वॉश का इस्‍तेमाल कर सकते हैं। 

पीर‍ियड्स में वजाइनल हाईजीन का ख्‍याल कैसे रखें?

periods tips

पीर‍ियड्स (periods) में इंफेक्‍शन होने का खतरा बढ़ जाता है। इस दौरान आपको कुछ खास ट‍िप्‍स की मदद लेनी चाह‍िए-  

वजाइना को साफ रखें 

प‍ीर‍ियड्स के दौरान वजाइनल एर‍िया (vaginal area) को साफ रखें। हर 3 से 4 घंटे में एक बार सैन‍िटरी पैड को जरूर बदलें। हर द‍िन ड्राई अंडरव‍ियर पहनें और जरूरत महसूस होने पर आप एक से ज्‍यादा बार भी बदल सकते हैं। योन‍ि को साफ रखें। वॉशरूम जाने के बाद वाइप्‍स की मदद से वजाइनल एर‍िया को साफ कर लें।    

खुले में नैपक‍िन न फेंके 

सैन‍िटरी नैपक‍िन (sanitary napkin) को इस्‍तेमाल के बाद खुले में फेंकने की गलती न करें। इससे बीमार‍ियां फैलती हैं। न ही आपको नैपक‍िन्‍स को टॉयलेट में फ्लश करना चाह‍िए। इस्‍तेमाल के बाद नैपक‍िन को कागज में लपेटकर कूड़ेदान में फेंक दें।  

पानी प‍िएं   

वजाइनल हाईजीन को बरकरार रखने के ल‍िए पानी का सेवन जरूरी है। पर्याप्‍त मात्रा में पानी का सेवन करने से योन‍ि में संक्रमण (vaginal infection) का खतरा भी कम होता है। पानी पीने से पीएच लेवल ठीक रहता है और वजाइनल ड्राईनेस, खुजली और रैशेज आद‍ि से छुटकारा म‍िलता है।  

वजाइनल एर‍िया को साफ रखकर आप सही हाईजीन बरकरार रख सकते हैं। योन‍ि को साफ और ड्राई रखें। इससे आप बीमारी और इंफेक्‍शन से बच सकते हैं।

Disclaimer