होंठ के फटते किनारों से पाना चाहते हैं छुटकारा? तो इन घरेलू तरीकों का आज से ही करें इस्तेमाल

अगर आप भी अपने होंठ के किनारों के फटने से परेशान हैं तो इन घरेलू तरीकों का आज से ही करें इस्तेमाल, कुछ ही दिनों में दूर होगी समस्या।

Vishal Singh
फैशन और सौंदर्यWritten by: Vishal SinghPublished at: Jun 15, 2013
होंठ के फटते किनारों से पाना चाहते हैं छुटकारा? तो इन घरेलू तरीकों का आज से ही करें इस्तेमाल

अपने आपको स्वस्थ रखना जितना जरूरी है उतना ही जरूरी है कि आप अपनी त्वचा को भी स्वस्थ रखें। अपने चेहरे या त्वचा की देखभाल के लिए आपको सभी पोषण की पूर्ति करने के साथ ही उनका भरपूर ख्याल रखना होता है। ऐसे ही एक समस्या है होठों के किनारों छिलने या फटने की समस्या। इस समस्या का सामना ज्यादातर लोग कर रहे हैं और इससे बचने के लिए कई तरह के तरीके अपनाते हैं। आपको बता दें कि होठों के किनारों के फटने का कारण होता है सही पोषण का न होना। कई लोग इसे एक आम समस्या समझ कर ही नजरअंदाज कर देते हैं। जबकि इसकी देखभाल करना आपके लिए जरूरी हो जाता है। आइए इस लेख के जरिए समझते हैं कि मुंह के किनारे फटने के कारण क्या है, लक्षण क्या है और बचाव के क्या तरीके हैं। 

skincare

मुंह के किनारे फटने के कारण

मुंह के किनारे फटने के अलग-अलग कारण हो सकते हैं। इसके लिए सबसे बड़ा कारण माना जाता है लार में होने वाला खमीर संक्रमण, जो आपके होठों के आसपास के किनारों को छिलने पर मजबूर कर देता है। यह अतिरिक्त लार कोनों में बैठेगा, जो खमीर जैसे कवक के बढ़ने के लिए सही गर्म वातावरण होता है।कोई भी व्यक्ति अपने होठों के दर्द या सूखापन को शांत करने के प्रयास में अपने होंठ चाटने की कोशिश करता है। इसके अलावा ये प्रमुख कारण है वायरस और बैक्टीरिया जो आपके मुंह के किनारों को छिलने या फटने का कारण बनते हैं। 

लक्षण 

  • होठों के किनारों से खून का बहना।
  • मुंह के किनारों का लाल पड़ना।
  • फूला हुआ होंठ
  • मुंह के किनारों का फटना।
  • खुजलीदार त्वचा होना।
  • पपड़ीदार त्वचा।
  • मुंह के किनारों में दर्द महसूस होना।
  • आपके मुंह में बुरा स्वाद।
  • आपके होंठ या मुंह पर जलन महसूस होना।

इसे भी पढ़ें: बढ़ती गर्मी से आपकी त्वचा भी हो रही है खराब? तो इन तरीकों से करें अपनी त्वचा की देखभाल

घरेलू उपचार

टी ट्री ऑयल और लैवेंडर ऑयल

टी ट्री ऑयल और लैवेंडर ऑयल आपके मुंह के फटे किनारों को फिर से स्वस्थ बनाने के लिए बहुत अच्छे हो सकते हैं। टी ट्री ऑयल और लैवेंडर ऑयय में खास ऐंटिफंगल गुण होते हैं जो आपके मुंह के किनारों पर आए फंगल को खत्म करने में मदद कर सकते हैं, इसके साथ ही ये आपकी त्वचा को सूूखेपन से दूर कर आपकी सूजन और दर्द को भी कम करने का काम करता है। 

बेकिंग सोडा

बेकिंग सोडा त्वचा संबंधित कई तरह की समस्याओं को दूर करने का काम करता है। ऐसे ही आपके मुंह के किनारों के फटने की समस्या को दूर करने के लिए भी बेकिंग सोडा काफी मददगार तरीका है। आपको बता दें कि बेकिंग सोडा में भरपूर मात्रा में प्राकृतिक एंटीसेप्टिक गुण होते हैं जो आपकी त्वचा से फंगल और बैक्टीरियल संक्रमण को खत्म करने में आपकी मदद करते हैं। 

इसे भी पढ़ें: सेंसिटिव स्किन की ऐसे करें देखभाल, चेहरा नहीं होगा ड्राई और पैची

लहसुन

लहसुन में ऐसे खास तत्व पाए जाते हैं जो हमारे स्वास्थ्य संबंधित कई गंबीर रोगों को दूर करने का काम करते हैं। ऐसे ही इसमें एलिसिन नामक एक खास यौगिक होता है जो एंटिफंगल बैक्टीरिया को मारने का काम करता है। प्रभावित हिस्से पर लहसुन का इस्तेमाल करने से आपको दर्द, सूजन और खुजली से भी राहत मिल सकेगी। आप प्रभाावित हिस्से पर लहसुन का पेस्ट बनाकर नियमित रूप से लगा सकते हैं। कुछ ही दिनों में आपके मुंह के किनारे ठीक होने की ओर बढ़ेंगे। 

Read More Articles on Skin Care in Hindi

Disclaimer