आंतों को स्वस्थ रखने के लिए अपनाएं ये 7 टिप्स, पाचन से जुड़ी समस्याओं से मिलेगा छुटकारा

आंतों को मजबूत करने के उपाय : आंतों को मजबूत करने से आप पेट की कई बीमारियों से बच सकते हैं। आइए, जानते हैं विस्तार से।

Pallavi Kumari
Written by: Pallavi KumariPublished at: Apr 23, 2022Updated at: Apr 23, 2022
 आंतों को स्वस्थ रखने के लिए अपनाएं ये 7 टिप्स, पाचन से जुड़ी समस्याओं से मिलेगा छुटकारा

हमारी आंतों का सेहत हमारी भूख और पाचन तंत्र से जुड़ा हुआ है। दरअसल, अगर आपका खाने- पीने के बाद समय-समय पर हर पेट खराब हो जाता है या फिर अपच की समस्या होती है तो, ये इस बात का संकेत हो सकता है कि आपकी आंते कमजोर हो गई हैं। इसके अलावा कमजोर आंत वाले लोगों में एसिडिटी की समस्या ज्यादा होती है और वे अक्सर सूजन, ब्लॉटिंग, हिचकी और खांसी जैसे समस्या महसूस कर सकते हैं। ये स्थिति शुरुआत में तो चिंता का कारण नहीं होती है, पर आगे चल कर गंभीर परेशानियों का भी कारण बन सकती है। ऐसे में जरूरी ये है कि आप आंतों को मजबूत करने के लिए घरेलू उपायों की मदद लें। 

Inside_water

आंतों को मजबूत करने के उपाय- Home remedies for strong intestine

1. पानी खूब पिएं

आंतों को मजबूत करने के लिए पानी पीना सबसे सरल उपायों में से एक है। पानी ना सिर्फ आपके पेट और पाचन तंत्र को हेल्दी रखता है बल्कि ये आपके आंतों को भी मजबूती देने का काम करता है। दरअसल, भोजन और पेय पदार्थों से पोषक तत्वों को कुशलतापूर्वक पचाने और अवशोषित करने के लिए शरीर को पानी की आवश्यकता होती है। निर्जलित होने से पाचन अधिक कठिन और कम प्रभावी हो जाता है, जिससे पेट खराब होने की संभावना बढ़ जाती है। पानी आंत की गतिविधियों को तेज करता है और तेजी से खाना-पचाने में मदद करता है। ये आंतों को साफ रखता है और मल त्याग को भी आसान बनाता है।

2. फाइबर से भरपूर आहार का सेवन करें

आंखों को स्वस्थ रखने के लिए फाइबर से भरपूर आहार, फल और सब्जियों का सेवन बेहद जरूरी है। जी हां, फाइबर आपके मल में थोक जोड़ता है और इसे आंत से बाहर निकालने में तेजी से मदद करता है। इस तरह आपके आंतों को भी ज्यादा मेहनत नहीं करनी पड़ती है और पाचन क्रिया भी सही रहता है।

इसे भी पढ़ें :  दालचीनी और अदरक की चाय है सेहत के लिए बहुत फायदेमंद, जानें इससे मिलने वाले 5 फायदे

3.  चबा-चबा कर खाना खाएं

अपने भोजन को अच्छी तरह से चबाएं क्योंकि पाचन ठीक मुंह के अंदर शुरू होता है। पाचन में सहायता करने वाले एंजाइम लार ग्रंथियों द्वारा उत्पादित लार में मौजूद होते हैं। जब आप धीरे-धीरे खाते हैं और अपने भोजन को अच्छी तरह चबाते हैं तो इन एंजाइमों को भोजन को पचाने के लिए पर्याप्त समय मिलता है और आने वाले भोजन को पचाने के लिए तैयार करने के लिए बाकी आंत को संकेत भेजता है। इस तरह ये आंतों के स्वास्थ्य में भी योगदान देता है

4. लेटने से बचें

खाने के बाद तुरंत लेटना आपकी आंतों के काम काज को प्रभावित करता है। दरअसल, खाने के बाद तुरंत लेटने से पेट का एसिड ऊपर की ओर चढ़ने लगता है और आंतों में इसका प्रोडक्शन और बढ़ जाता है। जिससे भयानक एसिडिटी होती है। 

Inside_lemontea

इसे भी पढ़ें : बदलते मौसम में हो सकती है एलर्जी की शिकायत, इन घरेलू उपायों से करें अपनी परेशानी दूर

5. पुदीने की चाय पिएं

मिंट टी मिचली और अपच का घरेलू इलाज है। साथ ही ये आंतों के काम काज को तेज करता है और पाचन एंजाइमों के प्रोडक्शन को बढ़ाता है। इसके अलावा इसके सेवन शरीर का डिटॉक्सीफिकेशन होता है। इसलिए आंतों तो स्वस्थ रखने के लिए मिंट टी जरूर पिएं। 

6. अदरक का सेवन करें

अदरक खराब और अपच के लिए एक सामान्य प्राकृतिक उपचार है। लेकिन ये आंतों के स्वास्थ्य के लिए भी बहुत फायदेमंद है। अदरक में जिंजरोल और शोगोल नामक रसायन होते हैं जो आंतों के संकुचन को तेज करने में मदद कर सकते हैं। यह उन खाद्य पदार्थों को स्थानांतरित कर सकता है जो पेट के माध्यम से अपच पैदा करते हैं और मतली, उल्टी और दस्त का कारण बनते हैं। 

7. फर्मेंटेड फूड्स का सेवन करें

दही और केफिर जैसे फर्मेंटेड फूड्स का सेवन आंतों को स्वस्थ रखने के लिए बहुत अच्छा है। इसके बैक्टीरिया तेजी से भोजन पचाने में मदद करते हैं, आंतों के पाचन एंजाइम को बढ़ाते हैं। इस तरह ये आंतों की सेहत के लिए फायदेमंद है। 

इन सबके अलावा आपको अपने आंतों को स्वस्थ रखने के लिए धूम्रपान और शराब पीने से बचना चाहिए। साथ ही आपको प्रोसेस फूड्स का सेवन भी नहीं करना चाहिए। ये सब आपकी आंतों को नुकसान पहुंचाते हैं। इन सबके अलावा एक बात और ध्या रखें कि तनाव कम लें। दरअसल, तनाव पाचन तंत्र को प्रभावित करता है। जी हां, आंत की सेहत आपके निरंतर तनाव और मस्तिष्क से जुड़ी रहती है। इससे आपकी भूख प्यास सब प्रभावित हो जाती है औ आंतों में मल जम सकता है। इसके कब्ज की समस्या हो सकती है। तो, इसलिए अगर आपको अपने आंतों को हेल्दी रखना है तो आ स्ट्रेस कम लें और अपनी लाइफस्टाइल में सुधार करें। तो, इस तरह अपनी आंतों को स्वस्थ रखें।

Disclaimer