डायबिटीज को शुरुआती समय में गुड़हल और सदाबहार के फूल से कैसे कंट्रोल किया जा सकता है

आज के समय में लोगों के खानपान ने सब बदल दिया है। लोगों को अपने लिए समय ही नहीं मिल पाता की वह अपनी देखभाल अच्छे से कर सकें। 

सम्‍पादकीय विभाग
डायबिटीज़Written by: सम्‍पादकीय विभागPublished at: Oct 16, 2020Updated at: Oct 16, 2020
डायबिटीज को शुरुआती समय में गुड़हल और सदाबहार के फूल से कैसे कंट्रोल किया जा सकता है

जिंदगी को बीना किसी परेशानी के जिया जाए तो जिंदगी लंबी हो जाती है। लेकिन आज के समय में लोगों के खानपान ने सब बदल दिया है। लोगों को अपने लिए समय ही नहीं मिल पाता की वह अपनी देखभाल अच्छे से कर सकें। जिसकी वजह से न तो खाना समय पर होता है और न ही वह परिवार के साथ समय निकाल पाते हैं। इन सबकी वजह से लोग बीमारियों के शिकार हो जाते हैं। जिसमें से डायबिटीज एक आम है, लेकिन अगर किसी को शुरूआती समय में ही डायबिटीज होने का पता समय पर चल जाए तो वह अपनी इस बीमारी को कंट्रोल कर सकता है। आइए जानते है कैसे शुरूआती समय में डायबिटीज को बढ़ने से रोकें।

 insidesugar

इसे भी पढ़ें : Diabetes Diet: डायबिटीज के मरीज आलू-बैंगन का नहीं बल्कि खाएं करेले का चोखा, जानें इसकी खास रेसिपी और फायदे

लोग अक्सर फूलों को पूजा के लिए इस्तेमाल करते हैं, लेकिन इन फूलों को बीमारियों की रोकथाम के लिए इस्तेमाल किया जा सकता है। हर फूल के अंदर अलग-अलग गुण होते हैं जो शरीर में अलग-अलग फायदे पहुचा सकते हैं। जिसमें से बात अगर डायबिटीज की करें तो उसके लिए गुड़हल और सदाबहार  के फूल बहुत ही फायदेमंद माने जाते हैं। 

गुड़हल  के फूल

जब शरीर में बीमारी लग जाती है तो लोग अलग-अलग उपाय अपनाते हैं उसके इलाज के लिए, उनको लगता है कि वह ठीक हो जाए बस, लेकिन अगर शुरूआत से ही शरीर को ध्यान रखा जाए तो कभी कोई बीमारी लगेगी ही नहीं। जिन लोगों को डायबिटीज की परेशानी है तो उन लोगों के लिए गुड़हल बहुत ही लाभदायक है उन लोगों को हर रोज नियमित रूप से उन्हें इसका सेवन करना होगा। क्योंकि गुड़हल  में विटामिन सी, आयरन, एंटी-ऑक्सीडेंड और पाइबर की अच्छी मात्रा पायी जाती है, जो शरीर को कई परेशानियों से लड़ने में मदद करते है। रोजाना हर सुबह खाली पेट 4 से 5 गुड़हल  की कली  लेकर उसे अच्छे से साफ कर खाने से आपको जल्द ही डायबिटीज में आराम मिलेगा। 

इसे भी पढ़ें : सिर्फ 5 सेकेंड की ये 1 ट्रिक बता देगी आपको टाइप 2 डायबिटीज का खतरा है या नहीं! जानें ट्रिक को करने का तरीका

इतना ही नहीं गुड़हल  के फूल डायबिटीज के साथ-साथ कई और बीमारियों में लाभदायक होते हैं, जैसे कि चेहरे पर मुंहासे की समस्या होना, जिसके लिए लोग अलग-अलग तरह के उपाय अपनाते रहते है वह गुड़हल  के फूल से मुंहासे की परेशानी से छुटकारा पा सकते हैं। शरीर में सूजन आना, जिन लोगों के शरीर में अक्सर सूजन रहती है वह लोग किसी भी तेल में गुड़हल के फूल मिलाकर शरीर की मलिश करें उन्हे जल्द ही अराम मिलेगा। 

सदाबहार  के फूल

सदाबहार  के फूल अक्सर हम सबने पूजा के लिए या फिर सजाने के लिए किए हैं, लेकिन इस छोटे से फूल के बड़े फायदे होते हैं। सदाबहार  के फूल में एलकालॉइड्रस, एजमेलीसीन, सरपेन्टीन जैसे तत्व पाय जाते हैं। जो शरीर को डायबिटीज के साथ कई और बीमारियों से बचाते हैं। सदाबहार  के फूल शरीर से टॉक्सिन्स को बहार निकालता है। जिन लोगों को डायबिटीज की परेशानी रहती है वह लोग हर सूबह सदाबहार  के 10 फूल लें और उसके पानी के साथ मिलाकर पेस्त बना लें। इस पेस्त को खाली पेट पानी के साथ पि लें। डायबिटीज के लोगों के लिए ये पेस्ट बहुत ही फायदेमंद होता है।

इसे भी पढ़ें : Navratri 2020: डायबिटीज और हाई ब्‍लड प्रेशर वाले लोग कैसे रखें नवरात्र व्रत, एक्‍सपर्ट से जानिए

अगर आप भी डायबिटीज के साथ कई अन्य बीमारियों के शिकार है तो सदाबहार  और गुड़हल  के फूल आपको एक नई जिंदगी देने में मदद करेंगे, जिसके साथ ही आपको अपने खानपान पर बी ध्यान देना जरूरी होगा।

Read More Article On Health News In Hindi

Disclaimer