सांस लेने में तकलीफ या सांस फूलने की परेशानी में आपके काम आएंगे ये 5 घरेलू नुस्खे, कम होगी श्वांसनली की सूजन

अगर आपको सांस लेने में तकलीफ महसूस होती है, तो इन 5 घरेलू उपायों को अपनाएं। सिर्फ 5 मिनट में आपके सांस की समस्या हो जाएगी बिल्कुल ठीक।

Anurag Anubhav
Written by: Anurag AnubhavPublished at: Oct 09, 2020
सांस लेने में तकलीफ या सांस फूलने की परेशानी में आपके काम आएंगे ये 5 घरेलू नुस्खे, कम होगी श्वांसनली की सूजन

कुछ लोगों की थोड़ा सा काम करने पर, दौड़ने पर या सीढ़ियां चढ़ते हुए सांस फूलने लगती है। हल्की-फुल्की मेहनत करने पर ही सांस फूलने लगना कमजोर फेफड़ों की निशानी है। हालांकि ऐसा कई बार जुकाम या किसी वायरल इंफेक्शन के कारण भी हो सकता है। दरअसल जुकाम या इंफेक्शन होने पर श्वांसनली के अंदरूनी हिस्से मे सूजन आ सकती है, जिससे आपके फेफड़ों तक पर्याप्त ऑक्सीजन नहीं पहुंच पाती है और व्यक्ति को सांस लेने में तकलीफ महसूस होने लगती है या सांस उखड़ने लगती है। इस तरह की समस्या अलग लंबे समय तक होती रहे, तो आपको डॉक्टर से मिलकर इसका इलाज कराना चाहिए। लेकिन अगर कभी-कभार ऐसी समस्या होती है, तो आप कुछ घरेलू उपायों को अपनाकर भी राहत पा सकते हैं। आइए आपको बताते हैं सांस की तकलीफ होने पर असरकारी 5 घरेलू नुस्खे।

shortness of breathe remedies

अदरक वाली चाय पिएं

अदरक में एंटी-इंफ्लेमेट्री, एंटी-वायरल और एंटी-बैक्टीरियल गुण होते हैं, जिसके कारण इसका सेवन करने से आपके गले और श्वांसनली की सूजन कम होती है और जमा हुआ बलगम भी पिघलकर निकल जाता है। इसीलिए जुकाम, खांसी में अदरक की चाय बहुत फायदेमंद मानी जाती है। सांस की तकलीफ होने पर आपको अदरक की चाय पीनी चाहिए। इसे बनाने के लिए एक पैन में पानी के साथ अदरक उबालें और इसे पिएं।

इसे भी पढ़ें: अस्थमा के कारण सांस की तकलीफ से हैं परेशान तो जरूर पिएं ये 5 चाय, श्वांसनली की सूजन होगी दूर और मिलेगा आराम

लेट कर गहरी सांस लें

अगर आपको सांस लेने में तकलीफ महसूस हो या सांस उखड़ती हुई महसूस हो, तो जहां भी हैं वहां तुरंत जमीन पर सीधा लेट जाएं और अपना हाथ पेट पर रखें। इसके बाद नाक से जोर से इतनी जोर से सांस खींचें कि आपका पेट फूल आए। इस सांस को कुछ सेकेंड तक रोक कर रखें और फिर मुंह के रास्ते से सांस को बाहर छोड़ दें। इस तरह कई बार करने से आपके सांस की तकलीफ तुरंत दूर हो जाएगी। अगर फिर भी सांस की समस्या है, तो इमरजेंसी मेडिकल सहायता लें।

ब्लैक कॉफी पिएं

सांस लेने की तकलीफ होने पर ब्लैक कॉफी पीना आपके लिए फायदेमंद होता है। कॉफी में कैफीन होता है, जो कि आपके मस्तिष्क को उत्तेजित करता है। इसके अलावा ये मसल्स को रिलैक्स भी करता है। सांस की तकलीफ श्वांसनली की मांसपेशियों में सूजन के कारण भी होती है। इसलिए अगर आपको सांस लेने में तकलीफ हो, तो गर्म-गर्म ब्लैक कॉफी पिएं। इससे आपको तुरंत राहत मिलेगी। लेकिन ध्यान रखें कि कॉफी का सेवन बहुत ज्यादा भी न करें क्योंकि इसका असर आपके हार्ट रेट पर बुरा पड़ेगा। दिनभर में 3 कप से ज्यादा ब्लैक कॉफी न पिएं।

home remedies for breathelessness

आगे की ओर झुककर बैठें या पंखे के सामने बैठें

अगर आपको अचानक कभी सांस की तकलीफ होने लगती है या सांस की गति तेज हो जाती है, तो आपको तुरंत आसपास मौजूद किसी कुर्सी या बेंच पर बैठ जाना चाहिए और आगे की तरफ झुक कर कंफर्टेबल पोजीशन में थोड़ी देर रहना चाहिए, ताकि मसल्स रिलैक्स हो जाएं और सांस लेने में हुई तकलीफ तुरंत दूर हो जाए।

एक अध्ययन में बताया गया है कि सांस लेने में तकलीफ होने पर पंखे के सामने बैठने पर आराम मिलता है। इसका कारण यह है कि तेज चल रहे पंखे के सीधे सामने बैठने से आपके द्वारा खींची गई सांस में एक फोर्स होता है, जिससे हवा शरीर में ज्यादा मात्रा में पहुंचती है और आपकी तकलीफ दूर हो जाती है।

इसे भी पढ़ें: सोते समय बेचैनी और सांस लेने में तकलीफ इन 8 रोगों का हो सकता है संकेत, जानें इस समस्या का क्या है इलाज?

स्टीम लेना भी है फायदेमंद

home remedies for breathing problems

कई बार बंद नाक या अधिक बलगम जमा होने के कारण भी सांस की समस्या हो जाती है। इसलिए अगर आपको ऐसी तकलीफ बीते कुछ दिनों से हो रही है, तो आप बलगम को बाहर निकालने के लिए और एयर पैसेज को क्लियर करने के लिए स्टीम भी ले सकते हैं। स्टीम लेने के लिए एक चौड़े मुंह वाले बर्तन को ढककर पानी देर तक उबालें, ताकि इसमें पर्याप्त भाप बन जाए। इसके बाद इस पानी को जमीन पर रखें और ढक्कन हटाकर भाप को अपने नाक, गले और सीने के हिस्से में लें। अगर घर में कोई एसेंशियल ऑयल तो उसे भी इसमें डाल लें। इससे आपको तुरंत बंद नाक से राहत मिलेगी और सांस लेने में होने वाली तकलीफ दूर हो जाएगी।

ध्यान रखें- अगर सांस लेने के साथ मरीज को अन्य लक्षण भी दिखें, जैसे- सीने में दर्द, तेज पसीना निकलना, जबड़ों का बैठने लगना या शरीर का काम न करना, तो इन घरेलू नुस्खों को अपनाने के बजाय तुरंत एंबुलेंस को फोन करें और इमरजेंसी सहायता मांगें।

Read More Articles on Home Remedies in Hindi

Disclaimer