Doctor Verified

डेंगू के मरीज का घर पर ध्यान कैसे रखें? जानें जरूरी सावधान‍ियां

डेंगू एक प्रकार का वायरस है, जो एडीज मच्छर के काटने से फैलता है। डेंगू होने पर मरीज का ख्‍याल रखने के ल‍िए नीचे बताई गई ट‍िप्‍स को फॉलो करें। 

Yashaswi Mathur
Written by: Yashaswi MathurUpdated at: Oct 04, 2022 16:09 IST
डेंगू के मरीज का घर पर ध्यान कैसे रखें? जानें जरूरी सावधान‍ियां

डेंगू होने पर मरीज का खास ख्‍याल रखने की जरूरत होती है। डेंगू संक्रमण होने के पहले हफ्ते में, डेंगू का वायरस मरीज के खून में मौजूद होता है। अगर मच्‍छर ने डेंगू मरीज को काट ल‍िया है, तो उसके जर‍िए अन्‍य लोगों को भी डेंगू होने का खतरा बढ़ जाएगा।   इसका ध्‍यान रखते हुए आपको मरीज की साफ-सफाई का खास ख्‍याल रखना है। इस दौरान मरीज को फुल स्‍लीवस कपड़े पहनने की सलाह दें। डेंगू एक गंभीर संक्रमण है, जो जानलेवा हो सकता है। आपके घर में डेंगू का कोई मरीज है, तो उसका ख्‍याल रखने के ल‍िए नीचे बताए ट‍िप्‍स को अपनाएं। इस व‍िषय पर बेहतर जानकारी के ल‍िए हमने लखनऊ के केयर इंस्‍टिट्यूट ऑफ लाइफ साइंसेज की एमडी फ‍िजिश‍ियन डॉ सीमा यादव से बात की।     

dengue home care tips

1. घर में बंद करें मच्‍छरों की एंट्री 

  • घर में डेंगू का मरीज है, तो उसे और घर के अन्‍य सदस्‍यों को डेंगू से बचाने के ल‍िए घर में मच्‍छरों की एंट्री बंद करें।
  • घर के सभी ख‍िड़की और दरवाजों को बंद रखें ताक‍ि डेंगू फैलाने वाले मच्‍छर अंदर न आ पाएं।
  • आपके घर में कोई बीमार है या डेंगू से पीड़‍ित है, तो उसे आराम करने दें।

इसे भी पढ़ें- इन 4 तरह के लोगों को ज्यादा रहता है डेंगू का खतरा, जानें कैसे करें बचाव

2. डेंगू होने पर ड‍िहाइड्रेशन न हो 

  • अगर घर में क‍िसी को डेंगू हो गया है, तो उसे पर्याप्‍त मात्रा में पानी का सेवन करवाएं।
  • डेंगू होने पर डि‍हाइड्रेशन के लक्षण नजर आना ठीक नहीं है। इससे तबीयत ब‍िगड़ सकती है।
  • डेंगू होने पर शरीर में बुखार और उल्‍टी जैसे लक्षण नजर आते हैं। इन लक्षणों के कारण शरीर में फ्लूड की कमी हो सकती है।
  • मरीज को पानी के साथ नार‍ियल पानी, नींबू पानी, सब्‍ज‍ियों का रस प‍िला सकते हैं।

3. बुखार होने पर क्‍या करें? 

  • घर में कोई सदस्‍य है, जो बुखार से पीड़ि‍त है तो उसे डॉक्‍टर की सलाह के बगैर क‍िसी भी तरह की दवा न दें। 
  • अगर बुखार तेज रहता है, तो आप मरीज के शरीर को ठंडे पानी से स्‍पंज कर सकते हैं।
  • बुखार होने पर मरीज को हर छह घंटे में एक बार पैरास‍िटामॉल दे सकते हैं।
  • तेज बुखार की स्‍थ‍ित‍ि में द‍िनभर में मरीज को 4 पैरास‍िटामॉल से ज्‍यादा न दें।   

4. बुखार उतरने के बाद भी बरतें सावधानी 

  • घर में क‍िसी को डेंगू है और बुखार उतर गया है, तो ज्‍यादा सावधानी बरतें।
  • कई लोगों में बुखार उतरने के बाद क्र‍िट‍िकल स्‍टेज की शुरुआत होती है। 
  • पेट में तेज दर्द होना, लाल चकत्ते, सांस लेने में तकलीफ हो, तो डॉक्‍टर से तुरंत सलाह लें।

5. इमरजेंसी की स्‍थ‍ित‍ि समझें

  • 24 घंटे में 3 बार से ज्‍यादा उल्‍टी आने पर मरीज को तुरंत डॉक्‍टर के पास लेकर जाएं।
  • नाक या गम्‍स से ब्‍लीड‍िंग होने पर गौर करें। ये इमरजेंसी की स्‍थ‍ित‍ि है। 
  • उल्‍टी या स्‍टूल में ब्‍लड आना, त्‍वचा का ठंडा पड़ जाना आद‍ि लक्षण भी गंभीर हैं।  

6. डेंगू मरीज को कैसा खाना दें?   

  • डेंगू के मरीज को हाई फैट फूड्स और ठंडा खाना देने से बचें।
  • डेंगू वाले मरीज को ताजा घर का बना भोजन ख‍िलाएं।
  • तरल पदार्थ जैसे सूप, जूस दे सकते हैं।
  • डेंगू मरीज को तला या ज्‍यादा मसाले वाले भोजन न दें।  

डेंगू का सबसे बुरा असर प्‍लेटलेट्स पर पड़ता है। इस बीमारी में प्‍लेटलेट्स कम होने लगते हैं। ऊपर बताए गए ट‍िप्‍स को ध्‍यान में रखकर मरीज की र‍िकवरी जल्‍दी हो सकती है।  

Disclaimer