तम्‍बाकू के पत्‍तों को सेंककर बांधने से ठीक हो जाते हैं फोड़े-फुंसियां, जानिए और क्‍या-क्‍या हैं इसके फायदे

तम्‍बाकू हानिकारक होता है ये हम सभी जानते हैं, मगर शायद आपको ये पता नहीं होगा कि तम्‍बाकू के कई स्‍वास्‍थ्‍य लाभ भी हैं। आइए जानते हैं।

Atul Modi
Written by: Atul ModiPublished at: May 26, 2020
तम्‍बाकू के पत्‍तों को सेंककर बांधने से ठीक हो जाते हैं फोड़े-फुंसियां, जानिए और क्‍या-क्‍या हैं इसके फायदे

तम्‍बाकू का नाम सुनते ही मस्तिष्‍क में कैंसर जैसी जानलेवा बीमारी का प्रतिबिंब बनने लगता है। हालांकि ये सत्‍य है। तम्‍बाकू के सेवन से न सिर्फ कैंसर हो सकता है बल्कि हृदय संबंधी रोग होने की संभावना बढ़ जाती है। लेकिन आपको शायद इस बात का अंदाजा नहीं होगा कि तम्‍बाकू के कई स्‍वास्‍थ्‍य लाभ भी हैं, जिसके बारे में हर किसी को नहीं पता होता। मगर तम्‍बाकू का लाभ उसे खाकर नहीं बल्कि ऊपरी तौर से इस्‍तेमाल कर उठाया जा सकता है। इसे विस्‍तार से समझने के लिए सबसे पहले आपको तम्‍बाकू के बारे में जानना होगा।

तम्‍बाकू क्‍या है? 

तम्‍बाकू एक पौधा है, जो आमतौर पर जंगलों में पाया जाता है। तम्‍बाकू के पौधों की लंबाई 90 सेंटीमीटर से अधिक नहीं होती है। तम्‍बाकू के पत्‍तों को सुखाकर ही तम्‍बाकू का निर्माण किया जाता है। तम्‍बाकू में नशीला पदार्थ पाया जाता है, जिसके कारण लोग नशे के लिए इसका सेवन करते हैं। तम्‍बाकू का सेवन लोग गुटखा, सिगरेट, हुक्‍का और सीधे तौर भी करते हैं। जो धीरे-धीरे जानलेवा साबित होता है।

tambaku-patta

तम्‍बाकू का सेवन बेशक हानिकारक होता है मगर यहां हम इसके औषधीय गुणों पर आपका ध्‍यान आकर्षित करने का प्रयास कर रहें। हमारा उद्देश्‍य किसी भी तरह से तम्‍बाकू के सेवन को बढ़ावा देना नहीं है।

तम्‍बाकू के पत्‍तों के स्‍वास्‍थ्‍य लाभ

1. फोड़े-फुंसियों को ठीक करता है:

यदि आप फोड़े-फुंसियों से परेशान हैं तो तम्‍बाकू का पत्‍ता आपके लिए फायदेमंद हो सकता है। इसे आप सेंककर फोड़े पर बांध लीजिए। एक दो दिन में पस निकलकर बाहर आ जाएगा। 

2. सिरदर्द में लाभकारी:

तम्‍बाकू के पत्‍ते सिरदर्द में भी लाभकारी होते हैं। आयुर्वेद के अनुसार, तम्‍बाकू का नसवार (तम्‍बाकू पाउडर की सुंघनी) लेने से सिरदर्द ठीक हो जाता है। इस क्रिया को करने से पहले आयुर्वेद चिकित्‍सक की सलाह जरूर लें।

इसे भी पढ़ें: फेफड़ों के कैंसर से हर साल मरते हैं 60 लाख लोग, वजह है तम्‍बाकू! एक्‍सपर्ट से जानिए कैंसर के बचाव

3. दाद में है फायदेमंद: 

दाद-खाज एक चर्मरोग है, जो काफी परेशान करती है। ऐसी स्थिति में तम्‍बाकू के फूल को पीसकर दाद पर लगाने से आराम मिलता है। इसके लिए आप चिकित्‍सक की सलाह ले सकते हैं। 

4. दांत दर्द ठीक हो जाता है: 

दांत का दर्द असहनीय होता है। इससे निजात पाने के लिए इसके पत्‍ते, गेरू और कालीमिर्च को 10-10 ग्राम कूटकर छान लीजिए और इससे निकलने वाले पाउडर से दांतों में मंजन कीजिए, इससे दर्द दूर जाएगा।

इसे भी पढ़ें: मुंह के कैंसर को बढ़ाता है तंबाकू का अधिक सेवन, जानें लक्षण और बचाव

5. अंडकोष की सूजन कम करे:

अक्‍सर पुरुषों में अंडकोष का दर्द देखने को मिलता है। इसके लिए आप तम्‍बाकू के पत्तों पर तिल का तेल लगाकर हल्का सा गर्म कर लें। इसके बाद तंबाकू के गर्म पत्तों को अंडकोषों पर बांधने से सूजन व दर्द ठीक हो जाता है।

Read More Articles On Ayurveda In Hindi

Disclaimer