सफेद जहर कही जाने वाली चीनी को छोड़ें और अपनाएं मिठास घोलने के लिए ये 5 स्‍वस्‍थ विकल्‍प

यहां हम आपको मीठे मे चीनी के कुछ हेल्‍दी विकल्प बता रहे हैं, जिन्‍हें कि आप अपनी डाइट में शामिल कर सकते हैं। 

Sheetal Bisht
Written by: Sheetal BishtPublished at: Jan 31, 2020Updated at: Jan 31, 2020
सफेद जहर कही जाने वाली चीनी को छोड़ें और अपनाएं मिठास घोलने के लिए ये 5 स्‍वस्‍थ विकल्‍प

सफेद जहर मानी जाने वाली चीनी के अधिक सेवन से कई बीमारियां हो सकती है, जिसमें मोटापा, डायबिटीज, हृदय रोग आदि शामिल हैं। कुछ लोग मीठा पंसद करते हैं, तो कुछ अनजाने में ही सही लेकिन बहुत अधिक चीनी का उपभोग करते हैं, जबकि आपके शरीर को इसकी इतनी जरूरत नहीं होती है।  चीनी में न कोई पोषक तत्‍व या खनिज होते हैं, फिर भी हम इसकी तलाश करते हैं।  चीनी आपके शरीर में हार्मोन के साथ हस्तक्षेप करती है जो भूख और तृप्ति को नियंत्रित करता है। यह वजन बढ़ाने की ओर भी ले जाता है क्योंकि इसमें खाली कैलोरी होती है। इसलिए आपको कोशिश करनी चाहिए कि आप चीनी के सेवन को कम करें। आप चाहें, तो चीनी के इन विकल्पों को अपनी डाइट में शामिल कर सकते हैं। 

1. स्टेविया

 Stevia

स्टीविया एक प्राकृतिक स्वीटनर है। इसे दक्षिण अमेरिकी झाड़ी के पत्तों से तैयार किया जाता है, जिसे स्टेविया पुनौडियाना कहा जाता है। यह चीनी का स्‍वस्‍थ विकल्‍प इसलिए भी माना जाता है क्‍योंकि इसमें जीरो कैलोरी होता है। कई अध्ययनों के अनुसार, स्टेविया ने अभी तक चीनी की तरह कोई प्रतिकूल स्वास्थ्य प्रभाव नहीं दिखाया है। स्टेविया हाई ब्‍लड प्रेशर को कम करने से लेकर ब्‍लड शुगर और इंसुलिन के स्तर को कम करने में मददगार है। इस प्रकार डायबिटीज रोगियों को इससे दूर भागने की जरूरत नहीं है। भले आप चीनी का उपयोग नहीं करना चाहते हैं लेकिन किसी ड्रिंक में मीठा चाहते हैं, तो आप स्टेविया की ओर रूख करें। 

2. ज़ाइलिटोल

ज़ाइलिटोल (Xylitol) एक तरह का शुगर एल्‍कोहॉल है और इसे मकई या सन्टी की लकड़ी से निकाला जाता है। ज़ाइलिटोल का सबसे अच्छा हिस्सा यह है कि इसमें शून्य फ्रुक्टोज होता है। आपको बता दें, फ्रुक्टोज की उपस्थिति का शरीर पर हानिकारक प्रभाव डाल सकती है। स्‍टे‍विया की तरह ही, ज़ाइलिटोल में भी कई स्वास्थ्य लाभ छिपे हैं, यह कैविटीज़ के खतरे को कम करने और कैल्शियम के अवशोषण को बढ़ाने में मददगार होता है। 

Healthy Option Of Sugar

3. एरिथ्रिटोल

एरिथ्रिटोल भी एक तरह का शुगर एल्‍कोहॉल है, जो कि स्‍वाद में चीनी की तरह ही होता है। इसलिए इस पर स्विच करना आपके लिए बहुत कठिन नहीं होगा। अब तक, इसके किसी भी तरह के साइड इफेक्ट्स के कोई आंकड़े नहीं है।

इसे भी पढें: प्रोटीन और कैल्शियम से भरपूर होते हैं ये 3 तरह के मिल्क चीज़, जानें किसमें कितना है न्यूट्रीशन

4. शहद 

शहद के बारे में तो लगभग सभी जानते होंगे। शहद सेहत से लेकर ब्‍यूटी बेनिफिट्स से भरा है, इसे गोल्डन सिरप के रूप में भी जाना जाता है। शहद विटामिन, एंटीऑक्सिडेंट सहित कई पोषक तत्वों से भरपूर होता है। यही वजह है कि इसका सेवन करने से आपको कई स्वास्थ्य समस्‍याओं को दूर करने में मदद मिलती है। 

Honey

इसे भी पढें: बालों का झड़ना, चिड़चिड़ापन और इम्‍युनिटी का कम होना हो सकते हैं कैलोरी की कमी के संकेत

5. मेपल सिरप

मेपल सिरप, मेपल के पेड़ की रस से बनाया जाता है। यह चीनी का एक और स्वस्थ विकल्प है क्योंकि इसमें कैल्शियम, पोटेशियम, जस्ता, एंटीऑक्सिडेंट और मैंगनीज शामिल होते हैं। आप नेचुरल शुगर के रूप में इस सिरप का इस्‍तेमाल कर सकते हैं। यह प्राकृतिक शर्करा में भी उच्च है, लेकिन यह चीनी की तुलना में बेहतर विकल्प है। 

Read More Article On Healthy Diet In Hindi 

Disclaimer