QnA: दुबलापन, बच्‍चों में एलर्जी और हाई बीपी से जुड़े फेसबुक पर पूछे गए आपके सवाल और एक्‍सपर्ट के जवाब

यहां आपके द्वारा Facebook पर पूछे गये सवालों के जवाब दे रहे हैं onlymyhealth के एक्‍सपर्ट। जवाब जानने के लिए आगे पढ़ें....

Sheetal Bisht
Written by: Sheetal BishtUpdated at: Apr 08, 2020 17:21 IST
QnA: दुबलापन, बच्‍चों में एलर्जी और हाई बीपी से जुड़े फेसबुक पर पूछे गए आपके सवाल और एक्‍सपर्ट के जवाब

onlymyhealth पिछले 10 सालों से अपने रीडर्स को स्‍वस्‍थ रहने के लिए स्‍वस्‍थ लाइफस्‍टाइल से लेकर स्‍वास्‍थ्‍य से जुड़ी हर संभव जानकारी देने की कोशिश करता है। यही वजह है कि ओनलीमायहेल्‍थ को 50 लाख से ज्‍यादा रीडर्स का प्‍यार मिल रहा है। हम अपने सभी रीडर्स का इसके लिए तहे दिल से धन्‍यवाद करते है और उनसे आगे इसी तरह से जुड़े रहने की उम्‍मीद करते हैं। ओनलीमायहेल्‍थ हर संभव प्रयास करता है कि वह अपने सभी रीडर्स को सही और सटीक जानकारी उपलब्‍ध कराए। एक कारण यह भी है कि ओनलीमायहेल्‍थ के फेसबुक पेज पर हमारे बहुत सारे रीडर्स अपनी समस्‍याएं और सवाल भेजते हैं। जिसमें हम सप्‍ताह के अंत में अपने सभी रीडर्स के सवालों पर एक्‍सपर्ट्स के जवाब देते हैं। इस सप्‍ताह हमारे अलग-अलग शहरों के रीडर्स ने अपने कुछ सवाल भजे हैं, जिसमें दुबलेपन को दूर करने के उपाय, ब्‍लैकहैड्स से छुटकारा पाने के तरीके, बच्‍चों में एक्जिमा या एलर्जी से जुड़े सवाल शामिल हैं। आपके इन सभी सवालों के जवाबों को लेकर हम यहां हाजिर हैं, आपके इन सवालों के जवाब यहां योग्‍य डॉक्‍टर और एक्‍सपर्टों द्वारा दिए गये हैं। 

सवाल 1 - एलर्जी से बचने के लिए आयुर्वेदिक उपाय 

भरत वानकर पूछते हैं- एलर्जी से बचने के लिए आयुर्वेदिक उपाय या दवा बताइए, जिससे एलर्जी से निपटने में मदद मिल सके। 

एक्‍सपर्ट का जवाब: कॉस्‍मेटोलॉजिस्‍ट नावेता सुमन कहती हैं, "स्किन एलर्जी काफी कारणों से होती है, जिसमें आपका वातावरण,  धूल मिट्टी और धूप के कारण हो सकती है। इससे बचने के लिए जरूरी है कि आप कुछ सावधानियां बरतें। धूल मिट्टी से होने वाली एलर्जी से बचने के लिए आप अपने चेहरे को कवर करके ही घर से बाहर निकलें। वहीं अगर आपको धूप से एलर्जी होती है, तो आप अपने त्‍वचा को कवर करने के साथ घर से बाहर निकलने से पहले सनस्‍क्रीन लगाकर बाहर निकलें। इसके अलावा, बहुत से लोगों को फूड एलर्जी होती है, जिससे बचने के लिए आप उन चीजों के सेवन से बचें, जिनसे आपको लगता है कि आप तकलीफ महसूस कर रहे हैं। फूड एलर्जी में अधिकतर लोगों को दूध या दूध से बनी चीजों से एलर्जी होती है, तो आप इन चीजों के सेवन में परहेज कर सकते हैं।" ज्‍यादा जानकारी के लिए आप एलर्जी के लिए घरेलू उपायों की इस वीडियों को देखें : 

सवाल-2 हाई ब्‍ल्‍ड प्रेशर को कंट्रोल करने का तरीका 

रफीक खान पूछते हैं-  हाई ब्‍लड प्रेशर को कैसे कंट्रोल किया जा सकता है?

एक्‍सपर्ट का जवाब: डॉक्‍टर चंदन खेड़ावत कहते हैं, ''हाई ब्‍लड प्रेशर को कम करने के लिए सबसे जरूरी है कि आप अपने नमक के सेवन में कटौती करें। एक दिन में आपको लगभग 5-6 ग्राम नमक का ही सेवन करना चाहिए। भोजन में नमक के इस्‍तेमाल को कम करके आप हाई ब्‍लड प्रेशर से बच सकते हैं। इसके अलावा, आप हाई ब्‍लड प्रेशर को कंट्रोल करने के लिए एक्‍सरसाइज या वॉकिंग करें, आप 1 दिन में 30 मिनट ब्रिस्‍क वॉकिंग करें। यदि आप डायबिटीज के रोगी हैं, तो आप अपने ब्‍लड शुगर को कंट्रोल रखें आपका ब्‍लड प्रेशर भी कंट्रोल रहेगा। इसके अलावा, खाने में फल और सब्जियों का सेवन करें क्‍योंकि इनमें पोटैशियम होता है, जो आपके बीपी को कम करने में मदद करता है।''  अधिक जानकारी के लिए वीडियो देखें:   

इसे भी पढ़ें: ब्‍लैकहेड्स, एलर्जी, मोटापा और इम्‍यून सिस्‍टम बूस्‍ट करने से जुड़े सवाल और हमारे एक्‍सपर्ट के जवाब

सवाल- 3 सर्दी, खांसी और जुखाम-बुखार के उपाय 

गौतम कुमार वर्मा पूछते हैं- बच्‍चों में सर्दी, खांसी और जुखाम-बुखार को दूर करने के उपाय क्‍या हैं?  

एक्‍सपर्ट का जवाब: र्स्‍पोट्स डायटीशियन स्‍वाती बथवाल कहती हैं, ''बचपन में बच्चों को सर्दी खांसी और फ्लू होने की अधिक संभावना होती है क्योंकि आयुर्वेद में कफ में जो पानी है वह विकास के लिए जिम्मेदार तत्व है, इसलिए ठंड खांसी के लिए बच्‍चों को अधिक संवेदनशील बनाती है। एक बच्चे को ब्लैंड फूड दिया जाना चाहिए और तेज या मजबूत मसाले वाले भोजन और शुगर के सेवन से बचना चाहिए। बच्चे के विकास के लिए दूध और उससे बने प्रॉडक्‍ट महत्वपूर्ण हैं, अगर उन्‍हें ठीक से लिया जाता है।'' 

स्‍वाती बथवाल आगे बताती हैं, ''प्रतिरक्षा को बढ़ाने के लिए एक दही के साथ सब्जियां और दूध के साथ ओट्स एक अच्छा कॉम्‍बीनेशन है। लेकिन ध्‍यान रखें कि दूध अच्छी तरह से पका हुआ हो और आप बलगम को कम करने के लिए इसमें इलायची, दालचीनी, अदरक जैसे मसाले मिला सकते हैं। आप इलायची को 1 चम्‍मच शहद या गुड़ के साथ मिलाकर बच्‍चे को खिला सकते हैं, यह काफी अच्‍छा काम करता है। वहीं आप दही को जीरा पाउडर के साथ मिलाएं और गुड़ चीनी का सबसे अच्छा विकल्‍प है। इसके अलावा, तुलसी, अदरक, इलायची और लौंग का उपयोग बच्‍चे को सर्दी-खांसी के खिलाफ लड़ने मे और बच्चे की प्रतिरक्षा को मजबूत बनाने के लिए कर सकते हैं। लेकिन ध्‍यान रखें केवल एक चौथाई चम्मच का ही उपयोग करें।'' 

इसे भी पढ़ें: बाल झड़ने, वजन बढ़ाने, थायरॉइड और डायबिटीज कंट्रोल संबंधी Facebook पर पूछे गए आपके सवाल-एक्सपर्ट के जवाब

सवाल- 4 वजन बढ़ाने के तरीके 

करन सिंह और रौशन गुप्‍ता पूछते हैं- सही खानपान और योगा के बावजूद भी वह अपने दुबलेपन को दूर नहीं कर पर रहे हैं। ऐसे में उन्‍हें वजन बढ़ाने के लिए क्‍या करना चाहिए? 

एक्‍सपर्ट का जवाब: र्स्‍पोट्स डायटीशियन स्‍वाती बथवाल कहती हैं, ''लोग स्वस्थ खाने और योग करने के बावजूद वजन नहीं बढ़ा पाते हैं क्योंकि इसके पीछे कई कारण हो सकते हैं: 

1. यदि वे अच्छी तरह से नहीं सोते हैं और तनावग्रस्त हैं, तो कोर्टिसोल हार्मोन में वृद्धि वजन कम करने में कठिनाई पैदा करने के साथ-साथ वजन न बढ़ने का भी कारण बन सकता है। 

2. सही मात्रा में प्रोटीन का सेवन करना भी आपके वजन बढ़ाने और घटाने के लिए बहुत जरूरी है। 

3. खाने में हर जरूरी पोषक तत्‍व और मिनरल्‍स की र्प्‍याप्‍त मात्रा होनी चाहिए। 

4. विटामिन डी का स्तर सुनिश्चित करें, क्‍यों‍कि विटामिन डी का निम्न स्तर फ्ल्यूड रिटेंशन का कारण बन सकता है। 

5. ऐसा नहीं है कि आप वजन बढ़ाने के लिए खूब, घी, तेल या मीठे का सेवन करें। ऐसा करने से आपका अस्‍वस्‍थ वजन और बीमारियों का खतरा बढ़ता है। यदि सभी प्रयासों के बाद भी आपका वजन नहीं बढ़ता तो एक डायटीशियन की सलाह लें और सुझाया गया डाइट प्‍लान फॉलो करें।  

सवाल- 5 ब्‍लैकहैड्स से छुटकारा पाने के उपाय 

सुमित बिश्नोई पूछते हैं- ब्‍लैकहैड्स से कैसे छुटकारा पाएं? 

एक्‍सपर्ट के जवाब: डर्मेटोलॉजिस्‍ट, डॉक्‍टर गीतिका मित्‍तल गुप्‍ता कहती है, "यदि मुझसे कोई भी ब्‍लैकहेड्स, एक्‍ने या पोर्स के लिए घरेलू नुस्‍खों के लिए पूछता है, तो मै हमेशा कहती हूं '' Prevention is better then Cure'' यानि इलाज से बेहतर है कि आप बचाव करें। त्‍वचा को स्‍वस्‍थ रखने के लिए आपको हमेशा एक CTM रूटीन यानि क्‍लीनिंग, टोनिंग और मॉइश्‍चराइजिंग। अगर आप इस रूटीन को फॉलो करते हैं, तो त्‍वचा को स्‍वस्‍थ रखा जा सकता है और किसी भी स्किन प्रॉब्‍लम का इलाज आसान हो जाता है। इसलिए हेल्‍दी स्किन पाने और ब्‍लैकहैड्स से छुटकारा पाने के लिए स्किन को क्‍लीन रखें, अच्‍छा खानपान ले और खुद को हाइड्रेट रखें। डाक्‍टर गीता आगे कहती हैं, ब्‍लैकहैड्स को दूर करने के लिए आप एक अच्‍छा नीम या एंटीबायोटिक फेस वॉश चुने, जिससे त्‍वचा का पीएच लेवल कंट्रोल रहे। लेकिन यदि समस्‍या गंभीर हो, तो एक डर्मेटोलॉजिस्‍ट से मिलें। इसके अलावा आप घर में नीम, मुल्‍तानी मिट्टी, हल्‍दी और शहद को मिक्‍स कर इस्‍तेमाल कर सकते हैं।" 

Read more articles on Other Diseases in Hindi

Disclaimer