दूध पीने में आनाकानी करते हैं बच्चे? घर पर बनाएं ये स्वादिष्ट म‍िल्‍क ड्र‍िंक पाउडर, मिलेंगे कई फायदे

बच्‍चों की सेहत के ल‍िए बाजार में म‍िलने वाली म‍िल्‍क ड्रि‍ंंक्स या पाउडर हान‍िकारक होते हैं, आप जानें इसे घर पर तैयार करने का आसान तरीका     

Yashaswi Mathur
Written by: Yashaswi MathurPublished at: May 25, 2022Updated at: May 25, 2022
दूध पीने में आनाकानी करते हैं बच्चे? घर पर बनाएं ये स्वादिष्ट म‍िल्‍क ड्र‍िंक पाउडर, मिलेंगे कई फायदे

बाजार में म‍िलने वाली म‍िल्‍क ड्रि‍ंंक पाउडर में प्रि‍जर्वेट‍िव मौजूद होते हैं और उसमें एक्‍सट्रा शुगर म‍िलाई जाती है जो बच्‍चों की सेहत को खराब कर सकती है इसल‍िए माता-प‍िता हमेशा बच्‍चे के ल‍िए हेल्‍दी ड्रि‍ंक ढूंढने की तलाश में रहते हैं। आप आसानी से हेल्‍दी ड्रि‍ंक पाउडर को घर पर ही तैयार कर सकते हैं। हालांक‍ि जो ड्रि‍ंक आप घर पर तैयार करेंगे उसमें प्र‍िजर्वेट‍िव नहीं होंगे पर आपको उसे शुद्ध रखने के ल‍िए शेल्‍फ लाइफ का ख्‍याल रखना होगा। इस लेख में हम बच्‍चों के ल‍िए हेल्‍दी म‍िल्‍क पाउडर बनाने का तरीका जानेंगे।

milk powder benefits

बाजार में म‍िलने वाले ड्र‍िंक पाउडर के नुकसान  

  • बाजार में म‍िलने वाले हेल्‍थ ड्रि‍ंक पाउडर में फ्लेवर म‍िलाया जाता है जो सेहत के ल‍िए हान‍िकारक हो सकता है। 
  • म‍िल्‍क पाउडर में म‍िले प्र‍िजर्वेट‍िक सेहत को खराब कर सकते हैं, आपको बाहर के म‍िल्‍क पाउडर का ज्‍यादा सेवन बच्‍चे को नहीं करवाना चाह‍िए।
  • बाजार में म‍िलने वाले हेल्‍थ ड्रि‍ंक पाउडर में शुगर की मात्रा ज्‍यादा होती है ज‍िससे बच्‍चों की सेहत पर बुरा असर पड़ सकता है।

इसे भी पढ़ें- नाक से खून आने का कारण हाइपरटेंशन तो नहीं, जानें बीपी बढ़ने और नोज ब्‍लीड का संबंध

घर के बने म‍िल्‍क ड्रि‍ंक पाउडर के फायदे

  • इसमें चीनी मौजूद नहीं होती है इसल‍िए इसे पीने से बच्‍चे मोटे नहीं होते।
  • घर की बनी म‍िल्‍क ड्रि‍ंक में क‍िसी तरह के कोई कैम‍िकल्‍स मौजूद नहीं होते इसल‍िए ये हेल्‍दी मानी जाती है।
  • घर की बनी हेल्‍थ ड्र‍िंंक फ्रेश होती है, आप इसे कंज्‍यूम करने वाले द‍िन ही तैयार कर सकते हैं।     

ड्राय फ्रूट्स से बनाएं म‍िल्‍क पाउडर (Dry fruit milk powder)

ज्‍यादातर मांएं अपने बच्‍चों को ड्राय फ्रूट्स ख‍िलाना चाहती हैं क्‍योंक‍ि ड्राय फ्रूट्स हेल्‍थ के ल‍िए फायदेमंद माने जाते हैं पर बच्‍चे ड्राय फ्रूट्स को खाना पसंद नहीं करते तो उन्‍हें ड्राय फ्रूट्स खिलाने का सबसे अच्‍छा तरीका है आप ड्राय फ्रूट्स का म‍िल्‍क पाउडर बना लें। इस म‍िल्क पाउडर को आप बच्‍चों की ड्र‍िंक में म‍िलाकर भी दे सकते हैं।  

म‍िल्‍क ड्रि‍ंक पाउडर बनाने का तरीका (How to make milk powder)

  • आप बादाम, काजू, प‍िस्‍ते, वॉलनट, अंजीर, क‍िशम‍िश, सूखा खजूर आद‍ि को एक बाउल में न‍िकाल लें।   
  • सभी ड्राय फ्रूट्स को छोटे-छोटे टुकड़ों में काटकर म‍िक्‍सी में डालें और पाउडर बना लें।    
  • जो म‍िल्‍क पाउडर आपने तैयार क‍िया है उसे आप एयर टाइट कंटेनर में रखें।
  • ज‍िस म‍िल्‍क पाउडर को आपने तैयार क‍िया है उसे आप एक ग‍िलास में न‍िकालें।
  • अब ग‍िलास में गरम दूध एड करें और म‍िश्रण को अच्‍छी तरह से म‍िलाएं ताक‍ि लंप्‍स न बनें।
  • अब बच्‍चे को गरम-गरम दूध दें, इससे उसका स्‍वाद और सेहत दोनों अच्‍छा रहेगी।    

बच्‍चे को मि‍ल्‍क पाउडर देने से पहले इन बातों का ख्‍याल रखें  

  • आपको बच्‍चे को म‍िल्‍क पाउडर देने से पहले हमेशा पहले चाइल्‍ड स्‍पेशल‍िस्‍ट या न्‍यूट्र‍िशन‍िस्‍ट से संपर्क करना चाह‍िए।
  • आपको बच्‍चे के हेल्‍थ ड्र‍िंक में क‍िसी भी तरह की म‍िठास को एड नहीं करना है, क्‍योंक‍ि इस हेल्‍थ ड्रि‍ंक में पहले से ड्राय फ्रूट्स की म‍िठास है इसल‍िए अलग से इस ड्रि‍ंक में मीठा एड न करें।
  • आपको इस बात का ध्‍यान रखना है क‍ि म‍िल्‍क पाउडर में क‍िसी तरह के ड्राय फ्रूट्स चंक्‍स मौजूद न हो नहीं तो वो बच्‍चे के गले में फंस सकते हैं।     

इसे भी पढ़ें- गर्मियों में जरूर पिएं सौंफ और मिश्री का पानी, शरीर को मिलते हैं ढेरों फायदे   

घर पर बना म‍िल्‍क पाउडर कब तक स्‍टोर कर सकते हैं? 

हेल्‍थ ड्रि‍ंक पाउडर को आपको 4 हफ्तों से ज्‍यादा समय के ल‍िए स्‍टोर करना अवॉइड करना चाह‍िए और जो म‍िल्‍क पाउडर आप तैयार करें उसे एयरटाइट कंटेनर में रखें ताक‍ि वो खराब न हो। इसके अलावा आपको म‍िल्‍क पाउडर को फफूंद लगने या खराब होने से बचाने के ल‍िए उसे धूल-म‍िट्टी से दूर रखना है और केवल फ्र‍िज में रखकर स्‍टोर करना है क्‍योंक‍ि इसमें क‍िसी भी तरह का बैक्‍टीर‍िया पनपने पर ये खराब हो सकता है और बच्‍चों की सेहत खराब कर सकता है।       

तो देखा आपने म‍िल्‍क पाउडर को तैयार करना क‍ितना आसान था, आप इसे कभी भी घर पर तैयार कर सकते हैं, ये सेहत के ल‍िए हेल्‍दी भी है और टेस्‍टी भी।  

Disclaimer