Doctor Verified

अजवाइन और काली म‍िर्च को साथ खाने से शरीर को म‍िलते हैं ये 5 फायदे

अजवाइन और काली म‍िर्च के म‍िश्रण का सेवन करने से शरीर की कई समस्‍याएं दूर होती हैं। जानते हैं इनके बारे में।

Yashaswi Mathur
Written by: Yashaswi MathurUpdated at: Oct 09, 2022 12:30 IST
अजवाइन और काली म‍िर्च को साथ खाने से शरीर को म‍िलते हैं ये 5 फायदे

जैसे-जैसे मौसम बदल रहा है, हमारी डाइट में भी बदलाव आ रहा है। मॉनसून में या ठंड बढ़ने के दौरान हमें ऐसे आहार की जरूरत होती है ज‍िसका सेवन करने से हमारी रोग प्रत‍िरोधक क्षमता बढ़े। इम्‍यून‍िटी बढ़ाने के ल‍िए आप अजवाइन और काली म‍िर्च के म‍िश्रण का सेवन कर सकते हैं। अजवाइन-काली म‍िर्च के म‍िश्रण में एंटीऑक्‍सीडेंट्स की अच्‍छी मात्रा होती है। अजवाइन-काली म‍िर्च का सेवन करने से आपके शरीर को बीमार‍ियों से लड़ने में मदद म‍िलती है। काली म‍िर्च में व‍िटाम‍िन सी की अच्‍छी मात्रा होती है। इसके अलावा एंटीइंफ्लेमेटरी गुण होते हैं। काली म‍िर्च का सेवन करने से गले में खराश और बंद नाक को खोलने में मदद म‍िलती है। इसके साथ ही अजवाइन का इस्‍तेमाल इंडाइजेशन, गैस की समस्‍या और ब्‍लोट‍िंग से बचने में फायदेमंद माना जाता है। इस लेख में अजवाइन और काली म‍िर्च के म‍िश्रण को खाने के फायदे जानेंगे। इस व‍िषय पर बेहतर जानकारी के ल‍िए हमने लखनऊ के व‍िकास नगर में स्‍थित प्रांजल आयुर्वेद‍िक क्‍लीन‍िक के डॉ मनीष स‍िंह से बात की।

ajwain black pepper

1. बढ़ते वजन का इलाज

वजन कम करना चाहते हैं, तो रोजाना अजवाइन और काली म‍िर्च को एक मात्रा में म‍िलाकर गुनगुने पानी के साथ लें। अजवाइन का सेवन करने से भूख शांत होती है। अजवाइन में फाइबर मौजूद होता है। साथ ही काली म‍िर्च में मौजूद पाइपरिन की मदद से वजन कम करने में मदद म‍िलती है। इस म‍िश्रण का सेवन आप द‍िन में 1 बार कर सकते हैं।  

इसे भी पढ़ें- रात में सोने से पहले अजवाइन खाने से सेहत को मिलेंगे ये 6 फायदे  

2. अजवाइन और काली म‍िर्च  

पाचन तंत्र के ल‍िए अजवाइन और काली म‍िर्च का म‍िश्रण फायदेमंद होता है। अजवाइन का सेवन करने से गैस्‍ट्र‍िक एस‍िड और डाइजेस्‍ट‍िव‍ इंजाइम्‍स को बढ़ावा देने में मदद म‍िलती है। वहीं काली म‍िर्च में पाइपरिन पाया जाता है ज‍िससे पाचन क्र‍िया बेहतर होती हे। आप नींबू पानी में आधा चम्‍मच अजवाइन और काली म‍िर्च को डालकर पी सकते हैं।

3. पेट की गैस का इलाज

अगर आपको अक्‍सर गैस की समस्‍या रहती है, तो अजवाइन और काली म‍िर्च के चूर्ण का सेवन करें। अजवाइन में थाइमोल नामक कंपाउंड पाया जाता है ज‍िससे कब्‍ज और गैस की समस्‍य से छुटकारा म‍िलता है। वहीं काली म‍िर्च में एंटीऑक्‍सीडेंट्स पाए जाते हैं। गैस का इलाज करने के ल‍िए अजवाइन और काली म‍िर्च को ताजा पीसकर पाउडर बना लें। इसमें चुटकी भर सेंधा नमक म‍िलाकर चूर्ण के फॉर्म में खाएं।

4. वायरल इंफेक्‍शन का इलाज

वायरल इंफेक्‍शन का इलाज करना चाहते हैं, तो अजवाइन और काली म‍िर्च के म‍िश्रण का सेवन कर सकते हैं। इस म‍िश्रण से बनने वाली चाय का सेवन वायरल इंफेक्‍शन में सबसे ज्‍यादा फायदेमंद मानी जाती है। चाय बनाने के ल‍िए पानी में अजवाइन और काली म‍िर्च को म‍िलाएं। पानी आधा हो जाए, तो उसमें चाय की पत्ती म‍िलाएं। फ‍िर शहद डालकर चाय का सेवन करें। इससे वायरल इंफेक्‍शन जल्‍दी दूर होगा।

5. जोड़ों के दर्द का इलाज

आपको जोड़ों में दर्द रहता है, तो अजवाइन और काली म‍िर्च का म‍िश्रण जरूर आजमाएं। काली म‍िर्च में एंटीइंफ्लेमेटरी और एंटीअर्थराइट‍िस गुण होते हैं। इसके साथ ही अजवाइन में भी एंटीइंफ्लेमेटरी गुण पाए जाते हैं। आप अजवाइन और काली म‍िर्च का पाउडर बनाकर उसमें 2 चम्‍मच गुनगुना पानी म‍िलाकर पेस्‍ट तैयार कर लें। इसे जोड़ों पर लगा लें। इस म‍िश्रण के इस्‍तेमाल से दर्द से राहत म‍िलेगी।

अजवाइन और काली म‍िर्च का काढ़ा

  • अजवाइन और काली म‍िर्च को एक साथ खाने का सबसे अच्‍छा तरीका है आप काढ़ा बना लें।
  • काढ़ा बनाने के ल‍िए 2 कप पानी गरम करें।
  • उसमें अजवाइन और काली म‍िर्च डालें।
  • जब पानी आधा रह जाए, तो उसमें शहद मिलाएं।
  • आधा चम्‍मच नींबू का रस म‍िलाकर प‍िएं।
  • आप इस काढ़े का सेवन द‍िन में 2 बार कर सकते हैं।

अजवाइन और काली म‍िर्च के म‍िश्रण से आप जोड़ों के दर्द, वायरल इंफेक्‍शन, गैस की समस्‍या और वजन बढ़ना आद‍ि का इलाज कर सकते हैं।

Disclaimer