ग्रीन टी के साथ इन 5 चीजों का सेवन आपके शरीर के लिए घातक, जानें क्या हैं ये

सुबह-सुबह चाय पीना किसे पसंद नहीं लेकिन जब बात स्वास्थ्य की ही तो जुबां पर पहला नाम ग्रीन टी का आता है। अगर आप भी ग्रीन टी के शौकिन हैं और किसी अन्य पदार्थ के साथ ग्रीन टी का सेवन करते हैं तो सावधान हो जाइए क्योंकि ये आपके स्वास्थ्य के लिए हानिकार

Jitendra Gupta
Written by: Jitendra GuptaPublished at: May 25, 2019
 ग्रीन टी के साथ इन 5 चीजों का सेवन आपके शरीर के लिए घातक, जानें क्या हैं ये

सुबह-सुबह चाय पीना किसे पसंद नहीं लेकिन जब बात स्वास्थ्य की ही तो जुबां पर पहला नाम ग्रीन टी का आता है। अगर आप फिट रहने की जुगत में लगे हैं तो ग्रीन टी आपकी डाइट का हिस्स जरूर होगी। चाहे बात वजन कम करने की हो या खुद को फिट बनाए रखने की ग्रीन टी पसंदीदा पेय पदार्थों में शुमार है। त्वचा की गुणवत्ता सुधारने, मेटाबॉलिज्म बढ़ाने और एक्ट‍िव बने रहने के लिए ग्रीन टी फायदेमंद साबित होती है। पूरी दुनिया ग्रीन-टी की दीवानी है क्योंकि इसके फायदों की गिनती कम नहीं हैं। ग्रीन टी फायदेमंद तो है ही लेकिन इसका मतलब ये नहीं कि आप लगातार ग्रीन टी के कप मुंह से लगाए रखें।

अगर आप भी ग्रीन टी के शौकिन हैं और किसी अन्य पदार्थ के साथ ग्रीन टी का सेवन करते हैं तो सावधान हो जाइए क्योंकि ये आपके स्वास्थ्य के लिए हानिकारक साबित हो सकता है। हम आपको ऐसे ही 5 तत्वों के बारे में बताने जा रहे हैं, जिनके साथ ग्रीन टी का सेवन नहीं करना चाहिए।

एम्फैटेमिन्स के साथ ग्रीन-टी लेना हानिकारक

अगर आप एम्फैटेमिन्स (दवा के रूप में ) का सेवन कर रहे हैं तो सावधान हो जाइए। दरअसल एम्फैटेमिन्स नर्वस सिस्टम को तेज करता है और इसे लेने से हमारी हृदय गति भी बढ़ जाती है। ग्रीन-टी भी हमारे तेज नर्वस सिस्टम को तेज करने का काम करती है क्योंकि इसमें कैफीन मौजूद होता है।  ग्रीन-टी के साथ एम्फैटेमिन्स लेने से हृदय गति और हाई बीपी की शिकायत हो सकती हैं इसलिए दोनों को साथ लेने से परहेज करें।

इसे भी पढ़ेंः  रोजे के दौरान मधुमेह-हाई बीपी के मरीज इन बातों का रखें ख्याल, नहीं तो हो सकती है परेशानी

कोकेन और ग्रीन-टी का एक साथ सेवन सेहत के लिए खतरनाक

एक अध्ययन के मुताबिक, दोनों के एक साथ सेवन से भी हृदय गति में तेजी और बीपी बढ़ने की शिकायत होती है।

गर्भनिरोधक गोलियों के साथ न पीएं ग्रीन-टी

ग्रीन-टी में मौजूद कैफीन से निजात दिलाने के लिए हमारा शरीर उसे महीन हिस्सों में विभाजित करता है। जब भी कोई महिला गर्भ निरोधक गोलियां लेती है तो उस प्रक्रिया की गति धीमी हो जाती है, जिसके परिणामस्वरूप  इन गोलियों के साथ ग्रीन टी लेने से महिलाओं में घबराहट, सिरदर्द, और अन्य स्वास्थ्य समस्याएं हो सकती हैं।

तनाव की दवा के साथ भूलकर भी न पीएं  ग्रीन-टी

ग्रीन टी में पाया जाने वाला कैफीन शरीर में उत्तेजना पैदा करता है। अक्सर तनाव में ली जाने वाली दवाइयां भी शरीर में उत्तेजना पैदा करती इसलिए ग्रीन टी के साथ तनाव से निजात दिलाने वाली दवाइयां शरीर में उत्तेजना को बहुत अधिक बढ़ीा सकती है, जिससे ह्रदय गति तेज हो सकती है। ग्रीन टी के साथ दवाइयां लेने से उच्च रक्तचाप, घबराहट और अन्य गंभीर समस्याएं भी हो सकती हैं।

इसे भी पढ़ेंः  बात-बात पर खाते हैं एंटीबायोटिक और पेनिकलर, तो एक्सपर्ट से जान लें इसके नुकसान

जड़ी बूटियों और सप्लीमेंट्स के साथ ग्रीन-टी को कहें न

ग्रीन टी, जड़ी बूटियों और सप्लीमेंट्स के कार्य को प्रभावित कर सकती है जैसे अगर आप ग्रीन टी पीते हैं तो उसमें मौजूद तत्व, आयरन और फोलिक एसिड की खुराक को खपाने की प्रक्रिया को धीमा कर सकते हैं, जिससे उनकी प्रभावहीनता बढ़ जाएगी और आपके शरीर को कई प्रकार की दिक्कतें होंगी।

Read More Articles On Miscellaneous in Hindi

Disclaimer