साइंस ने माना कैसे आपके टूटे दिल के दर्द को और बढ़ाता है फेसबुक और इंस्टाग्राम, जानें कारण

शोधकर्ताओं ने स्वीकार किया है कि फेसबुक और इंस्टाग्राम आपके ब्रेक-अप को और ज्यादा गंभीर बना सकते हैं, जानें कैसे।

Jitendra Gupta
Written by: Jitendra GuptaUpdated at: Feb 18, 2020 09:42 IST
साइंस ने माना कैसे आपके टूटे दिल के दर्द को और बढ़ाता है फेसबुक और इंस्टाग्राम, जानें कारण

इस डिजिटल युग और फेसबुक व इंस्टाग्राम जैसे अलग-अलग तरह के सोशल मीडिया प्लेटफार्म के दौर में मनमुटाव इतना ज्यादा बढ़ गया है कि ये सभी चीजें ब्रेक-अप के बाद आपको और ज्यादा परेशान कर सकती हैं। जी हां एक शोध में इसका खुलासा हुआ है। शोधकर्ताओं का कहना है कि वे लोग, जो अपने एक्स के लिए अन-फ्रेंड, अन-फॉलो या फिर ब्लॉक जैसे फीचर का इस्तेमाल करते हैं उन्हें तब भी उससे ऑनलाइन टकराने का खतरा रहता है, जिसके कारण उन्हें भावनात्मक परेशानियों का सामना करना पड़ता है।

broken heart

'प्रोसीडिंग ऑफ द एसीएम ऑन ह्यूमन-कंप्यूटर इंटरएक्शन' जर्नल में प्रकाशित अध्ययन के लिए शोधकर्ताओं ने ऐसे लोगों का चुनाव किया, जो अलग रहने के 18 महीनों के भीतर कभी-कभी न ऑनलाइन अपने एक्स से जरूर टकराए थे। शोधकर्ताओं ने एक घंटे से ज्यादा वक्त तक उनका साक्षात्कार लिया और उनसे कुछ सवाल पूछे।

अमेरिका की यूनिवर्सिटी ऑफ कोलोराडो बोउलडर के प्रोफेसर और अध्ययन के मुख्य शोधकर्ता एंथनी पिंटर का कहना है कि सोशल मीडिया ब्रेक-अप से पहले भी किसी व्यक्ति के लिए इस झंझट से निकल पाना बहुत आसान हुआ करता है। लेकिन अब ऐसा असंभव हो गया है क्योंकि आपके पास अलग-अलग जगह पर रिमाइंडर आते रहते हैं, जिसके कारण भावनात्मक रूप से आपको चोट पहुंचती है।

इसे भी पढ़ेंः फैटी लिवर को हेल्दी लिवर में बदल सकते हैं ग्रीन टी और एक्सरसाइज बस जान लें ये तरीकाः शोध

शोधकर्ताओं के मुताबिक, 19 लोगों का इन-डेप्थ इंटरव्यू किया गया, जिसमें से विचलित करने वाली जानकारी सामने आई। शोधकर्ताओं ने पाया कि इन लोगों ने अपनी ऑनलाइन जिंदगी और सोशल मीडिया अकाउंट से अपने एक्स को निकालने के लिए हर संभव प्रयास किया लेकिन दिन में कई बार वे उनसे टकरा ही जाते थे।

पिंटर ने कहा, ''बहुत से लोगों का मानना था कि वे अपने एक्स को अनफ्रेंड या फिर अनफॉलो कर आगे उनसे कोई संबंध नहीं रखेंगे। लेकिन हमारा अध्ययन दिखाता है कि ये बात नहीं है।''

heart

उन्होंने बताया कि जैसे ही कोई व्यक्ति अपना अकाउंट खोलता है तो सबसे पहली चीज उसके आगे न्यूज फीड, जिसके कारण लोगों को बहुत ज्यादा धक्का लगता है। दरअसल इस न्यूज फीड से उन्हें ये जानकारी मिलती है कि उनका एक्स लवर एक नए रिश्ते में है।

इसे भी पढ़ेंः पीरियड की डेट आगे बढ़ाने वाली गोलियों का बार-बार सेवन स्वास्थ्य के लिए खतरनाक, होते हैं ये 4 साइड-इफेक्ट

शोधकर्ताओं ने पाया कि एक मामले में एक प्रतिभागी ने पाया कि उसके रूममेट ने उसरी एक्स के पोस्ट को लाइक भी किया हुआ था। हैरत की बात ये थी वह इस जानकारी को पाने वाले अपने दोस्तों में आखिरी था।  इसके अलावा अतीत के पोस्ट की यादें ताजा होना भी उतना ही दिल दुखाता है। शोधकर्ता ने कहा कि एक प्रतिभागी ने अपनी पूर्व पत्नी का बरसों पुराना संदेश, जो न जानें कहां से उसके सामने आ गया उसे पढ़कर भावुक हो उठा।

अध्ययन के मुताबिक, कभी-कभार कमेंट में एक्स की स्टोरी पढ़कर या फिर दोस्तों के साथ ली गई तस्वीरों को देखकर भी लोगों के दिल से आह निकल जाती है। इतना ही नहीं कुछ स्थितियों में आप और आपके एक्स के कुछ दोस्त कॉमन भी होते हैं, जब वह उनके साथ किसी तस्वीर को टैग करते हैं तो भी आपको कभी न कभी उनसे टकराना हो ही जाता है।

इसके अलावा आप फेसबुक पर अपने एक्स को ब्लॉक करने के बाद भी चैन की सांस नहीं ले पाते क्योंकि 'पीपल मे यू नो' के अंतगर्त सजेशन में उनक नाम आता ही रहता है। अध्ययन के लेखकों का कहना है कि जो लोग खोए हुए प्यार की याद को कम करने के लिए अपने ऑनलाइन जीवन से छुटकारा चाहते हैं, उन्हें अनफ्रेंडिंग, अनटैगिंग, टेक द ब्रेक का उपयोग करने और ब्लॉक करने की सलाह दी जाती है जबकि सच ये है कि यह सब फुलप्रूफ नहीं हैं।

Read more articles on Health News in Hindi

Disclaimer