मटके या घड़े में रखा पानी पीते हैं तो इन 4 तों का रखें खास ध्यान, सेहत को पहुंच सकता है नुकसान

मटके में रखा पानी सेहत के लिए बहुत फायदेमंद होता है, लेकिन कुछ चीजों का ध्यान रखना बहुत जरूरी है नहीं तो यह सेहत को नुकसान पहुंचा सकता है।

Vineet Kumar
Written by: Vineet KumarPublished at: May 11, 2022Updated at: May 11, 2022
मटके या घड़े में रखा पानी पीते हैं तो इन 4 तों का रखें खास ध्यान, सेहत को पहुंच सकता है नुकसान

फ्रिज के पानी सेहत के लिए काफी नुकसानदायक होता है। इसलिए कुछ लोग पानी को प्राकृतिक रूप से ठंडा करने के लिए पानी को मटके में स्टोर करते हैं। मटके या घड़े में पानी को स्टोर करने से उसे ठंडा करने में मदद मिलती है साथ ही पानी से गंदगी और टॉक्सिन्स भी निकल जाते हैं। यह एक वॉटर प्योरिफायर की तरह काम करता है। सेहत के लिए मटके का पानी पीना बहुत फायदेमंद माना जाता है। लेकिन मटके का पानी पीते समय कुछ बातों का खास ध्यान रखने की जरूरत होती है। अगर आप सही तरीके से मटके में रखे पानी का सेवन नहीं करते हैं या मटके में पानी ठीक से स्टोर नहीं करते हैं तो यह आपको फायदे की बजाए नुकसान पहुंचा सकता है। अगर आप भी मटके का पानी पीते हैं तो इस लेख में हम आपको ऐसी 4 बातों के बारे में बता रहे हैं जिनका आपको ध्यान रखने की जरूरत है (Drinking Water From Matka Or Clay Pot Things To Remember In Hindi)।

आइए पहले जानते हैं मटके का पानी सेहत के लिए कैसे फायदेमंद है (Drinking Water From Matka Or Clay Pot Benefits In Hindi)

मटके में पानी स्टोर करने से सिर्फ पानी को ठंडा करने में ही मदद नहीं मिलती, बल्कि मटके का पानी पीने से सेहत को कई लाभ मिलते हैं। यह पेट की सफाई करता है और पाचन को बेहतर बनाने में मदद मिलती है। साथ ही यह शरीर में इलेक्ट्रोलाइट की कमी को दूर करने में मदद करता है। मटके का पानी से गले में खराश जैसी समस्याएं नहीं होती है, इम्यूनिटी मजबूत होती है और ब्लड प्रेशर भी नियंत्रित रहता है। साथ ही यह आपकी त्वचा के लिए भी बहुत फायदेमंद होता है।

इसे भी पढें: डेंगू के मच्छर (एडीज) के काटने के कितने दिन बाद नजर आते हैं इसके लक्षण, जानें कैसे करें बचाव

मटके पानी पीते हैं तो रखें इन 4 बातों का ध्यान (Drinking Water From Matka Or Clay Pot Things To Remember In Hindi

1. पानी निकालने के लिए हैंडल वाले बर्तन का इस्तेमाल करें

हम में से ज्यादातर लोग गिलास या अन्य बर्तोनों की मदद से हाथ डालकर मटके से पानी निकालकर पीते हैं ऐसा करना सही बिल्कुल भी सही नहीं है। जब आप हाथ डालकर मटके से पानी निकालने की कोशिश करते हैं तो ऐसे में आपके हाथ और नाखूनों में जमा गंदगी से पानी गंदा और दूषित हो जाता है, जो कि गंभीर स्वास्थ्य समस्याओं का कारण बन सकता है। इसलिए हमेशा ध्यान रखें कि जब भी आप मटके से पानी निकालें तो किसी हैंडल वाले साफ बर्तन का इस्तेमाल करें।

2. मटके में रोज नया पानी भरें

मटके पानी जैसे-जैसे खत्म होता रहता है तो लोग अक्सर उसके ऊपर ही नया पानी डालकर मटके को भरते रहते हैं, लेकिन आपको ऐसा करने से बचना चाहिए। मटके की रोजाना सफाई करना महत्वपूर्ण है और हर बार उसे साफ करने के बाद ही उसमें ताजा पानी भरना चाहिए। अगर पानी कई दिनों तक मटके में रहता है तो उसमें हानिकारक बैक्टीरिया पनपते हैं जो पेट संबंधी समस्याओं, इंफेक्शन और टाइफाइड के साथ ही कई अन्य स्वास्थ्य समस्याओं को जन्म देते हैं।

3. मटके के चारों तरफ कपड़ा लपेटते हैं तो इसे रोज धोएं

गर्मियों में पानी को ज्यादा तेजी से ठंडा करने के लिए लोग मटके चारों तरफ से कपड़े से कवर कर देते हैं। साथ ही उसे खिड़की के पास किसी टेबल पर रख देते हैं। इस कपड़े की रोजाना सफाई करना बहुत जरूरी है, क्योंकि इस पर गंदगी सबसे ज्यादा जमा होती है। जो फंगल और बैक्टीरियल इंफेक्शन जैसी समस्याओं का कारण बन सकता है। इसलिए सुनिश्चित करें कि आप कपड़े को रोजाना साफ करें या दूसरे कपड़े से मटके को कवर करें।

इसे भी पढें: क्या इन्हेलर्स के इस्तेमाल से लग सकती है इसकी लत? एक्सपर्ट से जानें इन्हेलर्स से जुड़े 5 मिथक और उनकी सच्चाई

4. मटके को खुला न छोड़ें

मटके में पानी स्टोर करते समय आपको इस बात का खास ध्यान रखना चाहिए कि आप मटके को ढककर रखें। जितनी बार भी आप मटके से पानी निकालकर पिएं उसे ढकना न भूलें, क्योंकि इससे मटके में धूल मिट्टी और गंदगी जा सकती है। साथ ही पानी में कीड़े-मकोड़े भी घुस सकते हैं जिससे आपका पानी दूषित हो सकता है।

All Image Source: Shutterstock.com

Disclaimer