रोजाना 1 कप अजमोद की चाय पाएं 5 अद्भुत स्‍वास्‍थ्‍य लाभ, जानें इस आयुर्वेदिक चाय को बनाने का आसान तरीका

अजमोद एक आयुर्वेदिक बूटी है, जो आपको कई स्‍वास्‍थ्‍य लाभ प्रदान करती है। आइए यहां अजमोद की चाय (Parsley Tea) के फायदे और इसे बनाने का तरीका जानें। 

Sheetal Bisht
Written by: Sheetal BishtPublished at: Jul 21, 2020
रोजाना 1 कप अजमोद की चाय पाएं  5 अद्भुत स्‍वास्‍थ्‍य लाभ, जानें इस आयुर्वेदिक चाय को बनाने का आसान तरीका

अजमोद की चाय (Parsley Tea) एक बेहतरीन स्‍वास्‍थ्‍य लाभों से भरपूर चाय है, जो आपको कई फायदे देती है। अजमोद का उपयोग खाने में गार्निशिंग के तौर पर भी किया जाता है। यदि आप रोजाना अजमोद की चाय का सेवन करते हैं, तो इससे आपको एक स्‍वस्‍थ जीवन जीने में मदद मिलती है। ऐसा माना जाता है कि अजमोद की आयुर्वेदिक चाय आपके समग्र स्‍वास्‍थ्‍य को बढ़ावा देती है और अनेकों बीमारियों को आप से दूर रखती है। यह स्वस्थ होने का सबसे आसान और सस्ता तरीका है। आइए यहां हम आपको अजमोद की चाय पीने के फायदे और इसमें मौजूद पोषक तत्‍वों और इसे बनाने का तरीका बताते हैं। 

Parsley Tea Benefits

अजमोद चाय में मौजूद पोषक तत्‍व 

30 ग्राम अजमोद के पत्तों में 11 ग्राम कैलोरी, 2 ग्राम कार्ब, 1 ग्राम वसा, 1 ग्राम प्रोटीन और 1 ग्राम फाइबर की मात्रा होती है। यह विटामिन ए, सी, और विटामिन के से भरपूर है। इसके अलावा, इसमें पोटेशियम, फोलिक एसिड, फ्लेवोनोइड्स और कैरोटिनॉइड की भी मात्रा होती है। आइए अब यहां अजमोद चाय के स्‍वास्‍थ्‍य लाभ जानें। 

अजमोद चाय के स्‍वास्‍थ्‍य लाभ 

#1. ब्‍लड शुगर करे कंट्रोल 

रोजाना 1 कप अजमोद की चाय का सेवन आपके ब्‍लड शु्गर को कंट्रोल में रख सकता है। ऐसा इसलिए होता है क्‍योंकि अजमोद की चाय में मिरिस्टिसिन होता है, जो एक एंटीऑक्सिडेंट है और ब्‍ल्‍ड शुगर को कंट्रोल करने में मददगार है। इसके अलावा अजमोद की चाय पीने से इंफ्लेमेशन को कम करने और इंसुलिन प्रतिरोध को कम करने में भी फायदेमंद माना जाता है। 

इसे भी पढ़ें: झूलते पेट को फ्लैट बनाने में मददगार है 1 कप गुलाब की चाय, जानें बनाने का तरीका और फायदे

#2. पाचन को दे बढ़ावा

क्‍या आप जानते हैं कि अजमोद के पत्‍तों को खाने में गार्निशिंग के तौर पर क्‍यों इस्‍तेमाल किया जाता है? इसके दो कारण हैं, पहला तो ये खाने को एक अच्‍छी सुगंध देता है और दूसरा कि यह पाचन को बढ़ावा देने में मददगार है। यही वजह है कि अजमोद की चाय पीने से आपको गेस्ट्रोइन्टिस्टनल संबंधी समस्‍याओं को दूर करने में मदद मिलती है। यह अच्छे आंत स्वास्थ्य के लिए आंत के गुड बैक्टीरिया को बढ़ाने में मददगार है।

#3. इम्यूनिटी बूस्टर है अजमोद की चाय 

अजमोद की चाय को इम्‍युनिटी बूस्‍टर चाय माना जाता है। यह चाय एंटीऑक्सिडेंट और विटामिन सी से भरपूर है, जो कि इम्‍युनिटी बढ़ाने वाले शक्तिशाली यौगिक हैं। इतना ही नहीं, अजमोद में फ्लेवोनोइड भी है, जो ऑक्सीडेटिव तनाव से लड़ने में मददगार है। यह आपके समग्र स्वास्थ्य को बढ़ावा देने में मददगार है। 

Parsley Tea Health Benfits

#4. दिल की सेहत के लिए फायदेमंद 

अजमोद की चाय आपके ब्‍लड शुगर से लेकर ब्‍लड प्रेशर को कंट्रोल करने में सहायह है। इस चाय का सेवन हाई बीपी के रोगियों के लिए फायदेमंद है। अजमोद में मौजूद फ्लेवोनोइड्स ऑक्सीडेटिव तनाव को कम करके हृदय स्वास्थ्य को सुरक्षित रखने और हृदय रोगों की रोकथाम में मददगार है। इसमें फोलिक एसिड भी होता है, जो दिल की सेहत से भी जुड़ा होता है। फोलेट का अच्छा स्तर हृदय स्‍वास्‍थ्‍य को बढ़ावा देने में मददगार है। 

इसे भी पढ़ें: सेहत के लिए कई फायदों से भरी है अमरूद की चाय, जानें इसके कुछ नुकसान और बनाने का तरीका

#5. किडनी के स्वास्थ्य लिए फायदेमंद 

अजमोद में मूत्रवर्धक गुण होते हैं, जो शरीर से कीटाणुओं, जीवाणुओं और विषाक्त पदार्थों को खत्म करने में मदद करते हैं। ऐसा माना जाता है कि अजमोद का सेवन करने से अधिक मूत्र उत्पादन होता है, जो आपको सिर्फ पानी पीने से मिलता है। यह गुर्दे के कार्यों में सुधार करने में मदद करता है।

How To Make Parsley Tea

अजमोद चाय बनाने का तरीका 

अजमोद चाय बनाने के लिए इन स्‍टेप्‍स को फॉलो करें: 

  • एक पैन में, एक कप पानी डालें और एक उबाल आने दें। 
  • अब यदि आपके पास ताजे अजमोद के पत्ते हैं, तो उन्हें काट लें और उबलते पानी में डाल दें।
  • वैकल्पिक रूप से, आप सूखे अजमोद के पत्‍तों को भी उपयोग कर सकते हैं अगर आपके पास ताजा पत्ते नहीं हैं।
  • अब गैस बंद कर दें और ढक्कन को पैन के ऊपर रख दें। 
  • अब आप इसे 10 मिनट के लिए अलग रख दें, ताकि पानी सभी पोषक तत्वों को अवशोषित कर सके। 
  • अब आप चाय को मग में निकालें और यदि आपको गर्म-गर्म चाय पसंद है, तो इसे दोबारा गर्म कर लें। 
  • अब आप बेहतर स्वाद के लिए, एक चम्मच शहद और कुछ नींबू का रस डालें और इस चाय का आनंद लें। 

Read More Article On Healthy Diet In Hindi 

Disclaimer