Expert

डायबिटीज का पता चलने के बाद डाइट में करें ये 10 बदलाव, कंट्रोल रहेगा ब्लड शुगर

Diabetes Reversal Tips: डायबिटीज को कंट्रोल और रिवर्स करने में आपकी डाइट की अहम भूमिका होती है, डायबिटीज रिवर्स करने के लिए डाइट में करें ये 10 बदलाव।

Vineet Kumar
Written by: Vineet KumarPublished at: Jun 07, 2022Updated at: Jun 07, 2022
डायबिटीज का पता चलने के बाद डाइट में करें ये 10 बदलाव, कंट्रोल रहेगा ब्लड शुगर

डायबिटीज जीवनशैली से जुड़ा एक गंभीर रोग है। यह एक ऐसी स्थिति है जिसमें शरीर में ब्लड शुगर लेवल कंट्रोल में नहीं रहता है। वर्तमान समय में बहुत से लोग डायबिटीज की समस्या से जूझ रहे हैं। बहुत से लोगो मन में यह सवाल रहता है कि क्या डायबिटीज को रिवर्स किया जा सकता है? या डायबिटीज का इलाज कैसे संभव है? एक्सपर्ट्स बताते हैं कि डायबिटीज के इलाज में दवाओं से ज्यादा आपको अपनी जीवनशैली में सुधार करने की अधिक जरूरत होती है। इसके अलावा अपने खानपान में बदलाव करना भी बहुत जरूरी है। डायबिटीज एक ऐसा रोग है जिसका इलाज नहीं किया जा सकता है लेकिन इसे कंट्रोल किया जा सकता है। डायटीशियन मनप्रीत की मानें तो अपनी डाइट में कुछ मामूली बदलाव के साथ डायबिटीज को कंट्रोल करने के साथ ही रिवर्स करने में काफी मदद मिल सकती है। इस लेख में हम आपको डाइट से जुड़े ऐसे 10 बदलाव (Dietary Changes To Reverse Diabetes In Hindi) बता रहे हैं जिससे डायबिटीज को रिवर्स करने में मदद मिलेगी।

Diabetes Reversal Tips

डायबिटीज रिवर्स करने के लिए डाइट में करें ये 10 बदलाव (Dietary Changes To Reverse Diabetes In Hindi)

1. हेल्दी कार्बोहाइड्रेट के विकल्प चुनें। रिफाइंड कार्ब्स की बजाए साबुत अनाज का सेवन करें। रागी, ज्वार और समक राइस आदि को डाइट का हिस्सा बनाएं।

2. सुबह की शुरुआत चाय कॉफी के साथ करने से बचें। इसके बजाए सुबह मेथी और दालचीनी की चाय पिएं।

3. अनहेल्दी फैट्स के सेवन से बचें और नमकीन जैसे फूड्स बिल्कुल भी न खाएं। क्योंकि ये शरीर में सूजन को बढ़ाते हैं।

इसे भी पढें: डायबिटीज मरीजों का ब्लड प्रेशर कितना होना चाहिए? जानें शुगर में ब्लड प्रेशर बढ़ने के नुकसान

4. दोपहर के भोजन से पहले जामुन के सिरके का सेवन करें। यह ब्लड शुगर को रेगुलेट करने में मदद करता है।

5. दिन के दो बड़े भोजन के बीच में छाछ और एक चम्मच चीया के बीज का सेवन करें। जैसे लंच और डिनर के बीच में या फिर ब्रेकफास्ट या लंच के बीच में। यह आपके लेप्टिन और घ्रेलिन हार्मोन को रिलीज करने में मदद करता है, जो आपकी भूख को नियंत्रित करने में भूमिका निभाता है। यह तृप्ति की भावना को बढ़ाता है और आपको जल्दी या बार-बार भूख नहीं लगती है।

6. ब्रेकफास्ट, लंच और डिनर के बाद 15 मिनट पैदल जरूर चलें। इससे ब्लड शुगर में अचानक स्पाइक नहीं होती है, और भोजन के बाद ब्लड शुगर लेवल कंट्रोल में रहता है।

7. ब्रेड और बिस्कुट का सेवन न करें। क्योंकि इनके सेवन से इंसुलिन में स्पाइक होती है और शरीर में हार्मोन्स का संतुलन बिगड़ता है।

8. दोपहर के भोजन से पहले सलाद का सेवन जरूर करें। यह पोर्शन कंट्रोल को बेहतर बनाता है और ब्लड शुगर लेवल को बनाए रखने में मदद मिलती है।

9. नट्स, बीज और ड्राई फ्रूट्स को डाइट में शामिल करें। इससे ब्लड शुगर में स्पाइक नहीं होती है।

10. अपने आहार से पर्याप्त प्रोटीन लें। ऐसे फूड्स का सेवन करें जिनमें प्रोटीन अधिक होता है। आप अलग-अलग फूड कॉम्बिनेशन ट्राई कर सकते हैं। सीरीयल के साथ दाल का सेवन करें,  मिलेट रोटी के साथ शिमला मिर्च और पनीर की सब्जी खाएं, ज्वार और मूंग दाल की खिचड़ी का सेवन करें।

इसे भी पढें: डायब‍िटीज को कैसे न‍ियंत्रण में रखें? डॉक्‍टर से जानें 5 आसान ट‍िप्‍स

एक्सपर्ट क्या सलाह देते हैं

डाइट में इन बदलाव के साथ डायबिटीज को रिवर्स करने में मदद मिल सकती है। अनहेल्दी फूड्स का सेवन बंद करें और सिर्फ स्वस्थ आहार लें। अपना वजन मेंटेन रखें। डाइट में बदलाव के साथ दिन में कुछ समय एक्सरसाइज के लिए भी निकालें, इससे बहुत फायदा मिलेगा।

All Image Source: Freepik.com

Disclaimer