Doctor Verified

डायब‍िटीज को कैसे न‍ियंत्रण में रखें? डॉक्‍टर से जानें 5 आसान ट‍िप्‍स

डायब‍िटीज को चेक करने के ल‍िए आप डॉक्‍टर के बताए कुछ आसान ट‍िप्‍स अपना सकते हैं, जानते हैं आगे व‍िस्‍तार से  

Yashaswi Mathur
Written by: Yashaswi MathurPublished at: May 16, 2022Updated at: May 16, 2022
डायब‍िटीज को कैसे न‍ियंत्रण में रखें? डॉक्‍टर से जानें 5 आसान ट‍िप्‍स

डायब‍िटीज ऐसी बीमारी है ज‍िसे कंट्रोल करना बहुत जरूरी है और ऐसा न कर पाने की स्‍थ‍ित‍ि में व्‍यक्‍त‍ि को कई तरह की शारीर‍िक समस्‍याएं हो सकती हैं जैसे ब्‍लड शुगर लेवल बढ़ने के कारण ड‍िप्रेशन की समस्‍या, थकान होना, कंफ्यूजन की स्‍थि‍त‍ि हो सकती है और लॉन्‍ग टर्म इफेक्‍ट्स की बात करें तो शुगर लेवल बढ़ने के कारण हार्ट की समस्‍या हो सकती है, वजन बढ़ सकता है और थायराइड भी बढ़ सकता है इसल‍िए आपको ब्‍लड शुगर लेवल कंट्रोल करने के ट‍िप्‍स जान लेने चाह‍िए। अगर आप हेल्‍दी ट‍िप्‍स को फॉलो करेंगे तो आप डायब‍िटीज को कंट्रोल में रख सकते हैं। इस व‍िषय पर बेहतर जानकारी के ल‍िए हमने लखनऊ के केयर इंस्‍टिट्यूट ऑफ लाइफ साइंसेज की एमडी फ‍िजिश‍ियन डॉ सीमा यादव से बात की।

check diet in sugar

1. डाइट में कॉर्ब्स की मात्रा चेक करें (Check carbs portion in diet)

डाय‍ब‍िटीज में आप हेल्‍दी डाइट की मदद से डायब‍िटीज को कंट्रोल कर सकते हैं। आपको कॉर्ब्स की मात्रा कंट्रोल करनी चाह‍िए इसके अलावा आपको पोर्शन साइज पर भी ध्‍यान देना चाह‍िए। ब्‍लड शुगर लेवल कंट्रोल करने के ल‍िए कॉर्ब्स की सही मात्रा जरूरी होती है। आपको अपना पोर्शन साइज फ‍िक्‍स करना चाह‍िए और आपको अपने मील में फल, सब्‍ज‍ियां, प्रोटीन, फैट्स, कॉर्ब्स आद‍ि को शाम‍िल करना चाह‍िए। इसके अलावा आपको शुगर की मात्रा भी कम करनी होगी, शुगर की मात्रा कम करने के ल‍िए सबसे पहले चाय या कॉफी में चीनी डालकर पीना छोड़ दें साथ ही मीठी चीजों का सेवन पूरी तरह से बंद कर दें।

इसे भी पढ़ें- क्‍या आप प्रेगनेंसी क‍िट को दोबारा यूज कर सकते हैं? एक्‍सपर्ट से जानें सही जवाब

2. शुगर लेवल चेक करें (Check sugar level)

आपको समय-समय पर शुगर लेवल चेक करना चाह‍िए। एक्‍सरसाइज से पहले, एक्‍सरसाइज के दौरान और एक्‍सरसाइज के बाद आपको अपने शुगर लेवल पर गौर करना चाह‍िए। अगर आप इंसुल‍िन लेते हैं तो ये और भी ज्‍यादा जरूरी है क‍ि आप शुगर लेवल को चेक करें। शुगर लेवल घटने के लक्षण की पहचान भी आपको होनी चाह‍िए ज‍िनमें कमजोरी, थकान, भूख लगना, गुस्‍सा आना, कंफ्यूजन आद‍ि शाम‍िल है।    

3. ड‍िहाइड्रेशन की स्‍थ‍िति‍ न आने दें (Avoid dehydration in body)

आपको अपने हाइड्रेशन का भी ख्‍याल रखना है। ड‍िहाइड्रेशन का असर ब्‍लड शुगर लेवल पर पड़ता है इसल‍िए आपको द‍िन में 8 से 10 ग‍िलास पानी का सेवन करना है और बॉडी को हाइड्रेट रखना है। अगर शुगर लेवल 90 mg/dL से कम है तो आप एक्‍सरसाइज करने से पहले स्‍नैक्‍स का सेवन जरूर करें। ड‍िहाइड्रेशन की समस्‍या को दूर करने के ल‍िए आप पानी के अलावा हर्बल टी का भी सेवन कर सकते हैं, सुबह-सुबह हर्बल टी का सेवन ज्‍यादा फायदेमंद होता है।    

इसे भी पढ़ें- महिलाओं में डीएचटी हेयर लॉस क्यों होता है? इससे छुटकारा पाने के 7 नैचुरल उपाय    

4. सुबह 30 से 40 म‍िनट एक्‍सरसाइज करें (Exercise 30 to 40 minutes daily)

exericse daily  

डायब‍िटीज कंट्रोल करने के ल‍िए एक्‍सरसाइज भी जरूरी है। आपको शुगर लेवल कंट्रोल करने के ल‍िए अपने रूटीन में एक्‍सरसाइज को जगह देनी चाह‍िए। फ‍िज‍िकल एक्‍ट‍िव‍िटी के ल‍िए आपको 30 से 40 म‍िनट सुबह समय न‍िकालना चाह‍िए। एक बार आप रूटीन में वर्कआउट करेंगे तो धीरे-धीरे समय सीमा बढ़ा सकते हैं। फ‍िज‍िकल एक्‍ट‍िव‍िटी का इंसुल‍िन के स्‍तर पर गहरा असर पड़ता है। आप एक्‍सरसाइज में वॉक‍िंंग, योगा, मेड‍िटेशन, कॉर्ड‍ियो वर्कआउट आद‍ि शाम‍िल करें।   

5. दवाओं का सेवन समय पर करें (Take medicines on time)

आपको समय पर दवाओं का सेवन करना है, अगर आपको डायब‍िटीज है तो शुगर लेवल कंट्रोल करने के ल‍िए समय पर दवाओं का सेवन करना जरूरी है। अगर आप इंसुल‍िन लेते हैं तो ध्‍यान रखें क‍ि आप उसका समय नोट करें ताक‍ि आप सही गैप पर इंसुल‍िन ले सकें। इसके अलावा कोश‍िश करें क‍ि आपका स्‍ट्रेस लेवल कंट्रोल में रहे। बॉडी में जो हार्मोन बनते हैं उसके असर पर ही ब्‍लड शुगर लेवल न‍िर्भर रहता है, अगर आप ज्‍यादा स्‍ट्रेस में हैं तो ब्‍लड शुगर लेवल बढ़ सकता है।   

पोषक भरी डाइट, एक्‍सरसाइज और सही व हेल्‍दी लाइफस्‍टाइल के साथ आप ब्‍लड शुगर लेवल कंट्रोल कर सकते हैं।

Disclaimer