90 दिनों में चीन की 60% आबादी हो सकती है कोरोना संक्रमित, बेकाबू हालात से बढ़ सकता है मौत का आंकड़ा

Covid Spike in China: चीन में कोरोना संक्रमण की हालात को लेकर वैज्ञानिक ने चेतावनी देते हुए कहा है कि अगले 90 दिनों में हालात और गंभीर होने वाले हैं।

Prins Bahadur Singh
Written by: Prins Bahadur SinghUpdated at: Dec 20, 2022 14:26 IST
90 दिनों में चीन की 60% आबादी हो सकती है कोरोना संक्रमित, बेकाबू हालात से बढ़ सकता है मौत का आंकड़ा

Covid Spike in China: चीन में कोविड-19 से जुड़े प्रतिबंधों में छूट देने के बाद कोरोना संक्रमण बेकाबू हो गया है। मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक चीन में इस समय कोरोना की वजह से होने वाली मौतों के मामले बहुत ज्यादा बढ़ गए हैं। चीन और जापान जैसे देशों में कोरोना वायरस संक्रमण का असर एक बार फिर बढ़ता हुआ दिख रहा है। वैज्ञानिकों के अनुमान के मुताबिक चीन में अगले 90 दिनों में कोरोना की नई और ज्यादा खतरनाक लहर आ सकती है। रिपोर्ट्स बताती हैं कि बीजिंग में कोरोना से मरने वाले लोगों के शवों से श्मशान घात भर गया है। वॉल स्ट्रीट जर्नल में छपी एक रिपोर्ट के मुताबिक चीन की राजधानी में कोरोना संक्रमण की स्थिति बेकाबू और खतरनाक बनी हुई है। वैश्विक स्तर पर एक बार फिर बढ़ रहे कोरोना के मामले चौंकाने वाले हैं। इसकी वजह से दुनियाभर के वैज्ञानिकों और डॉक्टर्स की चिंता बढ़ गयी है। अब सवाल यह उठ रहा है कि क्या एक बार फिर लोगों को संक्रमण के डर से अपने घरों में बंद होना पड़ेगा?

महामारी वैज्ञानिक ने दी ये चेतवानी- Experts Warn of New Covid Waves

महामारी विशेषज्ञ और स्वास्थ्य अर्थशास्त्री एरिक फीगल-डिंग ने चेतावनी देते हुए कहा है कि अगर यही हालात रहे तो अगले 90 दिन में कोरोना एक खतरनाक लहर देखने को मिल सकती है। एरिक फीगल-डिंग ने कहा है कि अगले 90 दिनों के भीतर चीन में 60 प्रतिशत से ज्यादा लोगों की कोरोना से संक्रमित होने की संभावना है और पूरी दुनिया के लगभग 10 प्रतिशत लोग इस संक्रमण की चपेट में आ सकते हैं।

Covid Spike in China

इसे भी पढ़ें: कोविड वैक्सीन की वजह से बढ़ी पीरियड्स से जुड़ी परेशानियां, स्टडी में हुआ खुलासा

वैज्ञानिक ने अपने ट्वीट में चीन में बढ़ रहे कोरोना के मामलों को लेकर लोगों को चेताया है। उन्होंने कहा है कि आने वाले दिनों में चीन में कोरोना वायरस संक्रमण के कारण होने वाली मौतों का आंकडा भी तेजी से बढ़ सकता है। जानकारी के लिए बता दें कि Dr Eric वही Epidemiologist हैं, जिन्होंने पहली बार 2020 में कोरोना संक्रमण को लेकर चेताया था।

2 नवंबर के बाद दुनिया में बढ़े कोरोना के मामले- Covid Cases Surge Worldwide

Worldometers.info पर उपलब्ध आंकड़ों के मुताबिक नवंबर महीने से दुनियाभर में कोरोना के मामलों में बढ़त शुरू हुई है। एक तरफ भारत में कोरोना वायरस के मामले लगातार कम हो रहे हैं तो वहीं एशिया के अन्य देश और यूरोपीय देशों में कोरोना के मामले तेजी से बढ़े हैं। 2 नवंबर के बाद 18 दिसंबर तक कोरोना के मामलों में लगभग 55 फीसदी उछाल देखने को मिला है। चीन के अलावा जापान में भी कोरोना वायरस के मामले बहुत तेजी से बढ़े हैं। आकंड़ों के मुताबिक जापान में हफ्तेभर में ही 1 मिलियन से ज्यादा लोग कोरोना संक्रमित हुए हैं। मौजूद डेटा के अनुसार बीते हफ्ते में जापान में कोरोना के मामलों में 23 फीसदी का उछाल देखने को मिला है। चीन और जापान के अलावा साउथ कोरिया, ब्राजील, जर्मनी, ताइवान और फ़्रांस जैसे देशों में भी कोरोना के मामलों में बढ़ोत्तरी देखने को मिल रही है।

इसे भी पढ़ें: पूरी दुनिया में इन 10 बीमारियों के कारण होती हैं सबसे ज्यादा मौतें, जानें कैसे बचें

भारत में कोरोना वायरस संक्रमण की स्थिति की बात करें तो, हमारे यहां बीते 5 महीने से कोरोना वायरस के मामले कंट्रोल में हैं। जुलाई के बाद से देश में कोरोना के मामले और इसकी वजह से होने वाली मौतें लगातार कम हो रही हैं। लेकिन इन सबके बीच महामारी विशेषज्ञ एरिक फीगल-डिंग की चेतवानी चिंता का विषय है। वैश्विक स्तर पर बढ़ रहे कोरोना के मामलों का असर भारत पर भी देखने को मिल सकता है। 

(Image Courtesy: Freepik.com)

Disclaimer