Rakhi 2021: हमेशा की तरह हाथों में अब भी राखी बांधकर न घूमें, अनजाने में राखी के जरिए फैल सकता है कोरोना

कोरोना महामारी के इस दौर में जो भी करें सोच समझ कर करें। ऐसे में अब भी राखी बांधे रहना कोरोनावायरस को आसानी से फैला सकता है।

Pallavi Kumari
Written by: Pallavi KumariPublished at: Aug 04, 2020
Rakhi 2021: हमेशा की तरह हाथों में अब भी राखी बांधकर न घूमें, अनजाने में राखी के जरिए फैल सकता है कोरोना

राखी का त्योहार कल बीत चुका है पर अब भी भाईयों के हाथों पर सुंदर-सुंदर राखी बंधी हुई है। आज भी लोग अपनी कलाई पर राखी बांधे घूम रहे हैं। दरअसल ये आदत हमें पहले से ही है कि और इसलिए हम अब भी उसी के साथ जी रहे हैं। किसी का मन नहीं कि वो इतनी जल्दी अपने हाथों से राखी निकाल कर फेंक दें, पर इस वक्त को देखते हुए ये जरूरी है। दरअसल कोरोनावायरस जिस तरह से सतहों पर ठहर जाता है और अजाने में फैल जाता है, ऐसे में ये सही नहीं है कि हम अपने हाथों पर राखी बांधे रहें। ये कोरोनावायरस को फैलाने का सबसे आसान सा जरिया हो सकता है, जिसके बारे में हम में से बहुत से लोगों मे अभी सोचा भी नहीं है।

insiderakhi

हाथों पर बंधी राखी से फैल सकता है कोरोनावायरस

रोग नियंत्रण केंद्र (सीडीसी) के अनुसार, वायरस फैलने का सबसे संभावित तरीका किसी ऐसे व्यक्ति के साथ निकट संपर्क में आना या संक्रमित स्थान के संपर्क में आने से ज्यादा है, जो कोरोना संक्रमित है चाहे आप उसे जानते हो या न हो। यही कारण है कि सोशल डिस्टेंसिंग, ग्लव्स और मास्क बेहद जरूरी है। वहीं कोरोना से जुड़े प्रारंभिक शोध यह भी बताते हैं कि कोरोनावायरस प्लास्टिक और स्टेनलेस स्टील सतहों पर घंटों से लेकर कुछ दिनों तक कहीं भी रह सकता है। इसी तरह कपड़ों और नमी वाले जगहों पर भी ये लंबे समय तक रह सकता है।

इसे भी पढ़ें : हैंड सैनिटाइजर के प्रयोग में ज्यादातर लोग कर रहे हैं ये 7 गलतियां, फायदे के बजाय हो सकते हैं कई नुकसान

राखी के कच्चे धागों और उसके बाकी डिजाइन कुछ इस तरह के होते हैं कि ये कपड़ा और प्लास्टिक दोनों से मिक्स रहता है। इस धागे पर कोरोनावायरस ठहर सकता है। जैसे कि आप कहीं काम करने जाएं और गलती से आपके राखी के माध्यम से वायरस आ जाए और फिर ये घर पर उतारने से कहीं फैल जाए, या गलती से आपके शरीर के भीतर तक पहुंच जाए, तो ये आपके और आपके परिवार वाले लोगों के लिए घातक हो सकता है।

insidecorona

राखी से कैसे फैल सकता है कोरोनावायरस?

राखी के धागे नरम और झरझरा सतह वाले होते हैं, जैसे कि आपकी शर्ट की आस्तीन। वास्तव में इन वायरस को दो कारणों से राखी के जरिए बुरे तरीके से इसे फैला सकता है। जैसे कि

  • - कोरोना वायरस कपड़े के फाइबर और बुनाई के बीच फंस सकते हैं। इस तरह वायरस आपके हाथ, चेहरे या किसी अन्य सतह पर स्थानांतरित होने की संभावना ज्यादा रखते हैं।
  • - हालांकि राखी सूखी होने पर ये वायरस बहुत कम संक्रामक होते हैं पर राखी आपके कलाई पर बंधी हुई है तो बार-बार गीली होगी और आसानी से ये फैलेगा।

इसे भी पढ़ें : भाप की मदद से खत्म किया जा सकता है कोरोना वायरस? जानें क्या कहते हैं एक्सपर्ट्स

कोरोनावायरस से बचने के लिए क्या करें?

कोरोनावायरस से बचने के लिए आपको अपनी राखी को निकाल कर डस्टबिन में डाल देना चाहिए। भले ही आपको ये बुरा लग रहा हो पर अगर आप ऐसा नहीं करते हैं और राखी को खोलकर किसी अन्य जगह पर रख देते हैं, तो इससे वायरय गलती से अन्य जगहों पर फैल सकता है। इसके अलावा अगर आपके घर में आपके भाई या घर के बच्चे अब भी राखी बांध घूम रहें हैं, तो उन्हें ये समझाएं कि राखी में गंदगी हो सकती है और इससे बीमारी फैल सकती है।

राखी के अलावा रोजाना जिन चीजों को आप अपने हाथों से छूते रहते हैं, उन चीजों को या उन सतहों को जरूर साफ करें। जैसे कि घड़ी, अंगूठी और माबाइल आदि। इसलिए परेशान न हों, बस आराम से रहें और सभी चीजों को ध्यान से इस्तेमाल करें और छूने के बाद अपने और अपने सामान की जरूर सफाई करें।

Read more articles on Miscellaneous in Hindi

Disclaimer