आंखों में दर्द, लालिमा और थकान हो सकते हैं केराटाइटिस की समस्या के संकेत, जानें इसके बारे में

आंखों में कॉर्निया की चोट और संक्रमण की वजह से केराटाइटिस की समस्या हो सकती है, जानें इस समस्या के कारण, लक्षण और बचाव के बारे में।

 
Prins Bahadur Singh
Written by: Prins Bahadur SinghPublished at: Jul 09, 2021Updated at: Jul 09, 2021
आंखों में दर्द, लालिमा और थकान हो सकते हैं केराटाइटिस की समस्या के संकेत, जानें इसके बारे में

आंखें हमारे शरीर की सबसे संवेदनशील और जरूरी अंग है। आँखों के स्वास्थ्य का देखभाल भी अच्छी तरह से करना चाहिए। आंखों को स्वस्थ बनाये रखने के लिए पौष्टिक खानपान के अलावा इनसे जुड़ी समस्याओं के बारे में जानकारी होनी जरूरी है। आज हमारे देश में आंखों की समस्या से ग्रसित लोगों की संख्या लगातार बढ़ती जा रही है। विश्व स्वास्थ्य संगठन के एक आंकड़े के मुताबिक दुनियाभर में आंखों से जुड़ी बीमारियों में 50 प्रतिशत से अधिक मामले सिर्फ आंखों में इन्फेक्शन की वजह से आते हैं। आंख के इन्फेक्शन से ही जुड़ी एक समस्या केराटाइटिस (Keratitis) है, जिसमें आंखों में खुजली, दर्द, लालिमा और थकान की समस्या होती है। केराटाइटिस कॉर्निया में होता है और इसका सही समस्या पर इलाज न किये जाने की स्थिति में यह समस्या गंभीर रूप भी ले सकती है। आइये एशिया भर में आंखों के इलाज के लिए मशहूर सीतापुर आंख अस्पताल के डॉक्टर धर्मेंद्र सिंह से जानते हैं आंखों में कॉर्निया से जुड़े संक्रमण केराटाइटिस के बारे में।

क्या है केराटाइटिस की समस्या? (What is Keratitis?)

Keratitis-Causes-Symptoms-and-Treatment

केराटाइटिस आंखों में संक्रमण की वजह से कॉर्निया में होने वाली सूजन की समस्या है। यह समस्या आंखों में संक्रमण और चोट आदि लगने के कारण हो सकती है। कॉन्टैक्ट लेंस पहनने वाले लोगों में यह समस्या अन्य लोगों की तुलना में ज्यादा देखी जाती है। केराटाइटिस की समस्या संक्रामक बैक्टीरिया, वायरस और परजीवी आदि के संपर्क में आने की वजह से भी हो सकती है। अगर सही समय पर इस समस्या का इलाज नहीं किया जाये तो इसकी वजह से मरीज के आंख की रोशनी हमेशा के लिए भी जा सकती है। केराटाइटिस में कॉर्निया में सूजन के साथ-साथ आंखों की नजर भी कमजोर होने लगती है। इसके लक्षण दिखने पर तुरंत इलाज कराया जाना चाहिए। 

केराटाइटिस के लक्षण (Symptoms of Keratitis)

केराटाइटिस आंखों में संक्रमण या चोट की वजह से होने वाली गंभीर समस्या है। इसमें आंखों की कॉर्निया को सबसे ज्यादा नुकसान पहुंचता है। केराटाइटिस की समस्या होने पर कॉर्निया में सूजन और आंखों की नजर कमजोर हो जाती है। केराटाइटिस की समस्या में दिखने वाले प्रमुख लक्षण इस प्रकार से हैं। 

  • आंखों का लाल होना
  • आंख में दर्द
  • जलन
  • दिखने में समस्या या धुंधला दिखना
  • आंखों को खोलने पर दिक्कत
  • आंखों से पानी गिरना
  • फोटोफोबिया
  • आंख में खुजली
  • आंखों में सूजन
Keratitis-Causes-Symptoms-and-Treatment

केराटाइटिस की समस्या के कारण (Causes of Keratitis)

केराटाइटिस की समस्या संक्रमण और चोट के अलावा कई अन्य कारणों से भी हो सकती है। डॉ धर्मेंद्र के मुताबिक यह समस्या सामान्य लोगों की तुलना में उन लोगों को ज्यादा होती है जो कॉन्टैक्ट लेंस का इस्तेमाल करते हैं। इसके अलावा खेत में काम करने वाले लोगों में यह समस्या संक्रामक बैक्टीरिया, परजीवी और कवक आदि के संपर्क में आने से होती है। आये जानते हैं केराटाइटिस की समस्या के प्रमुख कारणों के बारे में।

1. आंखों में चोट लगने की वजह से केराटाइटिस की समस्या हो सकती है। जब चोट आपके कॉर्निया को नुकसान पहुंचाती है तो ऐसी स्थिति में गैर संक्रामक केराटाइटिस की समस्या होती है।

2. चूंकि केराटाइटिस की समस्या सबसे ज्यादा संक्रमण की वजह से होती है इसलिए वायरस के संपर्क में आने से इसका खतरा बढ़ जाता है। दाद और खाज के वायरस की वजह से केराटाइटिस के होने का खतरा सबसे ज्यादा होता है।

3. दूषित लेंस की वजह से कॉन्टैक्ट लेंस का इस्तेमाल करने वाले लोगों को केराटाइटिस की समस्या होती है। लेंस की सतह पर अमीबा, कवक या परजीवी आदि के मौजूद होने से आंखों में पहुंच जाते हैं और केराटाइटिस का कारण बनते हैं।

4. सूजन पैदा करने वाले जीवाणुओं के संपर्क में आने से भी केराटाइटिस की समस्या हो सकती है।

केराटाइटिस की समस्या के प्रकार (Types of Keratitis)

केराटाइटिस की समस्या को चिकित्सकों ने दो प्रकार में बांटा है। पहला संक्रमण की वजह से होने वाला केराटाइटिस और दूसरा गैर-संक्रामक केराटाइटिस।

संक्रामक केराटाइटिस (Infectious Keratitis)

  • आंख की चोट के कारण होने वाला फंगल केराटाइटिस।
  • वायरल केराटाइटिस जो एचएसवी के कारण होता है।
  • कॉन्टैक्ट लेंस पहनने के कारण जीवाणु संक्रमण की वजह से।
  • पानी में मौजूद परजीवियों के कारण होने वाला केराटाइटिस।
Keratitis-Causes-Symptoms-and-Treatment

गैर-संक्रामक केराटाइटिस (Noninfectious Keratitis)

  • आंखों की एलर्जी के कारण होने वाला केराटाइटिस।
  • कॉर्निया में चोट की वजह से।
  • अधिक समय तक कॉन्टैक्ट लेंस पहनने की वजह से केराटाइटिस की समस्या।
  • प्रकाश के प्रति संवेदनशीलता की वजह से होने वाला केराटाइटिस।
  • विटामिन ए की कमी से होने वाला केराटाइटिस।
  • आंखों के अंदर नमी की कमी की वजह से केराटाइटिस की समस्या।

केराटाइटिस की समस्या का इलाज (Keratitis Treatment)

चिकित्सक केराटाइटिस की समस्या का इलाज इसके प्रकार और रोग की गंभीरता के हिसाब से करते हैं। सबसे पहले लक्षण दिखने पर मरीज के आंखों की जांच की जाती है। जिसके बाद स्थिति के अनुसार मरीज को जीवाणुरोधी आई ड्राप से लेकर कई तरह की दवाएं आदि दी जा सकती हैं। केराटाइटिस की समस्या गंभीर और लंबे समय तक रहने पर सर्जरी की आवश्यकता भी हो सकती है। अगर किसी भी व्यक्ति में केराटाइटिस से जुड़े लक्षण दिखाई देते हैं तो उसे तुरंत इलाज कराना चाहिए।

केराटाइटिस की समस्या से बचाव कैसे करें? (Ways to Prevent Keratitis?)

केराटाइटिस की समस्या से बचने के लिए आप इन बातों को ध्यान में जरूर रखें।

  • कॉन्टैक्ट लेंस इस्तेमाल करते समस्या सावधानी बरतें। इसे समय-समय पर स्टरलाइज जरूर करें।
  • रात में सोने से पहले लेंस जरूर निकाल लें, लेंस पहनकर सोने से बचें।
  • विटामिन ए से भरपूर खाद्य पदार्थों का सेवन करें।
  • धूप में जाते समय चश्मा जरूर लगायें।
  • अपनी आंखों को संक्रमण की चपेट में आने से बचाएं।
  • कॉन्टैक्ट लेंस पहनकर पानी में कभी भी न तैरें या नहाएं।
Keratitis-Causes-Symptoms-and-Treatment

इसके अलावा लक्षण दिखने पर अपनी आंखों की जांच जरूर कराएं और केराटाइटिस होने पर इलाज जरूर लें। यह एक ऐसी समस्या है जो चोट या संक्रमण की चपेट में आने से होती है। केराटाइटिस के सबसे ज्यादा मामले कॉन्टैक्ट लेंस पहनने वाले लोगों में देखे जाते हैं। ऊपर बताई गयी बातों को ध्यान में रखकर आप इस समस्या से बच सकते हैं। आंखों की सेहत और उनकी देखभाल से जुड़े किसी भी मुद्दे पर अगर आपके कोई सवाल हैं तो उन्हें आप कमेंट बॉक्स के जरिये हम तक भेज सकते हैं। हम आपके सवालों का जवाब देने की पूरी कोशिश करेंगे।

Read More Articles on Other Diseases in Hindi

Disclaimer