रोज के खाने में इन 5 हर्ब्स का प्रयोग करने से खाना बनेगा हेल्दी और स्वादिष्ट, जानें इनके फायदे

अपने खाने में इन 5 हर्ब्स को जरूर शामिल करना चाहिए क्योंकि भारतीय खानपान में सेहत और स्वाद के लिए इनका प्रयोग सैकड़ों सालों से किया जाता रहा है।

Monika Agarwal
आयुर्वेदWritten by: Monika AgarwalPublished at: Jun 20, 2021Updated at: Jun 20, 2021
रोज के खाने में इन 5 हर्ब्स का प्रयोग करने से खाना बनेगा हेल्दी और स्वादिष्ट, जानें इनके फायदे

भारतीय खानपान पुराने समय से ही बहुत अधिक सेहतमंद रहा है। हजारों सालों से भोजन में ऐसे मसालों का प्रयोग करना, जिन्हें आयुर्वेद में औषधि माना गया है साथ ही कई तरह की जड़ी-बूटियों और पत्तियों को खानपान में शामिल करना आदि ऐसी आदतें हैं, जिसके कारण पुराने लोग आज भी लंबा और ज्यादा स्वस्थ जीवन जीते हैं। लेकिन इन दिनों लोग पश्चिमी खानपान की तरफ ज्यादा भाग रहे हैं, जबिक इनमें मैदा, तेल, घी, चीनी और नमक का इस्तेमाल ज्यादा होता है, जिसके कारण ये शरीर के लिए अनहेल्दी साबित होते हैं। यही नहीं इन दिनों धूम्रपान और अल्कोहल का सेवन भी बढ़ा है। जिसकी वजह से  डाइजेस्टिव सिस्टम सबसे ज्यादा प्रभावित रहता है और इस वजह से लोग अक्सर कब्ज, एसिडिटी और पाचन संबंधी परेशानियों से घिरे रहते हैं। लेकिन क्या आप जानते हैं इन सभी पाचन संबंधी समस्याओं का उपचार आपकी रसोई में ही है। जी हां हम ऐसे बहुत से हर्ब्स (Herbs) हैं जिन्हें आजकल खाने की सजावट (गार्निशिंग) के लिए इस्तेमाल किया जाने लगा है, लेकिन अगर इनका रेगुलर सेवन किया जाए, तो ये सेहत के लिए बहुत फायदेमंद होते हैं।

हर्ब्स क्यों हैं खास (Speciality Of Herbs)

असल में यह है हर्ब्स (Herbs) बहुत से एंटीऑक्सिडेंट गुणों से युक्त होते हैं। वैसे भी यह मौसम मसालों का स्वाद लेने के लिए बिल्कुल उचित है क्योंकि गर्मियों के दौरान ही बहुत से हर्ब्स प्राकृतिक रूप से तैयार होते हैं और आप उनको ताजा रूप में खा सकते हैं। हर्ब्स (Herbs) का प्रयोग हम केवल सब्जी या कोई डिश बनाने में ही नहीं करते हैं बल्कि बहुत सी सॉस, सूप और बहुत सारी चीजें बनाने में इनका प्रयोग किया जाता है। आज हम आप को बताएंगे कि कैसे आप आपकी रसोई में पड़े कुछ मसालों और हर्ब्स का प्रयोग खाना बनाते समय कर सकते हैं जिससे आपकी डिश के स्वाद में तो चार चांद लगेंगे ही साथ में आप की डिश की गार्निशिंग होने के बाद वह ऐसी लगेगी कि देखते ही आपके परिवार वालों के मुंह में पानी आ जायेगा। 

celery

1. अजवाइन की पत्तियां या सेलेरी (Celery)

यह हर्ब आपकी डिश के स्वाद को तो बढ़ाएगी ही साथ में अगर आपकी मील बहुत हैवी है तो यह उसे थोड़ा लाइट करने में मदद करती है, ताकि आपका शरीर खाने को अच्छे से पचा सके। इसमें एंटी ऑक्सीडेंट्स (Anti oxidant) भरपूर मात्रा में पाए जाते हैं और विटामिन के और बीटा केरोटिन की भी अच्छी खासी मात्रा आप अजवाइन से प्राप्त कर सकते हैं।

इसे कैसे प्रयोग करें : अजवाइन का प्रयोग आप सीधे तौर पर कुछ सब्जियों में कर सकतै हैं या फिर आप इससे सॉस बना सकते हैं। इसके लिए आपको केवल ऑलिव ऑयल और लहसुन के साथ इसे मिक्स करना है। भुनी हुई सब्जियों, छाछ,मट्ठा आदि पर आप इसे गार्निश करके भी प्रयोग में ला सकते हैं।

इसे भी पढ़ें - आयुर्वेदाचार्य से जानें 'स्वर्ण भस्म' का सेवन करने के 7 फायदे और सही तरीका

2. सेज (Sage)

इस हर्ब (Herb) का स्वाद आपको ऐसा लगेगा मानो आप नींबू, पुदीना और काली मिर्च का थोड़ा थोड़ा स्वाद एक ही चीज में खा रहे हैं। इसके प्रयोग से आपको बहुत से स्वास्थ्य लाभ भी मिलते हैं जैसे यह आपकी याददाश्त तेज करती है, आपका मूड अच्छा बनाती है और आपका ध्यान केंद्रित करने में मदद करती है।

इसे कैसे प्रयोग करें : आपको इसकी पत्तियों को ऑलिव ऑयल के साथ थोड़ा थोड़ा तब तक भून लेना है जब तक यह थोड़ा क्रिस्पी नहीं हो जाती और अब आप इन पत्तियों को खट्टी या मीठी चीजों के साथ गार्निश कर सकते हैं। आप टमाटर की सॉस में भी कटी हुई सेज डाल सकते हैं। 

mint

3. पुदीना (Mint)

जब भी हम पुदीने की बात करते है तो हमारे मन में ताजगी के ख्याल आने लगते हैं। भारत में इसकी 600 वैरायटी पाई जाती हैं। यह आपकी पाचन में मदद करता है और पेट की हेल्थ के लिए बहुत फायदेमंद है तभी इसका प्रयोग जी मिचलाना या उल्टी होने के समय किया जाता है।

इसे कैसे प्रयोग करें : आप पुदीने की ताजी पत्तियों को खरबूजे, बैरी और बेरों व थोड़े से शहद के साथ गार्निश कर सकते हैं। आप इसे एक चाय के रूप में भी पी सकते हैं ताकि खाना खाने के बाद आपके पेट में पाचन अच्छा हो। 

chives

4. चाइव्स (Chives)

इनमें आपको थोड़ा थोड़ा प्याज और थोड़ा थोड़ा लहसुन जैसे स्वाद महसूस होगा। अगर आपको प्याज या लहसुन अच्छे नहीं लगते तो यह आपके लिए उनका एक अच्छा विकल्प है। इसमें एंटी इन्फ्लेमेटरी गुण भी पाए जाते हैं जो आपके शरीर के लिए बहुत लाभदायक होते हैं। 

इसे कैसे प्रयोग करें : कटे हुए चाइव को आप काजू की क्रीम के साथ ब्लेंड कर सकते हैं और इसे सैंडविच पर स्प्रेड करके खा सकते हैं। इसके साथ ही आप सलाद में भी इसका प्रयोग कर सकते हैं। 

5. रोजमेरी (Rosemary)

इसमें एक इनटॉक्सिन और बहुत सुहावनी सुगंध आती है जो हमारे दिमाग को अच्छे से काम करने में मदद करती है। हमारे मूड को अच्छा करने के साथ साथ यह हमारी याददाश्त भी तेज करती है। 

इसे भी पढ़ें - पित्त को बढ़ाते हैं ये 7 फूड्स, पित्त प्रकृति वाले न करें इनका सेवन

इसे कैसे प्रयोग करें : सब्जियों को रोस्ट या ग्रिल करने से पहले उनके ऊपर थोड़ा सा रोजमेरी छिड़क दें या इसके ब्लॉसम्स के साथ डिश को गार्निश करें।

ऊपर बताए हुए यह कुछ खास मसाले या कहिए हर्ब्स (Herbs) हैं जिनके प्रयोग से आपको बहुत से लाभ मिल सकते हैं। विशेषकर पाचन संबंधी। 

Read more Articles on Ayurveda in Hindi

Disclaimer