दूध में भिगोकर खाएं चिया सीड्स, मिलेंगे जबरदस्त फायदे

Chia Seeds with Milk Benefits in Hindi: चिया सीड्स पोषक तत्वों से भरपूर होते हैं। आप चिया सीड्स को दूध में मिलाकर खा सकते हैं। जानें फायदे-

Anju Rawat
Written by: Anju RawatPublished at: Sep 23, 2022Updated at: Sep 23, 2022
दूध में भिगोकर खाएं चिया सीड्स, मिलेंगे जबरदस्त फायदे

Chia Seeds with Milk Benefits in Hindi: दूध के फायदों के बारे में तो हर कोई ही जानता है। यहीं वजह है कि सभी लोग दूध को अपनी डाइट में जरूर शामिल करते हैं। कुछ लोग दूध को साधारण तौर पर पीते हैं, तो कुछ दूध में कुछ न कुछ मिलाकर पीना पसंद करते हैं। अधिकतर लोग दूध में केला, बादाम, काजू या फिर किशमिश आदि मिलाकर पीते हैं। लेकिन क्या आप जानते हैं दूध में चिया सीड्स (Chia Seeds in Hindi) मिलाकर भी लिया जा सकता है। जी हां, दूध में चिया सीड्स को भिगोकर खाने से सेहत को कई लाभ मिल सकते हैं। 

चिया सीड्स प्रोटीन, हेल्दी फैट, कैल्शियम, फाइबर और आयरन का काफी अच्छा सोर्स होते हैं। इसके अलावा चिया सीड्स में मैग्नीशियम, फॉस्फोरस, जिंक और विटामिन बी भी पाया जाता है। आइए, आरोग्य डाइट और न्यूट्रीशन क्लीनिक की डाइटीशियन डॉक्टर सुगीता मुटरेजा से जानते हैं दूध में चिया सीड्स मिलाकर खाने के फायदों (Doodh ke Sath Chia Seeds Khane ke Fayde) के बारे में- 

chia seeds for weight loss

 

दूध में चिया सीड्स भिगोकर खाने के फायदे- Chia Seeds with Milk Benefits in Hindi

वजन घटाए चिया सीड्स और दूध

अगर आप वजन घटाना चाहते हैं, तो दूध में चिया सीड्स (Chia Seeds with Milk Benefits in Hindi) मिलाकर ले सकते हैं। चिया सीड्स वेट लॉस करने में काफी मददगार होते हैं। चिया सीड्स में फाइबर अधिक होता है। ऐसे में अगर आप रोज सुबह नाश्ते में दूध और चिया सीड्स लेंगे, तो इससे आपको भूख कम लगेगा और वजन धीरे-धीरे कम होने लगेगा।

इसे भी पढ़ें- दूध में उबालकर खाएं अलसी के बीज, मिलेंगे ये 6 फायदे

कब्ज ठीक करे चिया सीड्स और दूध

कब्ज आजकल की एक आम समस्या है। कब्ज से छुटकारा पाने के लिए आप दूध में चिया सीड्स मिलाकर ले सकते हैं। 28 ग्राम चिया सीड्स में करीब 10 ग्राम डाइटरी फाइबर होता है। चिया सीड्स में मौजूद फाइबर भोजन को पचाने में मदद करता है। अपच से बचाता है और पेट साफ करता है।

हड्डियां मजबूत बनाए दूध और चिया सीड्स

हड्डियों को मजबूत बनाने के लिए भी आप दूध में चिया सीड्स मिलाकर ले सकते हैं। चिया सीड्स और दूध में कैल्शियम अधिक मात्रा में पाया जाता है। इससे हड्डियां स्ट्रॉन्ग बनती हैं। साथ ही चिया सीड्स में मैग्नीशियम और फॉस्फोरस भी होता है। कैल्शयिम, फॉस्फोरस और मैग्नीशियम हृड्डियों को मजबूत बनाते हैं और जोड़ों के दर्द से राहत दिलाते हैं।

फ्री रेडिकल्स से बचाए दूध और चिया सीड्स

चिया सीड्स में एंटीऑक्सीडेंट्स काफी अधिक मात्रा में पाए जाते हैं। ऐसे में अगर आप दूध में चिया सीड्स मिलाकर खाएंगे, तो इससे आपकी त्वचा और हेल्थ का फ्री रेडिकल्स से बचाव होगा। दूध और चीया सीड्स लेने से फ्री रेडिकल्स से होने वाले नुकसान से बचा जा सकता है।

खून की कमी दूर करे दूध और चिया सीड्स

अगर आपका हीमोग्लोबिन लेवल कम है, तो आप दूध में चिया सीड्स मिलाकर ले सकते हैं। चिया सीड्स में आयरन, जिंक और अन्य पोषक तत्व पाए जाते हैं। इससे शरीर में खून की मात्रा बढ़ सकती है।

इसे भी पढ़ें- दूध में उबालकर खाएं ड्राई फ्रूट्स, मिलेंगे ये 5 जबरदस्त फायदे

chia seeds with milk benefits

दूध में चिया सीड्स मिलाकर कैसे खाएं?

  • दूध में चिया सीड्स मिलाकर खाना हेल्थ के लिए काफी लाभकारी हो सकता है। आप दूध में चिया सीड्स को कई तरीकों से मिलाकर खा सकते हैं।
  • आप एक गिलास दूध में चिया सीड्स को रातभर भिगोकर रख सकते हैं। फिर सुबह इस दूध को पी सकते हैं।
  • इसके अलावा आप चिया सीड्स को गर्म दूध में भिगोकर भी खा सकते हैं। इसके लिए आप गर्म दूध लें। इसमें चिया सीड्स मिलाएं और 10-15 मिनट के लिए छोड़ दें। इसके बाद आप इस पी सकते हैं। 
  • अगर आपको दूध से एलर्जी है, तो आप बादाम, नारियल के दूध में चिया सीड्स मिलाकर ले सकते हैं।

दूध में चिया सीड्स मिलाकर कब खाएं?

आप दूध में चिया सीड्स मिलाकर सुबह खाली पेट या नाश्ते (Chia Seeds with Milk for Breakfast) में ले सकते हैं। इसके अलावा आप चाहें तो दूध और चिया सीड्स को रात को सोते समय (Chia Seeds with Milk at Night) भी ले सकते हैं। अगर आप चाहें तो चिया सीड्स को किसी स्मूदी या शेक आदि में भी मिलाकर ले सकते हैं। 

Chia Seeds with Milk in Hindi : दूध में चिया सीड्स मिलाकर लेने से वेट लॉस में मदद मिल सकती है। इसके अलावा कब्ज की समस्या दूर होती है, हड्डियां मजबूत बनती है और हीमोग्लोबिन भी बढ़ता है। इसलिए आप भी अपनी डाइट में दूध और चिया सीड्स को एक साथ मिलाकर जरूर लें।

Disclaimer