Doctor Verified

क्या छींक आने पर आपको भी होता है सीने में दर्द? डॉक्टर से जानें इसके 5 कारण

छींक आने पर चेस्‍ट पेन हो रहा है तो इसके कई कारण हो सकते हैं, जानते हैं इनके बारे में 

Yashaswi Mathur
Written by: Yashaswi MathurUpdated at: Feb 18, 2022 13:07 IST
क्या छींक आने पर आपको भी होता है सीने में दर्द? डॉक्टर से जानें इसके 5 कारण

कई लोगों को छींकने के दौरान चेस्‍ट पेन की समस्‍या होती है, ऐसा कई कारणों से हो सकता है। छींक आने पर र‍िब केज ऊपर और नीचे मूव करती है और आपको तेज सांस लेने की जरूरत पड़ती है और हार्ट पर जोर पड़ता है ज‍िसके कारण दर्द उठ सकता है। इस लेख में हम छींक आने पर चेस्‍ट पेन के कारण जानेंगे। इस व‍िषय पर बेहतर जानकारी के ल‍िए हमने लखनऊ के केयर इंस्‍टिट्यूट ऑफ लाइफ साइंसेज की एमडी फ‍िजिश‍ियन डॉ सीमा यादव से बात की।

sneezing

image source:google

1. गैस्ट्रोएसोफेगल रिफ्लक्स डिसीज (Gastroesophageal reflux disease)

एस‍िड र‍िफ्लक्‍स या हार्टबर्न के कारण भी छीक आने पर चेस्‍ट पेन हो सकता है। ये तब होता है जब आपके पेट में मौजूद एस‍िड ऊपर की ओर आ जाता है, इसके कारण आपको चेस्‍ट में पेन हो सकता है और छींक आने पर ये दर्द ज्‍यादा महसूस हो सकता है। कई लोगों की फूड पाइप बहुत नाजुक होती है और छींक आने के कारण एस‍िड र‍िफ्लक्‍स की समस्‍या बढ़ सकती है और आपको जलन भी महसूस हो सकती है। ज‍िन लोगों का वजन ज्‍यादा होता है या जो लोग फैटी फूड खाते हैं उनमें ये समस्‍या ज्‍यादा कॉमन होती है।  

इसे भी पढ़ें- कार्डियक अरेस्ट क्‍यों होता है? कार्डियोलॉजिस्ट से जानें इसका कारण और बचाव का तरीका

2. फेफड़ों में संक्रमण (Lungs infection)

फेफड़ों में संक्रमण के कारण भी छींक आने पर चेस्‍ट पेन की समस्‍या हो सकी है, अगर आपको लंग्‍स में इंफेक्‍शन के लक्षण हैं तो उसमें थकान, मसल्‍स में दर्द, बुखार, ड्राय या वेट कफ की समस्‍या हो सकती है। फेफड़ों में संक्रमण के कारण न‍िमोन‍िया या टीबी भी हो सकता है इसल‍िए इस लक्षण को नजरअंदाज न करवाएं और तुरंत डॉक्‍टर से सलाह लें। रेस्‍परेटरी ट्रैक्‍ट इंफेक्‍शन के चलते भी ये लक्षण नजर आ सकते हैं, आपको जल्‍द से जल्‍द इलाज करवाना चाह‍िए।

3. अर्थराइट‍िस (Arthritis)

अगर आपको ज्‍वॉइंट की समस्‍या है तो भी छींंक आने के दौरान हार्ट में पेन हो सकता है। छींक आने से हार्ट पर जोर पड़ता है और अगर पहले से कोई समस्‍या है तो दर्द अध‍िक बढ़ जाता है ज‍िसके कारण आपको लगता है क‍ि छींक का चेस्‍ट पेन से क्‍या कनेक्‍शन है पर छींक आने पर हार्ट को जोर लगाना पड़ता है ज‍िसके कारण पेन उठ सकता है पर ये क‍ेेवल उस कंडीशन में होता है जब आपको कोई बीमारी हो। अर्थराइ‍ट‍िस का लक्षण चेस्‍ट पेन भी है।

4. एलर्ज‍िक अस्‍थमा (Allergic asthma)

chest pain and sneezing

image source:google

कुछ लोगों को एलर्ज‍िक अस्‍थमा होने पर छींक के साथ चेस्‍ट पेन की श‍िकायत होती है। अस्‍थमा आपके फेफड़े और चेस्‍ट को प्रभाव‍ित कर सकता है। एलर्ज‍िक अस्‍थमा होने पर आपको छींंक आना, चेस्‍ट पेन, सांस लेने में परेशानी, थकान आद‍ि लक्षण नजर आ सकते हैं। अगर जांच में ये समस्‍या न‍िकलती है तो आपको आपको अस्‍थमा और एलर्जी दोनों के ल‍िए दवा सकते हैं। इस दौरान आपको धूल और गंदगी से खास बचाव करना चाह‍िए नहीं तो लक्षण गंभीर हो सकते हैं।  

इसे भी पढ़ें- हार्ट में स्टेंट डालना कितना सुरक्षित है? जानें डॉक्टर की राय

5. हार्ट की प्रॉब्‍लम (Heart disease)  

चेस्‍ट पेन होने का कारण हार्ट से जुड़ी श‍िकायत भी हो सकती है। अगर आपको चेस्‍ट पेन हो रहा है तो हो सकता है क‍ि आपके हार्ट को पर्याप्‍त मात्रा में ऑक्‍सीजन न म‍िल रही हो, चेस्‍ट में पेन स्‍ट्रेस के दौरान भी हो सकता है और अगर इस दौरान आपको लगातार छींक आ रही है तो चेस्‍ट में पेन बढ़ भी सकता है। ऐसे में आपको आराम करना चाह‍िए। अगर पेन बढ़ता है तो डॉक्‍टर के पास जाएं, ये हार्ट अटैक के लक्षण भी हो सकते हैं। अगर छींक के दौरान हार्ट की समस्‍या के चलते दर्द हो रहा है तो आपको चेस्‍ट में प्रेशर या टाइटनेस महसूस होगी।   

कभी-कभी वायरल इंफेक्‍शन होने पर भी छींक के दौरान चेस्‍ट में पेन उठ सकता है, आपको ये समस्‍या एक द‍िन से ज्‍यादा हो तो डॉक्‍टर को द‍िखाएं।

main image source:google

Disclaimer