Doctor Verified

क्‍या नमक पानी से टॉन्सिल ठीक किया जा सकता है? जानें एक्‍सपर्ट की राय

कई लोग ऐसा मानते हैं क‍ि नमक का पानी पीने से टॉन्‍स‍िल की समस्‍या दूर हो जाती है। डॉक्‍टर से जानते हैं पूरा सच।

Yashaswi Mathur
Written by: Yashaswi MathurPublished at: Aug 30, 2022Updated at: Aug 30, 2022
क्‍या नमक पानी से टॉन्सिल ठीक किया जा सकता है? जानें एक्‍सपर्ट की राय

टॉन्‍स‍िल में समस्‍या होने पर गले के प्रभाव‍ित भाग में बैक्‍टीर‍ियल इंफेक्‍शन होता है। मौसम में बदलाव के दौरान टॉन्‍स‍िल्‍स की समस्‍या बढ़ जाती है। टॉन्‍स‍िल होने पर गले में दर्द, खराश और जलन महसूस होती है। समस्‍या ज्‍यादा बढ़ने पर मुंंह खोलने में दर्द या खाना न‍िगलने में द‍िक्‍कत हो सकती है। कई लोग टॉन्‍स‍िल्‍स का इलाज करने के ल‍िए घरेलू उपायों की मदद लेते हैं। इन घरेलू उपायों में सबसे कॉमन है नमक का पानी पीना। लेक‍िन क्‍या नमक का पानी पीने से वाकई टॉन्‍स‍िल्‍स की समस्‍या दूर होती है? इस व‍िषय पर हम आगे व‍िस्‍तार से बात करेंगे। इस व‍िषय पर बेहतर जानकारी के ल‍िए हमने लखनऊ के केयर इंस्‍टिट्यूट ऑफ लाइफ साइंसेज की एमडी फ‍िजिश‍ियन डॉ सीमा यादव से बात की।

salt water benefits

क्‍या नमक का पानी टॉन्‍स‍िल का इलाज है?

नहीं ये कहना सही नहीं होगा। डॉक्‍टरों की मानें, तो टॉन्‍स‍िल की समस्‍या का इलाज नमक का पानी नहीं है, लेकि‍न नमक के पानी का सेवन करने से टॉन्‍स‍िल के दर्द से राहत म‍िलती है। नमक के पानी से गरारे करने पर भी आराम म‍िलता है। टॉन्‍स‍िल की समस्‍या बढ़ाने वाले बैक्‍टीर‍िया को खत्‍म करने के ल‍िए नमक के पानी सेवन क‍िया जाता है। गले में दर्द की श‍िकायत दूर करने के ल‍िए भी नमक का पानी फायदेमंद माना जाता है। 

इसे भी पढ़ें- वजन घटाने के लिए रोजाना खाली पेट पिएं नमक का पानी, जानें इस देसी नुस्खे के 5 फायदे

गले के ल‍िए सॉल्‍ट वॉटर के फायदे 

कुछ लोगों का मानना है क‍ि टॉन्सिल के इलाज में नमक का पानी पीना फायदेमंद होता है। आप आधे कप गुनगुने पानी में 1 टीस्‍पून नमक म‍िलाएं। इस पानी का सेवन करने से गले का ब्‍लड फ्लो बेहतर होगा और इम्‍यून‍िटी मजबूत होगी साथ ही दर्द कम हो जाएगा। आप एक द‍िन में 1 से 2 बार नमक वाला गुनगुना पानी पी सकते हैं। ध्‍यान रखें क‍ि नमक के पानी के अलावा आपको शरीर में सादे पानी की कमी नहीं होने देनी है।  

टॉन्‍स‍िल का इलाज क्‍या है?

बैक्‍टीर‍ियल इंफेक्‍शन के कारण टॉन्‍स‍िल की समस्‍या होती है। टॉन्‍स‍िल के इलाज में डॉक्‍टर आपको एंटीबैक्‍टीर‍ियल दवाएं दे सकते हैं। एंटीबायोट‍िक्‍स का पूरा कोर्स करें। इसे बीच में छोड़ने से समस्‍या बढ़ सकती है। टॉन्‍स‍िल्‍स की गंभीर समस्‍या स्‍थ‍ित‍ि में सर्जरी भी की जाती है। एक्‍यूट टॉन्‍स‍िल 3 से 4 द‍िन में ठीक हो जाता है। र‍िकरंट टॉन्‍स‍िल की समस्‍या साल में कई बार हो सकती है और क्रॉन‍िक टॉन्‍स‍िल तब होता है जब बीमारी लंबे समय से हो।     

अगर आपको हाई बीपी की समस्‍या है, तो नमक के पानी का सेवन करने से बचना चाह‍िए। टॉन्सिल में कोई भी घरेलू उपाय खुद से ट्राई करने के बजाय डॉक्‍टर से सलाह लें। 

Disclaimer