क्या प्रेग्नेंसी में बिकनी वैक्स करवाना चाहिए? जानें इसके फायदे, नुकसान और सावधानियां

प्रेग्नेंसी के दौरान प्यूबिक एरिया के बाल साफ करने के लिए वैक्स कराना कितना सही है? जानें एक्सपर्ट की राय।

Written by: Updated at: Oct 22, 2022 15:30 IST
क्या प्रेग्नेंसी में बिकनी वैक्स करवाना चाहिए? जानें इसके फायदे, नुकसान और सावधानियां

प्रेग्नेंसी एक ऐसा समय होता है, जब महिलाओं के अंदर बहुत सारे बदलाव आते हैं। इस समय महिलाओं में वजन बढ़ने, मूड स्विंग होने, क्रेविंग्स होने और हार्मोंस असंतुलन होने जैसी कई समस्याएं होती हैं। कुछ महिलाओं में प्रेग्नेंसी के दौरान शरीर के बाल भी बहुत तेजी से बढ़ते हैं। आपको बता दें ऐसा इसलिए होता है क्योंकि ये प्रेगनेंसी के दौरान एस्ट्रोजन हार्मोन में असंतुलन आ जाता है। इस दौरान कई प्रेग्नेंट महिलाओं को  चिन, होंठ, निपल्स, पेट और योनि क्षेत्र में अतिरिक्त बाल आ जाते हैं। इन अनचाहे बालों को छिपाने के लिए महिलाएं कई प्रयास करती हैं। सबसे मुश्किल होता है योनि के बालों को निकालना। कुछ महिलाएं प्रेग्नेंसी में बिकनी वैक्स करवाती हैं। वहीं कुछ महिला इस दुविधा में रहती हैं कि प्रेग्नेंसी में बिकनी वैक्स सेफ या नहीं। आइये जानते हैं क्लाउडनाइन हॉस्पिटल की सीनियर कंसलटेंट और गायनेकोलॉजी डॉ रितु सेठी से कि प्रेग्नेंसी में बिकनी वैक्स कराना चाहिए या नहीं और क्या दुष्प्रभाव हैं? 

क्या है बिकनी वैक्स? 

आमतौर पर महिलाएं हाथ और पैरों पर वैक्स करवाती हैं। वैक्स द्वारा हाथ और पैरों के बालों को जड़ से हटाया जाता है। यह एक कॉस्मेटिक प्रक्रिया होती है। इसी तरह महिलाओं के प्यूबिक एरिया(योनि वाली जगह) से भी वैक्स की मदद से बाल हटाए जाते हैं। इसे बिकनी वैक्स कहा जाता है। बताते चलें कि वैक्स दो प्रकार की होती है सॉफ्ट वैक्स और हार्ड वैक्स। सॉफ्ट वैक्स को स्किन पर लगाकर पेपर स्ट्रिप से इसे खींचा जाता है। वहीं दूसरी तरफ हार्ड वैक्स को स्किन पर लगाकर सीधे हाथों से खींचा जाता है। इन दोनों ही तरीकों से सभी बाल निकल जाते हैं। बता दें प्यूबिक एरिया की सफाई न करने या बाल न निकालने से कई तरह के इंफेक्शन, स्किन से जुड़ी समस्याएं, खुजली आदि का खतरा बढ़ जाता है। आज के समय में कई महिलाएं प्रेग्नेंसी के दौरान बिकनी वैक्स करवाती हैं। 

इसे भी पढ़ें- क्‍या आप भी करते हैं प्‍यूबिक शेविंग? जानें कटने, जलन या इंंफेक्‍शन से बचने के लिए किन बातों का रखें ध्‍यान

बिकनी वैक्स से फायदे

  • बिकनी एरिया को साफ रखने से संक्रमण नहीं फैलता है। साथ ही बिकनी वैक्स कराने से यह जगह साफ रहती है। 
  • प्रेग्नेंसी के दौरान बिकनी एरिया की हेयर ग्रोथ बहुत फास्ट होती है। जिससे इस हिस्से में खुजली होती है। ऐसे में वैक्स कराना फायदेमंद होता है। 
  • वैक्स कराने से हीट रैशेज की संभावना को कम होती है।
  • बिकनी वैक्स कराने से फंगल इंफेक्शन से बचा जा सकता है।
  • बिकनी एरिया में रेजर या कॉस्मेटिक बालों को हटाने वाली क्रीम के उपयोग की तुलना में वैक्स जल्दी रिजल्ट देती है। 
  • बिकिनी वैक्स से योनि की स्किन सॉफ्ट हो जाती है, जो डिलीवरी के समय बेहद लाभदायक होता है। 
bikini wax

बिकनी वैक्स के नुकसान

  • प्रेग्नेंसी के दौरान योनि एरिया की स्किन बेहद सेंसिटिव हो जाती है। इस समय वैक्स कराने से बहुत दर्द होता है। 
  • कई महिलाओं को बिकनी वैक्स करवाने के बाद रैशेज हो जाते हैं।
  • कई बार बिकनी वैक्स करवाते समय योनि का एरिया गर्म वैक्स की वजह से जल जाता है, जिस कारण पीएच संतुलन बिगड़ सकता है। 
  • बिकनी वैक्स से कई बार स्किन कट जाती है, जिससे फॉलिकुलिटिस और फोड़े हो सकते हैं। 

 वजाइना की सफाई और देखभाल कैसे करें

  • योनि पर रोज मॉइस्चराइजर लगाएं।
  • योनि को साफ और सूखा रखें।
  • अच्छी कंपनी और सूती कपड़े के अंडरवियर पहनें। 
  • तीसरी तिमाही या कहें अंतिम तिमाही के दौरान पेशाब बहुत आता है। जिस वजह से बार-बार टॉयलेट जाना पड़ता है। इसकी वजह से रैशेज हो जाते हैं। इसके लिए आप पैंटी लाइनर पहनें।
  • वैक्सिंग कराने के बजाय प्यूबिक बालों को ट्रिम करें।
  • प्रेग्नेंसी में टाइट कपड़े और अंडरवियर पहनने से बचें। 

इस तरह आप प्रेगनेंसी के दौरान विशेष साफ सफाई की दृष्टि से बिकनी वैक्स करवा सकती हैं।

Disclaimer