सुबह नाश्ते से लेकर रात के खाने तक ये 9 मिथ वजन कम करना बना देते हैं मुश्किल, कहीं आप तो नहीं इनका शिकार

वजन कम करने को लेकर लोगों के बीच बहुत से मिथ हैं और ये मिथ अक्सर लोगों को परेशान करते हैं। जानें कहीं आप तो नहीं हो रहे हैं इनका शिकार। 

Jitendra Gupta
Written by: Jitendra GuptaPublished at: May 25, 2020
सुबह नाश्ते से लेकर रात के खाने तक ये  9 मिथ वजन कम करना बना देते हैं मुश्किल, कहीं आप तो नहीं इनका शिकार

वजन कम करना लोगों के लिए किसी टेढ़ी खीर से कम नहीं है क्योंकि हम अनजाने में ऐसी गलतियों का शिकार हो जाते हैं, जो हमारे इस सपने को तोड़ देती हैं। जी हां, वजन कम करने को लेकर लोगों के बीच कई मिथ हैं, जिनकी सच्चाई जानना बेहद जरूरी है। ऐसे में जरूरी है इनपर से पर्दा उठाना। इस लेख में हम आपको ऐसे ही मिथ के बारे में बता रहे हैं, जो वजन कम करने में आपको मदद नहीं करते। तो आइए जानते हैं इनके बारे में।              

 CARB

मिथः कार्ब्स आपकी सेहत को नुकसान पहुंचाते हैं और इनके सेवन से आप मोटे हो सकते हैं।

सचः कार्ब्स आपके शरीर में प्रोटीन और फैट जैसे किसी अन्य पोषक तत्वों के रूप में महत्वपूर्ण और बेहद जरूरी पोषक तत्व हैं। कार्ब्स आपको काम करने के लिए ऊर्जा प्रदान करते हैं, यह आपके दिमाग को कार्य करने की शक्ति प्रदान करते हैं  और आपके शरीर को कार्य करने के लिए आवश्यक ईंधन देते हैं।

मिथः वजन कम करने के लिए आपको भूखा रहना होगा।

सचः जब आप यह सोचकर भूखे रह जाते हैं कि ऐसा करने से आप अपना वजन कम कर लेंगे, तो आपके शरीर में चलने वाली आंतरिक चीजें आपके शरीर के मेटाबॉलिज्म को कमजोर करने का काम करती हैं क्योंकि उन्हें काम करने के लिए भोजन की आवश्यकता होती है। भोजन नहीं करने से आप बहुत अधिक मात्रा में शरीर की मांसपेशियों को दुबला बना देते हैं और फैट की मात्रा को कम कर देते हैं। ये वजन कम करने का सबसे अस्वास्थ्यकर तरीका यह है।   

इसे भी पढ़ेंः पानी पीने और मोटापा कम करने के बीच क्‍या है संबंध? जानिए वजन कम करने में कैसे मददगार है पानी

मिथः ग्रीन टी फैट बर्न करने में करती है मदद। 

सचः यह सिर्फ एक पेय है, जो कम से कम कैलोरी के साथ एंटीऑक्सिडेंट और अन्य पोषक तत्वों से भरपूर होता है। इसके अलावा, ग्रीन टी में मौजूद कंपाउंड ईजीसीजी (EGCG) वजन कम करने में मदद करता है लेकिन ये बहुत कम होता है। अगर आप हर दिन लगभग 15 कप ग्रीन टी का सेवन करना चाहते हैं, तो आप वज़न कम करने के लिए एक अनहेल्दी चाय का सेवन कर रहे हैं। केवल एक चीज जो आपके शरीर का फैट कम करेगी वह है कैलोरी मं कटौती। वजन कम करने के लिए आपको सेवन से ज्यादा कैलोरी बर्न करने पड़ेगी। 

मिथः फैट लॉस के लिए केटो डाइट है बेस्ट ।

सचः बात अगर चर्बी कम करने की आती है तो निश्चित रूप से ये सबसे अच्छी डाइट नहीं है क्योंकि आप इसे पूरी जिंदगी नहीं खा सकते। इसी प्रकार जीवन भर के लिए कार्ब्स छोड़ने वाले अधिकांश लोगों के लिए ये निश्चित रूप से असंभव है। चर्बी कम करने के लिए ज्यादातर लोगों के लिए ये डाइट कभी अच्छा नहीं रही है। इसके अलावा, कीटो के कुछ दुष्प्रभाव भी हैं जैसे कोलेस्ट्रॉल, एलडीएल, आदि की मात्रा को बढ़ाना। 

मिथः फैट आपको मोटा बनाता है।

सचः स्वस्थ फैट आपको कभी मोटा नहीं बनाएंगे, वसा शरीर की त्वचा, ऊतकों, आपके शरीर के इष्टतम हार्मोनल उत्पादन की मरम्मत के लिए बहुत जरूरी होता है।       

GLUTEN

मिथः ग्लूटेन आपको मोटा बनाता है इसलिए साबुत गेहूं की रोटी खाने से बचें।

सचः अगर आपको ग्लूटेन से एलर्जी है, तो आपको अपने आहार में ग्लूटेन के सेवन से बचना चाहिए। लेकिन अगर आप पूरी तरह से ठीक और स्वस्थ हैं तो आपको अपनी डाइट में किसी भी प्रकार से ग्लूटेन से बचने की कोई आवश्यकता नहीं है। 

इसे भी पढ़ेंः आलिया की तरह दिखना चाहती हैं स्लिम-ट्रिम तो गर्मियों में इस तरह करें चिया सीड्स का सेवन, जिद्दी फैट होगा कम

मिथः  फैट बर्न करने में जूस बेहतर।

सचः जब आप किसी फल या सब्जी का रस निकालते हैं, तो उनमें से सबसे महत्वपूर्ण पोषक तत्व फाइबर को हटा देते हैं और इसलिए फल या किसी भी सब्जी को खाना बेहतर होता है, बजाए उसका जूस पीने के।       

मिथः वे प्रोटीन आपके शरीर के लिए सुरक्षित नहीं।

सचः वे प्रोटीन पनीर के प्रसंस्करण के बाद छोड़े गए पानी से सूखाया जाता है, जिसे "वे" कहा जाता है, क्योंकि वे प्रोटीन से भरपूर होता है और इस प्रकार इसे खाना आसान होता है। स्वाद के लिए इसे और भी बेहतर बनाने के लिए इनमें कृत्रिम स्वाद मिलाया जाता है। इसलिए कोई भी वे प्रोटीन खराब नहीं होता है बस ब्रांड और उसकी गुणवत्ता सुनिश्चित करें।

मिथः  केला और आम आपको मोटा बनाता है, इनका सेवन न करें।

सचः दोनों फल फाइबर, एंटीऑक्सिडेंट और विभिन्न आवश्यक पोषक तत्वों का एक बड़ा स्रोत हैं और इनमें कार्ब्स की अच्छी मात्रा पाई जाती है। आप उन्हें सुरक्षित रूप से उपभोग कर सकते हैं, लेकिन बस अपने आहार से अन्य कार्ब्स स्रोत जैसे चावल और रोटी को नियंत्रित करें, जैसे कि अगर आप 4 रोटी नहीं खा सकते हैं तो आप एक से अधिक आम खा सकते हैं। इसलिए 1 रोटी और आम की अच्छी मात्रा के बीच  संतुलन बनाएं।

Read More Article On Weight Management In Hindi

Disclaimer